सेलेब्स और हार्ट अटैक:46 साल की उम्र में हार्ट अटैक से गई पुनीत राजकुमार की जान, सिद्धार्थ शुक्ला से लेकर राज कौशल तक की भी कम उम्र में इसी वजह से हुई थी मौत

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

कन्नड़ फिल्म एक्टर पुनीत राजकुमार का जिम में वर्कआउट के दौरान दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया है। हार्ट अटैक के तुरंत बाद 46 साल के पुनीत को बेंगलुरु के विक्रम अस्पताल में भर्ती कराया गया था। वैसे, राजकुमार की तरह बॉलीवुड में भी कई बड़े सेलेब्स हार्ट अटैक के चलते अपनी जान गवां चुके हैं। आइए नजर डालते हैं कुछ ऐसे ही सेलेब्स पर...

सिद्धार्थ शुक्ला

सिद्धार्थ का 2 सितंबर को 40 साल की उम्र में निधन हो गया था। सिद्धार्थ ने कथित तौर पर लगभग 3 बजे असहज महसूस किया था और बाद में उन्हें सुबह हार्ट अटैक की वजह से अस्पताल ले जाया गया था। सिद्धार्थ के असामयिक निधन की खबर सुनकर उनके करीबी दोस्त और इंडस्ट्री में उनके साथ काम करने वाले साथी भी शॉक्ड हैं। सिद्धार्थ बिग बॉस 13 में शहनाज गिल के सबसे करीबी दोस्त थे।

राज कौशल

मंदिरा बेदी के पति राज कौशल का 30 जून को 49 साल की उम्र में आकस्मिक निधन हो गया था। राज को सुबह 4:30 बजे हार्ट अटैक आया था जिसके बाद उनकी मौत हो गई थी। राज ने एक्टर के तौर पर अपने करियर की शुरुआत की थी। इसके बाद उन्होंने अपने करियर में 'प्यार में कभी कभी', 'शादी का लड्डू' और 'एंथनी कौन है' जैसी फिल्मों का डायरेक्शन भी किया।

इंदर कुमार

फिल्म 'मासूम' से डेब्यू करने वाले एक्टर इंदर कुमार का 28 जुलाई,2018 को निधन हो गया था। वह नींद में ही चल बसे थे और बाद में उनकी पत्नी पल्लवी ने खुलासा किया था कि उनकी जान हार्ट अटैक की वजह से गई थी। इंदर की उम्र केवल 44 साल थी।

आरती अग्रवाल

साउथ फिल्मों की एक्ट्रेस आरती अग्रवाल की मौत हार्ट अटैक की वजह से हुई थी। आरती की मौत 31 साल की उम्र में 6 जून, 2015 को हुई थी। उन्होंने बॉलीवुड में फिल्म 'पागलपन' (2001) और साउथ में फिल्म 'नुव्वु नाकु नाचव' (2001) से डेब्यू किया था। उन्होंने प्रभास के साथ भी स्क्रीन शेयर की थी। वे आखिरी बार 2009 में आई फिल्म 'पोसनी जेंटलमैन' में नजर आईं थी।

फारुख शेख

गुजरे जमाने के मशहूर अभिनेता रहे फारुख शेख का 27 दिसंबर 2013 को दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया था। 65 वर्षीय इस अभिनेता ने दुबई के अस्‍पताल में अंतिम सांस ली थी।

25 मार्च 1948 को जन्‍मे फारुख शेख ने 1973 में 'गरम हवा' से अभिनय की शुरुआत की थी। यह फिल्‍म काफी हिट हुई थी। इसके बाद उन्‍होंने 1977 में आई 'शतरंज के खिलाड़ी', 1979 में 'नूरी', 1981 में 'चश्‍मे बद्दूर', 1983 में 'किसी से न कहना' में शानदार अभिनय किया था। फारुख शेख ने अभिनेत्री दीप्ति नवल के साथ काफी फिल्‍मों में काम किया था।

रीमा लागू

18 मई 2017 को एक्ट्रेस रीमा लागू का निधन हो गया था। उन्हें हार्ट अटैक के बाद कोकिलाबेन हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था जहां रात 3 बजकर 15 मिनट पर उन्होंने आखिरी सांस ली थी। रीमा ने 30 से ज्यादा फिल्मों में मां का रोल किया था। इनमें से 7 फिल्मों में वे सलमान खान की मां थीं। इनमें 'मैंने प्यार किया', 'साजन', 'पत्थर के फूल', 'निश्चय', 'हम साथ साथ हैं', 'जुड़वां' और 'शादी करके फंस गया यार' शामिल हैं। रीमा ने हिंदी के अलावा मराठी फिल्मों में भी काम किया था।

ओम पुरी

बॉलीवुड एक्टर ओम पुरी की मौत 6 जनवरी, 2017 को हो गई थी। 66 साल की उम्र में दिल का दौरा पड़ने से उनका निधन हो गया था। वर्सेटाइल एक्टर और पद्मभूषण से सम्मानित ओमपुरी का जन्म 18 अक्टूबर, 1950 को पटियाला में हुआ था। बॉलीवुड के साथ कई हॉलीवुड फिल्मों में काम कर चुके ओम की पर्सनल लाइफ काफी कॉन्ट्रोवर्शियल रही थी। ओम पुरी ने अपने फिल्मी सफर की शुरुआत मराठी नाटक पर आधारित फ़िल्म 'घासीराम कोतवाल' से की थी। 1980 में रिलीज फ़िल्म 'आक्रोश' ओम पुरी के करियर की पहली हिट फ़िल्म साबित हुई।

देव आनंद

बॉलीवुड के एवरग्रीन स्टार देव आनंद की मौत 3 दिसंबर, 2011 को लंदन में हार्ट अटैक की वजह से हुई थी। पंजाब के गुरदासपुर में जन्मे देव आनंद हिंदी सिनेमा में तकरीबन छह दशक तक दर्शकों पर अपने हुनर, अदाकारी और रूमानियत का जादू बिखेरने वाले अभिनेता थे। उन्होंने 'गाइड', 'हरे रामा हरे कृष्णा', 'जॉनी मेरा नाम', 'सीआईडी' समेत कई फिल्मों में काम किया था।

खबरें और भी हैं...