कोरोना टेल्स:19 दिन से क्वारैंटाइन हैं राहुल रॉय: ब्रेन स्ट्रोक के बाद कोरोना ने पकड़ा, लेकिन दिलचस्प है टेस्टिंग की कहानी

6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

आशिकी फेम एक्टर राहुल रॉय ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट के जरिए बताया है कि वे, उनकी बहन प्रियंका और बहनोई कोरोना वायरस संक्रमित हो गए हैं, वह भी तब जब वे लगातार लम्बे समय से घर पर ही हैं। गौरतलब है कि पिछले साल नवंबर में राहुल रॉय को लद्दाख में 'एलएसी' की शूटिंग के दौरान ब्रेन स्ट्रोक हुआ था, जिसके बाद से वे लगातार रिकवरी मोड पर हैं।

RTPCR में पॉजिटिव, एंटीजन में निगेटिव, तीसरी रिपोर्ट आई ही नहीं
राहुल ने लिखा- मेरी कोविड कहानी, हमारे रहने का फ्लोर 27 मार्च को सील कर दिया गया था, जब एक पड़ोसी पॉजिटिव आए थे। सुरक्षा की दृष्टि से हमें 14 दिन के लिए अपने घरों में कैद कर दिया गया। मुझे परिवार के साथ 11 अप्रैल को दिल्ली जाना था, इसलिए 7 अप्रैल को हमने RTPCR करवाया। 10 अप्रैल को हम सब पॉजिटिव पाए गए।

राहुल ने आगे बताया- हमें कोई लक्षण नहीं थे। हमें पता चला कि बीएमसी ने पूरी सोसायटी की टेस्टिंग अरेंज की है तो हमने फिर से एंटीजन टेस्ट करवाया। और हम सब निगेटिव रहे। कुछ वक्त के बाद हमने RTPCR के लिए सैम्पल दिया, लेकिन अभी तक उसकी रिपोर्ट हम तक नहीं पहुंची है। बीएमसी के अधिकारी हमारे पास आइसोलेशन फॉर्म साइन करवाने और घर सैनिटाइज करने आए। वे डॉक्टर हमसे बिजनेस, ऑफिस और ट्रैवल हिस्ट्री के बारे में पूछ रहे थे। पता नहीं इसका क्या कनेक्शन था। मुझे हॉस्पिटल जाने की सलाह दी गई, तब मैंने कहा कि हमें कोई लक्षण नहीं हैं। उन्होंने हमें ऑक्सीजन लेवल का चार्ट बनाने की सलाह दी। जो मैं ब्रेन स्ट्रोक के बाद हॉस्पिटल से आने के बाद लगातार कर रहा हूं।

मैं जानता हूं कि कोविड है, लेकिन मैं और मेरा परिवार कैसे इसके संपर्क में आ गया बिना घर से निकले। बिना लोगों से मिले। बिना वॉक पर गए। ये बड़ा सवाल है जिसका हमें कभी जवाब नहीं मिलेगा। मेरी बहन प्रियंका एक योगिनी है। ब्रीदिंग एक्सपर्ट भी। जो प्राचीन ब्रीदिंग टेक्नीक्स की प्रैक्टिस करती है। वह पिछले 3 महीने से घर से बाहर भी नहीं गई। वह भी बिना किसी लक्षण के पॉजिटिव आई है। अब हम दूसरी बार 14 दिन के क्वारैंटाइन टाइम के खत्म होने का इंतजार कर रहे हैं, ताकि हमारा दोबारा टेस्ट हो सके।

खबरें और भी हैं...