राम गोपाल वर्मा की मुश्किलें बढ़ीं:राष्ट्रपति उम्मीदवार द्रोपदी मुर्मू पर टिप्पणी करना पड़ा भारी, लखनऊ में दर्ज हुआ केस

5 महीने पहले

फिल्ममेकर राम गोपाल वर्मा अक्सर अपने बयानों के लिए जाने जाते हैं। हाल ही में उन्होंने एनडीए की तरफ से राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू पर एक विवादित ट्वीट किया। इस ट्वीट के बाद से उनकी मुश्किलें बढ़ती ही जा रही हैं।

रामू पर लखनऊ के हजरतगंज के मनोज सिंह ने कोतवाली थाना में दर्ज करवाई है। उनपर IT एक्ट सहित कई धाराओं में मुकदमा दर्ज हुआ है। इससे पहले पिछले शुक्रवार को तेलंगाना के भाजपा नेता गुडूर रेड्डी ने हैदराबाद के एबिड्स पुलिस स्टेशन में राम गोपाल वर्मा के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी।

बीजेपी लीडर ने कड़ी कार्रवाई की मांग की
रामू के ट्वीट को संज्ञान लेते हुए तेलंगाना के बीजेपी नेता गुडूर रेड्डी ने हैदराबाद के एबिड्स पुलिस स्टेशन में राम गोपाल वर्मा के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है। उन्होंने वर्मा पर एनडीए की उम्मीदवार के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी का आरोप लगाया है। इसके साथ आंध्र प्रदेश के भाजपा प्रमुख सोमू वीरराजू नेभी वर्मा पर कड़ी कार्रवाई की मांग की है। रिपोर्ट्स के मुताबिक उनके ऊपर एससी/एसटी एक्ट के तहत कार्रवाई हो सकती है।

क्या है विवादित ट्वीट
राम गोपाल वर्मा ने अपने ट्वीट में लिखा, अगर द्रौपदी राष्ट्रपति हैं तो पांडव कौन हैं? उससे भी ज्यादा जरुरी ये है कि कौरव कौन हैं? इस ट्वीट के बाद कई लोग अपत्ति जता रहे हैं। इसके साथ ही सोशल मीडिया में भी लोग कानूनी कार्रवाई की मांग भी कर रहे हैं।

रामू की सफाई
हालांकि बढ़ते विवाद को देखते हुए रामू ने ट्वीट कर अपनी सफाई दी है। उन्होंने लिखा, यह विडंबना के तौर पर कहा गया है और इसका कोई अन्य मकसद नहीं है। महाभारत में द्रौपदी मेरा पंसदीदा किरदार है लेकिन यह नाम बहुत रेयर है, मुझे इससे जुड़े किरदार याद आ गए। मेरा इदारा किसी की भी भावनाओं को ठेस पहुंचाने का नहीं था।

खबरें और भी हैं...