पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

डेथ एनिवर्सरी:50 साल के फिल्मी करियर में ऋषि कपूर ने 92 रोमांटिक फिल्मों में किया था काम, 'अग्निपथ' में विलेन बनकर जीता था अवॉर्ड

2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

ऋषि कपूर की आज पहली डेथ एनिवर्सरी है। 30 अप्रैल, 2020 को 67 साल की उम्र में उनका निधन हो गया था। वे कैंसर से जूझ रहे थे। 2018 में ऋषि कपूर को कैंसर हुआ था। इलाज के लिए वो अमेरिका गए थे। वहां 11 महीने रहने के बाद पिछले साल सितंबर में भारत लौटे थे। लौटने के बाद उन्होंने एक इंटरव्यू में दोबारा एक्टिंग शुरू करने की इच्छा जताई थी लेकिन फिर उनका निधन हो गया।

121 फिल्मों में किया काम

अपने 50 साल के फिल्म करियर में ऋषि ने तकरीबन 121 फिल्मों में काम किया। उन्होंने बतौर चाइल्ड आर्टिस्ट राज कपूर की फिल्म 'मेरा नाम जोकर' (1970) से डेब्यू किया था। फिल्म में अपने किरदार के लिए उन्हें नेशनल अवॉर्ड मिला था। बतौर एक्टर उनकी फिल्म 'बॉबी'(1973) थी जिसमें वह डिंपल कपाड़िया के साथ नजर आए थे। इस फिल्म के लिए उन्हें फिल्मफेयर का बेस्ट एक्टर अवॉर्ड (1974) में मिला था।

ऋषि कपूर की छवि एक रोमांटिक हीरो की थी। उन्हें दर्शकों ने रोमांटिक अंदाज में काफी पसंद भी किया। यही वजह है कि 1973 से 2000 के बीच ऋषि ने 92 रोमांटिक फिल्मों में काम किया जिनमें से 36 फिल्में सुपरहिट साबित हुईं। इनमें 'कर्ज', 'दीवाना', 'चांदनी', 'सागर', 'अमर अकबर एंथनी', 'हम किसी से कम नहीं','प्रेम रोग','हिना' जैसी फिल्में शामिल हैं।

नीतू के साथ की 12 फिल्में
ऋषि कपूर की पत्नी नीतू के साथ रोमांटिक जोड़ी काफी पसंद की जाती थी। दोनों ने तकरीबन 12 फिल्मों में साथ काम किया। इनमें खेल खेल में (1975), कभी कभी(1976), अमर अकबर एंथनी (1977), दुनिया मेरी जेब में (1979) और पति पत्नी और वो(1978)(दोनों का गेस्ट अपीयरेंस) हिट साबित हुईं जबकि ज़हरीला इंसान(1974),जिंदा दिल (1975), दूसरा आदमी(1977), अनजाने में (1978), झूठा कहीं का (1979) और धन दौलत (1980), दो दूनी चार(2010), बेशरम (2013) फ्लॉप रहीं।

'अग्निपथ' में किया नेगेटिव रोल
ऋषि ने निर्देशन में भी हाथ आजमाया। उन्होंने 1998 में अक्षय खन्ना और ऐश्वर्या राय बच्चन अभिनीत फिल्म ‘आ अब लौट चलें’ निर्देशित की। ऋषि ने अपने करियर की शुरुआत से हमेशा ही रोमांटिक किरदार निभाया था, लेकिन ऋतिक स्टारर फिल्म 'अग्निपथ' में उनके खलनायक के किरदार को देख सभी हैरान रह गए। ऋषि को फिल्म ‘अग्निपथ’ के लिए आईफा का बेस्ट नेगेटिव रोल के अवार्ड से भी नवाजा गया।

'नॉट आउट' में दिखे बिग बी के साथ
इसके बाद ऋषि सहायक भूमिकाएं करने लगें। ऋषि जलवा (2002), हम तुम (2004), फना (2006), नमस्ते लंदन (2007), लव आज कल (2009) और पटियाला हाउस (2010) जैसी फिल्मों में नजर आए। वह अंग्रेजी फिल्म डोंट स्टॉप ड्रीमिंग (2007) और सांभर सालसा (2008) में भी दिखाई दिए। 2018 में, वह उमेश शुक्ला निर्देशित कॉमेडी-ड्रामा फिल्म '102 नॉट आउट' में दिखाई दिए। इसने अमिताभ बच्चन और ऋषि कपूर को 27 साल बाद फिर से एक साथ पर्दे पर नजर आए।

ऋषि कपूर को मिले अवॉर्ड

1970: नेशनल फिल्म अवॉर्ड (चाइल्ड)

1974 - फिल्मफेयर बेस्ट एक्टर अवॉर्ड

2008 - फिल्मफेयर लाइफटाइम अचीवमेंट अवॉर्ड

2009 - रूसी सरकार से विशेष सम्मान

2011 - फिल्मफेयर बेस्ट एक्टर क्रिटिक अवॉर्ड

2016 - स्क्रीन लाइफटाइम अचीवमेंट अवॉर्ड

2017 - फिल्मफेयर बेस्ट सपोर्टिंग एक्टर अवॉर्ड

खबरें और भी हैं...