मुंबई:बाणगंगा तालाब में हुआ ऋषि कपूर का अस्थि विसर्जन, लॉकडाउन के चलते नहीं मिली हरिद्वार जाने की इजाजत

मुंबई2 वर्ष पहले

अभिनेता ऋषि कपूर का अस्थि विसर्जन रविवार को किया गया। इसके लिए उनके बेटे रणबीर, पत्नी नीतू और बेटी रिद्धिमा फिल्म निर्देशक अयान मुखर्जी और अभिनेत्री आलिया भट्ट के साथ मालाबार हिल (मुंबई) स्थित प्राचीन तालाब बाणगंगा पहुंचे थे। विधि विधान से पूजन के बाद ऋषि की अस्थियों को विसर्जित कर दिया गया। इस दौरान सभी लोगों ने लॉकडाउन के प्रोटोकॉल का पालन किया। सभी ने मुंह को मास्क से ढंका हुआ था। 

हरिद्वार जाने की इजाजत नहीं मिली
ऋषि के बड़े भाई रणधीर कपूर ने एक बातचीत में कहा, "हमने कल (शनिवार) ऋषि की प्रार्थना सभा की और आज (रविवार) उनकी अस्थियों को बाणगंगा में विसर्जित कर दिया। क्योंकि हमें अथॉरिटीज से हरिद्वार जाने की इजाजत नहीं मिली।" 67 साल के ऋषि का निधन 30 अप्रैल को मुंबई के एचएन. रिलायंस फाउंडेशन हॉस्पिटल में हुआ। वे करीब डेढ़ साल से ल्यूकोमा से जूझ रहे थे। 

5-6 फैमिली मेंबर्स के साथ हुई प्रार्थना सभा
ऋषि कपूर की प्रार्थना सभा शनिवार को उनके पाली स्थित पर पर हुई। अंदरूनी सूत्रों की मानें तो इसमें परिवार के सिर्फ 5 या 6 लोग ही शामिल हुए थे। शनिवार रात ऋषि की बेटी रिद्धिमा  भी अपनी बेटी समायरा के साथ मुंबई पहुंच चुकी हैं। लॉकडाउन के चलते वे ऋषि के अंतिम दर्शन नहीं कर पाई थीं। क्योंकि उन्हें सड़क मार्ग से दिल्ली से मुंबई आने की इजाजत मिली थी। उन्होंने वीडियो कॉल के जरिए पिता को अंतिम विदाई दी थी।