हम तुम फिल्म के 16 साल:सेट पर डायरेक्टर कुणाल कोहली के साथ झगड़ने लगे थे सैफ अली खान, ऋषि कपूर ने दोनों को समझाकर सुलझाया था मामला

मुंबई (अंकिता तिवारी)3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

साल 2004 में रिलीज हुई फिल्म हम तुम को आज पूरे 16 साल हो चुके हैं। रानी मुखर्जी, सैफ अली खान और ऋषि कपूर स्टारर इस फिल्म को दर्शकों का खूब प्यार मिला। 16 साल पूरे होने पर फिल्म के डायरेक्टर कुणाल कोहली ने इससे जुड़ी कई दिलचस्प बातें शेयर की हैं। 

 ऋषि कपूर जी ने किया था इनकार

जब मैं यह फिल्म ऋषि कपूर जी के पास लेकर गया था तब इस फिल्म में उनके मात्र 7 सीन थे और उन्होंने यह कहकर मना कर दिया था कि वह  बड़ी फिल्में करना पसंद करते हैं मात्र 7 सीन वाली फिल्में नहीं। लेकिन जब मैंने उन्हें हर सीन को पढ़कर सुनाया तब उन्हें स्क्रिप्ट पसंद आई और उन्होंने इस फिल्म को करने में हामी भर दी।

जब सैफ के साथ झगड़ा हो गया था

शूटिंग के सेट पर'हम तुम' मेरे करियर की दूसरी फिल्म थी जबकि पहली फिल्म बॉक्स ऑफिस पर ज्यादा नहीं चली थी। 'हम तुम' की शूटिंग के दौरान मेरा सैफ के साथ सेट पर झगड़ा हो गया था। उस वक्त ऋषि जी भी वहां मौजूद थे और उन्होंने हम दोनों को डांटा और कहा कि बड़ों के जैसे बिहेव करो बच्चों की तरह मत लड़ो। फिर मैंने सैफ से जाकर बात की और उन्हें यह समझाया कि यह फिल्म हम दोनों के करियर के लिए बहुत महत्वपूर्ण है उस वक्त सैफ की भी कुछ फिल्में फ्लॉप हो गई थीं। उसके बाद सैफ ने सिचुएशन को समझा और उसके बाद हम लोगों ने दोस्ती कर ली और फिर कभी झगड़ा नहीं किया।

एनिमेशन यूज करने के लिए लोगों ने किया था विरोध

आज भी हिंदी फिल्मों में ज्यादा एनिमेशन इस्तेमाल नहीं किया जाता है तो 16 साल पहले एनिमेशन इस्तेमाल करना एक बहुत बड़ा कदम था। उस वक्त यशराज के भी कई लोगों ने मुझे कहा था कि मुझे फिल्म से एनिमेशन हटा देना चाहिए और  इससे फिल्म में कोई बदलाव नहीं होगा। एनिमेशन का टोटल बजट पचास लाख रुपए था और मुझे यह कहा गया था कि इतने में तो मैं एक गाना शूट कर सकता हूं, लेकिन फिर भी मैं चाहता था कि इस हम तुम के एनिमेशन को सैफ एक कार्टूनिस्ट की तरह दिखाएं और फिल्म रिलीज के बाद सभी लोगों को मेरा यह कांसेप्ट बेहद पसंद आया।

रानी मुखर्जी को मिला था पहला बेस्ट एक्ट्रेस अवॉर्ड

उस वक्त रानी मुखर्जी कई सुपरहिट फिल्मों का हिस्सा रह चुकी थी लेकिन फिर भी वह सेट पर बहुत कॉर्पोरेट करती थीं। हम सब बहुत प्रेशर में थे क्योंकि फिल्म बहुत ही छोटे बजट में बनी थी। मुझे याद है कि यह पहली फिल्म थी जिसने रानी मुखर्जी को बेस्ट एक्ट्रेस अवॉर्ड दिलवाया था।आज भी इंडस्ट्री में रोमांटिक कॉमेडी फिल्म बनाने से हिचकिचाते हैं लोगमैं यही मानता हूं कि हम तुम ने हिंदी सिनेमा में एक बदलाव लाया है और इस फिल्म के सफल होने के बाद ही लोग रोमांटिक कॉमेडी बनाने की कोशिश करने लगे।अगर 'हम तुम' नहीं होती तो शायद 'जब वी मेट' भी नहीं होती और भी कई रोमांटिक कॉमेडी फिल्में इसके बाद आई गई पर इस प्रथा की शुरुआत हम तुम ने की थी।

सैफ नहीं थे इसकी पहली च्वाइस

जहां स्क्रिप्ट खत्म होते ही मैंने अभिनेत्री के रूप में  रानी मुखर्जी को इस फिल्म के लिए चुन लिया था उसी तरह यह फिल्म पहले रितिक रोशन, आमिर खान और विवेक ओबेरॉय को सुनाई गई थी जब इन तीनों एक्टर्स ने इस फिल्म को करने से मना कर दिया, तब सैफ अली खान को इस फिल्म के लिए अप्रोच किया गया था। मुझे यह लगता है कि अगर सैफ हम तुम का हिस्सा नहीं होते तो शायद यह फिल्म बनती ही नहीं।

खबरें और भी हैं...