पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

शादी पर बोलीं सना:मौलाना अनस से शादी पर बोलीं सना खान: यह एक रात का फैसला नहीं था, उन्हें पाने के लिए सालों दुआ की है

3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

शादी के एक महीने बाद सना खान ने शेयर किया आखिर उन्होंने अनस सईद को ही अपना हमसफर क्यों चुना। इसके अलावा सना ने यह भी बताया कि ब्रेकअप के कुछ महीनों बाद उसकी शादी क्यों नहीं हुई। शादी से एक महीने पहले सना ने सोशल मीडिया पर ही शोबिज छोड़ने का ऐलान किया था। सना ने कहा कि यह रातों-रात लिया फैसला नहीं था और उसने सईद जैसे इंसान को पाने के लिए सालों से प्रार्थना की है।

शादी पर सना ने रखी अपनी राय
टाइम्स ऑफ इंडिया को दिए एक इंटरव्यू में सना ने कहा- अनस में मुझे जो सबसे अच्छा लगता है वह है कि वो शरीफ हैं और उनमें हया है। वे जजमेंटल नहीं हैं। उन्होंने मुझसे कहा- अगर कोई अच्छी चीज गटर में गिर गई है तो उसके ऊपर आप 10 बाल्टी भी पानी डाल दो, वो साफ नहीं होती है। पर आप उसको गटर से बाहर निकाल कर एक गिलास पानी डाल दो तो वो साफ हो जाती है। इस बात ने मुझ पर गहरा असर किया। ब्रेकअप के सवाल पर सना ने कहा कि लोगों की वापसी पर अफेयर्स हो सकते हैं, लेकिन शादी नहीं।

इंडस्ट्री के लिए बोलीं सना- मैं गलत पेशे में थी
शोबिज छोड़ने के अपने फैसले के बारे में भी सना ने बात की। उन्होंने कहा कि ग्लैमर और प्रसिद्धि ने उन्हें अंधा कर दिया था और वे पहले यह महसूस नहीं कर सकीं कि यह उनके लिए गलत पेशा था। सना कहती हैं- बहुत से लोगों ने पूछा कि मुझे यह महसूस करने में इतना समय क्यों लगा कि मैं गलत पेशे में थी।

बहुत चीजें आपको तुरंत ही रियलाइज नहीं होती हैं। आपको इतना ग्लैमर और नाम मिल जाता है, या तो आपको कुछ दिखाई नहीं देता है या फैसला नहीं ले पाते हैं। मेरे केस में यह रोजी का सवाल था; मैं अपने परिवार में कमाने वाली अकेली थी। लॉकडाउन ने मुझे यह महसूस करने में मदद की कि मुझे यह कदम उठाना होगा। मैं जो काम कर रही थी, वह मेरा था ही नहीं। मैं इसके लिए आभारी हूं कि इंडस्ट्री ने मुझे क्या दिया है, लेकिन मुझे एहसास हुआ कि मैं वहां के लिए नहीं थी।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज आर्थिक योजनाओं को फलीभूत करने का उचित समय है। पूरे आत्मविश्वास के साथ अपनी क्षमता अनुसार काम करें। भूमि संबंधी खरीद-फरोख्त का काम संपन्न हो सकता है। विद्यार्थियों की करियर संबंधी किसी समस्...

और पढ़ें