संकट में मददगार:क्‍वारैंटाइन सेंटर में बदल गया चार-मंजिला पर्सनल ऑफिस, शाहरुख की पत्नी गौरी खान ने दिखाई झलक

मुंबई2 वर्ष पहले

कोरोनावायरस के खिलाफ जारी लड़ाई में सुपरस्टार शाहरुख खान और उनकी पत्नी गौरी खान ने पिछले दिनों मदद का हाथ बढ़ाया। उन्होंने क्‍वारैंटाइन कैपेसिटी का विस्तार करने के लिए बीएमसी को अपना चार-मंजिला पर्सनल ऑफिस दिया। यहां क्‍वारैंटाइन में रखे गए बच्चों, महिलाओं और बुजुर्गों के लिए जरूरत की सभी चीजें भी उपलब्ध करवाई गईं है।

अब गौरी खान ने एक नया वीडियो शेयर किया है जिसमें यह ऑफिस अब पूरी तरह से क्‍वारैंटाइन सेंटर में तब्दील हुआ नजर आ रहा है। सेंटर में 22 बिस्तर लगाए गए हैं। गौरी ने वीडियो के साथ कैप्शन में लिखा, ऑफिस क्‍वारैंटाइन ज़ोन में बदल चुका है जहां ज़रूरतमंदों को सभी सुविधाएं देने की तैयारी है। इस कठिन लड़ाई में हम सबको साथ खड़े रहने की ज़रुरत है। फराह खान ने इस वीडियो पर कमेंट करते हुए लिखा, आप दोनों शाबाशी के काबिल हैं।

बीएमसी ने कहा था- शुक्रिया शाहरुख-गौरी: इससे पहले ऑफिस को क्‍वारैंटाइन सेंटर के लिए देने पर शाहरुख-गौरी के प्रति अपनी कृतज्ञता व्यक्त करते हुए बीएमसी ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर लिखा था, "संगठन में शक्ति है। हम शाहरुख खान और गौरी खान का शुक्रिया अदा करते हैं कि उन्होंने क्‍वारैंटाइन कैपेसिटी को बढ़ाने में मदद करने के लिए क्‍वारैंटाइंड बच्चों, महिलाओं और बुजुर्गों के लिए जरूरत के सामान से लैस अपने पर्सनल ऑफिस का ऑफर दिया।"

25,000 पीपीई किट भी उपलब्ध करवाई: पिछले दिनों महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने स्वास्थ्यकर्मियों के लिए 25,000 व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण (पीपीई) मुहैया कराने के लिए शाहरुख खान का शुक्रिया अदा किया था। अभिनेता ने राज्य में कोरोना वायरस महामारी के खिलाफ संघर्ष कर रहे चिकित्साकर्मियों के लिए पीपीई किट मुहैया कराई थी। टोपे ने ट्वीट किया, "25,000 पीपीई किट मुहैया कराने के लिए शाहरुख खान का बहुत-बहुत धन्यवाद। यह कोविड-19 के खिलाफ हमारे संघर्ष और चिकित्साकर्मियों की सुरक्षा में बहुत मदद करेंगे।"

पहले भी शाहरुख कर चुके मदद: शाहरुख और उनकी पत्नी गौरी खान ने हाल में अपने चार मंजिला निजी कार्यालय में कोविड-19 मरीजों के उपचार के लिए स्थान मुहैया कराने का प्रस्ताव दिया था। खान इस संकट में देश की मदद के लिए पहले भी कई पहलों की घोषणा कर चुके हैं। शाहरुख की समूह कंपनियां रेड चिलीज एंटरटेनमेंट, रेड चिलीज वीएफएक्स, कोलकाता नाइट राइडर्स और मीर फाउंडेशन पीएम केयर्स फंड, महाराष्ट्र, दिल्ली और पश्चिम बंगाल के सीएम रिलीफ फंड में योगदान दिया था।

खबरें और भी हैं...