पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

धोखा मत खा जाना:शाहरुख खान नहीं, ये हैं उनके हमशक्ल इब्राहिम कादरी, SRK जैसा दिखने के लिए हर महीने खर्च करते हैं 25 हजार रुपए

2 महीने पहलेलेखक: उर्वी ब्रह्मभट्ट
  • कॉपी लिंक

इन दिनों शाहरुख खान के डुप्लीकेट इब्राहिम कादरी सोशल मीडिया में छाए हुए हैं। शाहरुख खान की तरह दिखने व उनकी तरह ही हाव-भाव दिखाने वाले इब्राहिम कादरी गुजरात के जूनागढ़ के रहने वाले हैं। आपको यह जानकर आश्चर्य होगा कि शाहरुख की तरह दिखने के लिए कादरी हर महीने 25 हजार रुपए खर्च करते हैं और हर शो के लिए 35-40 हजार रुपए फीस भी लेते हैं। दैनिक भास्कर की टीम ने उनसे विशेष बातचीत की है। पढ़िए बातचीत के मुख्य अंश...

इब्राहिम कादरी मूल कलाकार हैं इब्राहिम कादरी,
जूनागढ़ में अपने भाई-भाभी के साथ रहने वाले कादरी पेशे से आर्टिस्ट हैं। वे विज्ञापन स्केच के अलावा शानदार पेंटिंग्स बनाने में भी माहिर हैं। इब्राहिम कादरी बताते हैं कि जब शाहरुख खान की फिल्म 'दीवाना' रिलीज हुई थी, तभी से दोस्त उन्हें शाहरुख खान कहकर बुलाने लगे थे। इसके बाद शाहरुख की 'डर', 'कुछ-कुछ होता है', 'दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे' जैसी कई बड़ी फिल्में आईं। शाहरुख बॉलीवुड में काफी चर्चित हुए और उनके साथ जूनागढ़ में कादरी भी। वे जहां से भी गुजरते, लोग उन्हें शाहरुख खान कहकर ही बुलाते।

अपनी एक मुंबई विजिट के दौरान इब्राहिम कादरी।
अपनी एक मुंबई विजिट के दौरान इब्राहिम कादरी।

कादरी कहते हैं, "उस वक्त भले ही लोग मुझे शाहरुख खान कहकर पुकारते थे, लेकिन मैं उस बात को इतनी गंभीरता से नहीं लेता था। क्योंकि, कुछ हद तक मेरा चेहरा शाहरुख से मिलता था, लेकिन उनकी तुलना में मेरा वजन ज्यादा था। मैं अपना पूरा टाइम स्केचिंग और पेंटिग्स में ही बिताता था। हां, मैं दोस्तों के साथ शाहरुख खान की हर फिल्म फिल्में देखने जरूर जाता था। लेकिन मैंने कभी नहीं सोचा था कि एक दिन मैं इतना फेमस हो जाऊंगा।"

'रईस' के बाद आया जीवन में नया मोड़
कादरी कहते हैं, "समय बीतता रहा और मेरी जिंदगी भी सामान्य तरह से चलती रही। लेकिन 2017 में शाहरुख खान की फिल्म 'रईस' आई। इस फिल्म में शाहरुख खान दाढ़ी और मूंछ के साथ नजर आए थे। फिल्म रिलीज होने से कुछ समय पहले, मेरी दाढ़ी और मूंछें बिल्कुल उनके जैसी ही थीं। जब फिल्म रिलीज हुई तो मैं दोस्तों के साथ फिल्म देखने गया था। थिएटर से बाहर आया तो लोग मुझे गौर से देख रहे थे। थोड़ी देर के लिए मुझे यह बहुत अजीब लगा। फिर मेरे दोस्त मुझसे कहने लगे कि फिल्म में शाहरुख खान को देखने के बाद अगर आपको देखें तो ऐसा लगता है कि शाहरुख खान हमारे साथ ही खड़े हैं।"

जिम में वर्कआउट सेशन के दौरान इब्राहिम कादरी।
जिम में वर्कआउट सेशन के दौरान इब्राहिम कादरी।

कादरी आगे बताते हैं, "इस घटना के बाद मैंने भी शाहरुख की तरह दिखने के लिए अपने पहनावे व हाव-भाव पर काम करना शुरू कर दिया। मैं हू-ब-हू शाहरुख खान की तरह दिखने की कोशिश करने लगा। इतना ही नहीं, मैंने वर्कआउट करना शुरू कर दिया। पहले तो मुझे नहीं पता था कि एक्टिंग व डांस कैसे किया जाता है। लेकिन, मैंने घर पर ही शाहरुख खान की तरह डांस, स्टाइल और उन्हीं की तरह बोलने की प्रैक्टिस की। मैंने ये सब यूट्यूब पर देखकर सीखने की कोशिश की। अब तक मैं शाहरुख खान की फिल्में उनके फैन के तौर पर देखा करता था। लेकिन, अब मैं उन्हें कॉपी करने के लिए उनकी फिल्में फिर से देखने लगा था। उनकी तरह बोलने की भी मैंने बहुत प्रैक्टिस की।"

शाहरुख खान की तरह दिया था पोज
एक घटना को याद करते हुए कादरी कहते हैं, "एक बार मैं एक शादी में गया। वहां मुझसे लोगों ने कहा कि शाहरुख की तरह डांस करके दिखाइए। लेकिन मैं उनकी तरह इतना अच्छा डांस नहीं कर सकता था। फिर लोगों ने कहा कि भले ही डांस न करो, लेकिन उनकी तरह एक पोज तो देना ही पड़ेगा। मैंने उनकी तरह एक पोज देने की पूरी कोशिश की थी।

स्टेडियम में लोगों की भीड़ जमा हो गई
कादरी कहते हैं, "2017 में राजकोट के खंडेरी स्टेडियम में आईपीएल मैच में कोलकाता नाइट राइडर्स और गुजरात लॉयंस के बीच मैच खेला गया था। एक दोस्त ने मेरा टिकट लिया और हम साथ में मैच देखने गए। स्टेडियम में जब मेरी एंट्री हुई तो मेरे आसपास काफी लोग जमा हो गए। लोग मुझे शाहरुख समझने लगे और फिर शाहरुख-शाहरुख नाम लेकर चिल्लाने लगे, मेरे साथ सेल्फी लेने लगे। सबसे हैरान करने वाली बात यह रही कि रियल शाहरुख खान भी स्टैंड में खड़े होकर मैच देख रहे थे। मैंने घंटों तक सबके साथ सेल्फी ली और किसी को भी नहीं बताया कि मैं शाहरुख खान नहीं हूं। हालांकि, फिर मैं डर गया और मैंने यह बात सिक्युरिटी गार्डस को बता दी। इसी बीच लोकल पुलिस आ गई तो उन्हें बताया कि लोग मुझे घेरे हुए खड़े हैं, जबकि मैं शाहरुख खान नहीं, बल्कि उनकी तरह बस दिखाई देता हूं। यह सुनकर पुलिस वाले भी मेरे साथ सेल्फी लेने लगे। भीड़ बढ़ती देख हम बिना मैच देखे वहां से निकल गए। लोग हमारे पीछे आने लगे। मैंने देखा कि कुछ लोग कार के पीछे भाग रहे थे।"

मुंबई में मन्नत के बाहर इब्राहिम कादरी को शाहरुख खान समझ लोगों में उनके साथ सेल्फी की होड़ लग गई थी।
मुंबई में मन्नत के बाहर इब्राहिम कादरी को शाहरुख खान समझ लोगों में उनके साथ सेल्फी की होड़ लग गई थी।

मन्नत के बाहर भी लोग सेल्फी लेने लगे
इब्राहिम बताते हैं, "2017 में मैं शाहरुख खान के बर्थडे (2 नवंबर) पर मुंबई गया था। मैं शाहरुख से मिलने मन्नत पहुंचा था। यहां कड़ी सुरक्षा थी, लेकिन मुझे न तो महाराष्ट्र पुलिस ने और न ही किसी अन्य सुरक्षाकर्मी ने रोका। उन लोगों को लगा कि मैं ही असली शाहरुख खान हूं। वहां मौजूद लोग भी यही समझ रहे थे कि मैं ही शाहरुख हूं। बाहर खड़े बाउंसर भी सोचने लगे कि आखिर शाहरुख बिना सुरक्षा के बाहर कैसे आ गए। हालांकि, यहां भी जब मैं भीड़ से घिरने लगा तो मौका पाते ही भाग निकला।"

विदेशों से तक आते हैं शो के ऑफर
इब्राहिम कादरी ने सबसे पहले शाहरुख खान की तरह दिखने वाले कई वीडियो यूट्यूब पर शेयर किए। यहां वीडियो चलने के बाद सोशल मीडिया के अन्य प्लेटफॉर्म पर भी साझा किए। पूरे गुजरात में फेमस होने के बाद इब्राहिम कादरी ने अहमदाबाद, सूरत, भावनगर, जामनगर, ऊना, अमरेली, राजकोट, जूनागढ़, वेरावल समेत गुजरात के कई शहरों के कार्यक्रमों में शामिल हुए। उन्होंने मुंबई, औरंगाबाद, दिल्ली और पूना में भी कई शो किए हैं। कोरोना के चलते विदेशों के कई शो रद्द करने पड़े हैं। कादरी बताते हैं कि कनाडा, इजराइल, दुबई, इंडोनेशिया, जर्मनी और अन्य देशों में शो करने के कई ऑफर उनके पास आ रहे हैं।

अपनी पेंटिंग दिखाते इब्राहिम कादरी।
अपनी पेंटिंग दिखाते इब्राहिम कादरी।

लॉकडाउन से लाखों रुपए का नुकसान
इब्राहिम कादरी गुजरात में शादी, बर्थडे पार्टी या ओपनिंग होने पर 35-40 हजार रुपए और गुजरात के बाहर 90 हजार से 1 लाख रुपए चार्ज करते हैं। कोरोना से उन्हें 10 से 12 लाख रुपए का नुकसान हो चुका है। वे ऑन डिमांड अपने वीडियो क्लिप बनाकर शादी, बर्थडे पार्टी में भेजते हैं। इन वीडियो क्लिप की कीमत 15 से 20 हजार रुपए है।

शाहरुख खान की तरह दिखना महंगा
कादरी बताते हैं, "हालांकि, शाहरुख की तरह दिखना काफी महंगा और मेहनत भरा भी है। इसके लिए मुझे रेग्युलर एक्सरसाइज करनी पड़ती है। हैवी प्रोटीन वाली खुराक लेनी पड़ती है। इस तरह के अन्य कई खर्चों के साथ महीने का 20 से 25 हजार का खर्च आता है।"

फिल्म फ्लॉप होने से शाहरुख को फर्क नहीं पड़ता
शाहरुख खान आखिरी बार 2018 में फिल्म 'जीरो' में नजर आए थे। फिल्म सुपरफ्लॉप थी। कहा जाता है कि स्टार जब तक चलता है, तभी तक उसका डुप्लीकेट भी चल पाता है। इस बारे में पूछे जाने पर इब्राहिम कादरी ने कहा, "शाहरुख खान ने वह सब कुछ हासिल कर लिया है जो उन्हें हासिल करना था। अब शाहरुख खान के लिए यह मायने नहीं रखता कि उनकी फिल्म चलती है या नहीं। फैंस के लिए वह आज भी सुपरस्टार हैं। जिस तरह शाहरुख खान को कोई फर्क नहीं पड़ता। इसी तरह मुझे भी कोई फर्क नहीं पड़ता।"

खबरें और भी हैं...