• Hindi News
  • Entertainment
  • Bollywood
  • Shekhar Suman Off To Bihar to meet CM Nitish Kumar to Launch CBI Inquiry Into Sushant demise case, He writes, I m going to my hometown Patna to meet Sushant's father and pay my respect to him and the CM Shri Nitish Kumar and all the admirers and fans of Sushant to press upon CBI Enquiry For Sushant

सुशांत सिंह राजपूत मौत मामला / सीबीआई जांच की मांग को लेकर बिहार के मुख्यमंत्री से मिलेंगे शेखर सुमन, लोगों से भी समर्थन मांगा

सुंशात सिंह राजपूत ने 14 जून को मुंबई के बांद्रा स्थित अपने फ्लैट में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी। सुंशात सिंह राजपूत ने 14 जून को मुंबई के बांद्रा स्थित अपने फ्लैट में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी।
X
सुंशात सिंह राजपूत ने 14 जून को मुंबई के बांद्रा स्थित अपने फ्लैट में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी।सुंशात सिंह राजपूत ने 14 जून को मुंबई के बांद्रा स्थित अपने फ्लैट में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी।

दैनिक भास्कर

Jun 29, 2020, 11:49 AM IST

अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत मौत मामले में सीबीआई जांच कराने की मांग तेज होती जा रही है। अभिनेता शेखर सुमन इस मामले को जोर-शोर से उठा रहे हैं। इसे लेकर एक ऑनलाइन फोरम बनाने के बाद अब वे बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मिलकर इस बारे में बात करेंगे।

रविवार को किए अपने ट्वीट में सुमन ने लिखा, 'मैं अपने गृहनगर पटना जा रहा हूं, वहां मैं सुशांत के पिता मिलूंगा और उन्हें सांत्वना दूंगा, साथ ही मैं मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार और सुशांत के फैन्स और प्रशंसकों से भी मिलूंगा और इस केस में सीबीआई जांच की मांग के लिए समर्थन देने की अपील करूंगा।'

आपको न्याय दिलाकर ही रहेंगे

शेखर सुमन बीते कई दिनों से लगातार ट्वीट करते हुए इस मामले को उठा रहे हैं और इसमें सीबीआई जांच की मांग कर रहे हैं। 26 जून को किए अपने ट्वीट में उन्होंने लिखा था, '#justiceforSushantforum प्रिय सुशांत, देश तुम्हारे साथ है, लोग तुम्हारे साथ हैं, हम सभी आपको न्याय दिलाने की कोशिश कर रहे हैं और न्याय जरूर होगा। हम आपको अनंतकाल तक याद रखेंगे।'

दोबारा जांच के लिए आवाज को बुलंद करें 

25 जून को किए अपने ट्वीट में शेखर ने लिखा था, 'तो ये घोषित कर दिया गया है कि सुशांत की मौत एक साधारण आत्महत्या थी। इससे निराश मत होना, मुझे अंदेशा था कि ऐसा ही होगा। कहानी पहले से तय कर ली गई थी। इसलिए ये फोरम हम सभी के लिए और भी ज्यादा महत्वपूर्ण हो गया है। कृपया दोबारा जांच के लिए अपनी आवाज को बुलंद करें।'

इस बार हम नहीं झुकेंगे

आगे उन्होंने लिखा, 'हम सभी को और अधिक जुझारू रुख अपनाना होगा और आत्महत्या की कहानी और बिना किसी थ्योरी वाली कहानियों के सामने झुकना या दबना नहीं होगा। इस बार हम नहीं सुनेंगे, इस बार हम यकीन नहीं करेंगे।#justiceforSushantforum'

अपने गुस्से को कम मत होने दें

24 जून को किए ट्वीट में शेखर ने लिखा था, 'अपने गुस्से कम मत होने दीजिए...आंदोलन को चलने दीजिए...हम दोषियों को नहीं छोड़ेंगे। भले ही इसके लिए हमें दुनिया के अंत तक क्यों ना जाना पड़े। #जस्टिस फॉर सुशांत फोरम।'

इसी दिन किए एक अन्य ट्वीट में उन्होंने लिखा था, '#जस्टिस फॉर सुशांत फोरम पर जबरदस्त प्रतिक्रिया देने के लिए आपका धन्यवाद...मैं इसके तौर-तरीकों की रूपरेखा तैयार करने और इसे एक आकार देने की प्रक्रिया में हूं। कृपया उम्मीद ना खोएं और धैर्य रखें...मैं आपको विश्वास दिलाता हूं कि उनके मामले को अंत तक पहुंचाने के लिए हम अपनी ओर से पूरी कोशिश करेंगे।'

सुशांत ने सुसाइड नोट जरूर छोड़ा होगा

23 जून को उन्होंने एक के बाद एक तीन ट्वीट किए थे। पहले ट्वीट में लिखा था, 'ये बिल्कुल स्पष्ट है, फिर भी अगर मान भी लिया जाए कि सुशांत सिंह ने आत्महत्या की है, तो भी वो जितनी दृढ़ इच्छाशक्ति वाले और बुद्धिमान थे, तो उन्होंने निश्चित रूप से सुसाइट नोट भी छोड़ा होगा। कई अन्य लोगों की तरह मेरा दिल भी मुझसे कहता है कि ये मामला उतना साधारण नहीं है, जितना कि दिख रहा है।'

किसी और के साथ सुशांत जैसी त्रासदी ना हो

अपने दूसरे ट्वीट में उन्होंने लिखा था, 'सुशांत एक बिहारी थे, इसलिए बिहारी भावना सबसे आगे है। लेकिन, मैं इस तथ्य को अनदेखा नहीं कर रहा हूं कि ये मामला भारत के सभी राज्यों के लोगों की चिंता से जुड़ा है। यहां सुशांत जैसी त्रासदी किसी अन्य प्रतिभाशाली युवा के साथ नहीं होनी चाहिए, जो खुद के दम पर बनने की कोशिश कर रहा हो।'

सीबीआई जांच की मांग को लेकर बनाया फोरम

तीसरे ट्वीट में उन्होंने लिखा था, 'मैं #जस्टिस फॉर सुशांत फोरम बना रहा हूं। जहां मैं सुशांत की मौत मामले में सीबीआई जांच शुरू करने की मांग को लेकर सरकार पर दबाव बनाने के लिए हर एक से निवेदन करूंगा। इस तरह के अत्याचार और गैंगिज्म और माफियाओं का पर्दाफाश करने के लिए उनकी आवाज को उठाना होगा। मैं आपके समर्थन के लिए प्रार्थना करता हूं।'

दोषियों को सजा मिलने तक चुप नहीं बैठेंगे

22 जून को किए अपने ट्वीट में शेखर ने लिखा था, 'फिल्म इंडस्ट्री के सारे शेर बनने वाले कायर सुशांत के चाहने वालों के कहर से, चूहे बनकर बिल में घुस गए हैं। मुखौटे गिर गए हैं...पाखंड उजागर हो गया है। दोषियों को सजा मिलने तक बिहार और भारत चुप नहीं बैठेगा। बिहार जिंदाबाद।'

सुशांत की मौत का बदला लेंगे

इससे पहले 19 जून को ट्वीट में शेखर ने लिखा था, 'एक बिहारी को तो मार दिया पर अभी हम सब जिंदा हैं। ये भूलना मत। बदला तो लिया जाएगा। जो भी इसके गुनहगार हैं, उनको सजा तो मिलेगी। बिहारीज ऑफ द वर्ल्ड यूनाइट।'

इंडस्ट्री में कुछ राक्षस भी हैं

16 जून को ट्वीट में शेखर ने लिखा था, 'हमारी फिल्म इंडस्ट्री में कुछ ऐसे राक्षस हैं जो बहुत खतरनाक और जहरीले हैं, माफिया हैं और उन्होंने हमेशा सीधे-सादे, कमजोर लोगों को दबाया है, जिन्होंने उनकी बात नहीं मानी...ये दुर्घटना भी कुछ इसी वजह से हुई है।'

इसी दिन किए अपने अन्य ट्वीट में उन्होंने लिखा, 'अभी कई जानें और जाएंगी...अभी और बर्बादी होगी...दिल टूटेंगे, झगड़े फसाद होंगे। दुनिया तबाह होगी...निर्दोष लोग वहशियों का शिकार होंगे। ताकत कमजोरों को, मजलूमों को दबाएंगी, मसलेंगी। हम एक बहुत ही खौफनाक दौर से गुजर रहे हैं।'

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना