IT रेड पर बोले सोनू सूद:कोरोनाकाल में 2 बार राज्य सभा जाने का ऑफर मिला, लेकिन राजनीति में तभी कदम रखूंगा जब 100% तैयार हो जाऊंगा

एक महीने पहले

चार दिन की IT रेड के बाद मीडिया के सामने सोनू सूद ने इंटरव्यू में सारी बात कह सुनाई। NDTV को दिए इस इंटरव्यू में सोनू ने कहा कि जब IT ऑफिसर आए थे तो मैंने उनसे कहा कि आप जब भी जाएंगे एक अलग अनुभव लेकर जाएंगे। सोनू ने बताया कि सभी ऑफिसर ने देखा है घर के नीचे मदद मांगने वाले लोग खड़े रहते थे। डॉक्युमेंट्स भी किडनी, लिवर ट्रांसप्लांट के ही मिले हैं।

टैक्स चोरी के आरोप पर बोले सोनू-

सोनू पर पहला आरोप था कि टैक्स चोरी का, यानी दान के पैसे आए लेकिन खर्च नहीं किया। इस पर सोनू ने जवाब दिया कि जिन लोगों ने मुझे पैसा दिया मेरी सबसे बड़ी जिम्मेदारी थी कि उस पैसे को सही जगह पर खर्च करना है।

  • मैं जितने ब्रांड के ऐड करता हूं उनसे कहता हूं कि कोशिश करें कि आप उसका मेजर अमाउंट फाउंडेशन में दें। ताकि हम लोगों की मदद कर सकें। कई हॉस्पिटल में मेरे पैसे पड़े हुए थे जिनसे मैं कह देता था कि मैं भेजूंगा मरीज और हमने भेजे भी।
  • मेरी फाउंडेशन में ऐसा है सोनू ये एंडोर्समेंट करेगा लेकिन उसकी फीस नहीं लेगा या उसका कुछ परसेंट दान में देगा। इस बीच सोनू ने विजयवाड़ा के बच्चों के दिए हुए पिगी बैंक भी दिखाए। जिनसे एक रुपया भी खर्च नहीं हुआ था।
  • सोनू ने कहा कि ये सालों से पड़ा हुआ पैसा नहीं है। बल्कि ये वो पैसा है जो पिछले 3 या 4 महीनों में आया है। हमने 2 करोड़ खर्च किया है ये उन्होंने सही बताया। लेकिन अगर किसी के पास पैसा आता है तो उसे सही काम में खर्चने में टाइम लगता है।
  • मेरे साथ देश के वो लोग हैं जिन्हें ये विश्वास है कि ये वो आदमी है जो हमारी सोच को सही लोगों की मदद तक पहुंचाएगा।

दिल्ली सरकार के प्रोग्राम का मेंटर बनने पर बोले
हम देश भर के बच्चों को पढ़ा रहे हैं। अगर दिल्ली सरकार ने मुझे मेंटर बनाने का सोचा तो ये मेरा सौभाग्य है। दिल्ली सरकार के अलावा बीजेपी या कांग्रेस भी बुलाती तो मैं जाता। क्योंकि सरकारें आती जाती हैं, लोग बदल जाते हैं, लेकिन बच्चों की पढ़ाई नहीं रुकनी चाहिए। मैं नहीं मानता कि मुझे डरना चाहिए, मुझे कोई भी बुलाए मैं जाऊंगा।

मुझे कोई गिला शिकवा नहीं है। मैं और जोश के साथ काम करूंगा। बस मदद होनी चाहिए। कोई फर्क नहीं पड़ता कि आप किस रंग, धर्म के साथ जुड़कर काम कर रहे हैं। किस जाति की हेल्प कर रहे हैं। जान बचनी चाहिए।

राजनीति में जाने पर बोले जिस दिन किक मिलेगा तभी आऊंगा
राजनीति बहुत कमाल की चीज है। अगर नेता कमाल के होंगे तो देश और जनता खुश होंगे। लेकिन जब मैं उसके लिए मेंटली तैयार होऊंगा तो मैं छत पर जाकर कहूंगा कि मैं तैयार हूं। और मैं अपना 100 प्रतिशत दूंगा। मुझे जानने वाले लोग जानते हैं कि जो काम मैं अपने हाथ में लेता हूं पूरा करता हूं।

मुझे 2 दफा राज्य सभा सीट ऑफर हो चुकी है। कोविड टाइम में ये ऑफर 2 बार आ चुका है। ये कहा गया कि आप आइए आपको और बड़ा प्लेटफॉर्म मिलेगा। लेकिन मैंने उनका हाथ जोड़कर धन्यवाद दिया कि मैं कभी किसी के बारे मैं बुरा नहीं बोलूंगा। मैंने कहा कि मैं पहले दिन से ही इस्तीफ़ा साइन करके आऊंगा, लेकिन ये कहने के बाद भी वो तैयार थे। जिस दिन किक मिलेगा तभी आऊंगा।