पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

ड्रग्स केस में रिया का खुलासा:NCB की चार्जशीट में एक्ट्रेस का बयान- बहन और जीजा के साथ गांजा लेते थे सुशांत सिंह राजपूत

मुंबई14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत से जुड़े ड्रग्स एंगल में नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) ने रिया चक्रवर्ती का बयान अपनी चार्जशीट में शामिल किया है। रिपोर्ट्स की मानें तो यह बयान हाथ से लिखा हुआ है और इसमें रिया ने सुशांत के परिवार पर गंभीर आरोप लगाए हैं। रिया के मुताबिक, सुशांत को ड्रग्स की लत उनसे मिलने से पहले ही लग चुकी थी। इसी के चलते वे उनके करीब आए थे।

परिवार को पता था सुशांत नशा करते हैं
रिया ने अपने बयान में कहा है कि सुशांत अपनी बहन प्रियंका और जीजा सिद्धार्थ के साथ गांजा लिया करते थे और उनके लिए वे गांजा लाया भी करते थे। रिया के इकबालिया बयान के मुताबिक, सुशांत का परिवार इस बारे में सब कुछ अच्छे से जानता था कि उन्हें ड्रग्स की आदत पड़ चुकी है।

रिया ने NCB को यह भी बताया कि जब सुशांत की हालत बिगड़ने लगी तो उनका भाई शौविक उन्हें अस्पताल में भर्ती कराना चाहता था, लेकिन वे इसके लिए राजी नहीं हुए। रिया के मुताबिक, सुशांत उनसे इसलिए मिलते थे, ताकि वे (सुशांत) उन्हें ड्रग्स मुहैया करा सकें।

प्रियंका के भेजे प्रिस्क्रिप्शन का भी जिक्र
रिया ने अपने बयान में उस प्रिस्क्रिप्शन का जिक्र भी किया, जो 8 जून 2020 को सुशांत की बहन प्रियंका ने उन्हें वॉट्सऐप पर भेजा था। इसमें librium 10 mg, nexito, जैसी दवाओं का जिक्र था, जो NDPS के तहत ड्रग्स थे। प्रिस्क्रिप्शन में सुशांत को ये दवाएं लेने के लिए कहा गया था। दवाओं का यह पर्चा दिल्ली के कार्डियोलॉजिस्ट डॉ. तरुण ने सुशांत से मिले बगैर बनाया था। बिना कंसल्टेशन के ये दवाएं नहीं दी जा सकतीं।

दवाओं से सुशांत की मौत हो सकती थी
रिया ने NCB को दिए बयान में यह बात खासतौर पर नोट कराई कि प्रियंका के भेजे गए प्रिस्क्रिप्शन की दवाओं से सुशांत की मौत हो सकती थी। 8-12 जून के बीच उनकी बहन मीतू उनके साथ रह रही थीं। उन्होंने इस बात की जानकारी मुंबई पुलिस को दी थी।

ड्रग्स मामले में रिया चक्रवर्ती को 8 सितंबर 2020 को गिरफ्तार किया गया था और 7 अक्टूबर 2020 को उन्हें बॉम्बे हाईकोर्ट से जमानत मिली थी।
ड्रग्स मामले में रिया चक्रवर्ती को 8 सितंबर 2020 को गिरफ्तार किया गया था और 7 अक्टूबर 2020 को उन्हें बॉम्बे हाईकोर्ट से जमानत मिली थी।

बिना किसी डर, धमकी के दिया बयान
रिया ने अपने बयान में कहा कि उन्होंने सुशांत को अस्पताल में भर्ती कराने की कोशिश की थी और इस बात के उनके पास सबूत भी हैं। हालांकि, इस बात के लिए सुशांत सहमत नहीं थे। इसलिए ऐसा नहीं हो सका। रिया ने अपने बयान के आखिर में लिखा है कि उन्हें इस तरह का बयान देने के लिए NCB द्वारा डराया या धमकाया नहीं गया। सभी अधिकारियों ने उनके साथ अच्छा व्यवहार किया।

12 हजार पन्नों की चार्ज शीट, 200 गवाहों के बयान
नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो ने पिछले साल 14 जून को हुई बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत से जुड़े ड्रग्स एंगल में 5 मार्च को मुंबई की एक विशेष अदालत के समक्ष आरोप पत्र दायर किया था। 12,000 पन्नों की चार्जशीट में एक्ट्रेस और सुशांत की कथित गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती और उनके भाई शोविक सहित 33 आरोपियों को नामजद किया गया है। इन डॉक्यूमेंट्स में 200 से ज्यादा गवाहों के बयान हैं।

NCB ने सुशांत के रूम पार्टनर को किया गिरफ्तार
जांच एजेंसी ने मई के आखिर में सुशांत सिंह राजपूत के रूम पार्टनर रहे सिद्धार्थ पिठानी को हैदराबाद से गिरफ्तार किया था। 4 जून की रिपोर्ट के मुताबिक, उन्हें 14 दिन के लिए NCB की हिरासत में भेज दिया गया है।

14 जून 2020 को जब सुशांत अपने बेडरूम में फंदे से लटके मिले थे, तब उस घर में मौजूद लोगों में पिठानी भी शामिल था। NDPS एक्ट के सेक्शन 27A, 28 और 29 के तहत अरेस्ट पिठानी पर ड्रग्स खरीदने और सुशांत तक उसे पहुंचाने का आरोप है।