डायरेक्टर की आपबीती:शेफ विकास खन्ना का खुलासा- फिल्म द लास्ट कलर की रेटिंग के लिए क्रिटिक्स ने मांगे थे पैसे मरते दम नहीं भूल पाऊंगा

एक वर्ष पहले

सेलिब्रिटी शेफ विकास खन्ना ने एक और सोशल मीडिया पोस्ट के जरिए खुलासा किया है कि क्रिटिक्स ने उनकी फिल्म के रिव्यू के लिए पैसे मांगे थे। विकास ने पहले भी इस बात को लेकर सोशल मीडिया पर लिखा था। विकास ने द लास्ट कलर से डायरेक्टोरियल डेब्यू किया था। फिल्म 2019 में रिलीज हुई थी, जिसमें नीना गुप्ता लीड रोल में थीं।

गौरतलब है कि यह फिल्म वृंदावन और वाराणसी में रहने वाली विधवाओं की जिंदगी पर आधारित है। 2020 में इस फिल्म को ऑस्कर में भी भेजा गया था।

रेटिंग्स के लिए पैसे मांगने का मामला
अपनी पोस्ट में विकास ने बिना किसी का नाम लिए लिखा है- 3 स्टार के लिए 3 लाख, 4 स्टार के लिए 4 लाख। ये बातचीत मरते दम तक नहीं भूल सकता। विकास की इस पोस्ट पर डायरेक्टर विवेकरंजन अग्निहोत्री ने भी कमेंट किया और लिखा- भाई ये बहुत ही भ्रष्ट दुनिया है। अपने क्रिएटिव काम के साथ चमकते रहो। तुम्हें शुभकामनाएं विकास।

विवेक के अलावा नेशनल अवॉर्ड विजेता फिल्ममेकर अपूर्व असरानी ने भी पोस्ट पर कमेंट करते हुए लिखा- मुझे भी इस तरह के कॉल्स आए थे, जो कहते थे कि अगर मुझे अपने शो की सफलता पर स्टोरी या इंटरव्यू करना है तो मुझे X या Y अमाउंट देना होगा। ऐसा नहीं था कि यह बहुत पुरानी बात है। यदि आपने अच्छा काम किया है, तो प्रेस ने इसे कवर किया।

कंगना को किया था सपोर्ट
इसके पहले भी विकास ने सोशल मीडिया पर ही कंगना के सपोर्ट में लिखा था कि जब कंगना फेवरिटिज्म, नेपोटिज्म पर बोल रहीं थी तब उन्हें बहुत बुरा लगा था। लेकिन अब वे भी कंगना की बात से पूरी तरह सहमत हैं। उन्होंने यह भी लिखा था कि बाहरी लोगों को एंट्री नहीं दी जाती है। भले ही उन्होंने अपना दिल और आत्मा आर्ट में डाल दी हो। यह सुनना बेहद दर्द देता है कि या तो आप पैसे दो या हम आपको बर्बाद कर देंगे।

खबरें और भी हैं...