पंचतत्व में विलीन हुए एक्टर विक्रम गोखले:पुणे के वैकुंठ श्मशान में हुआ अंतिम संस्कार

2 महीने पहले

दिग्गज एक्टर विक्रम गोखले का 77 साल की उम्र में निधन हो गया है। उन्होंने पुणे के दीनानाथ मंगेशकर अस्पताल में अंतिम सांस ली। वो पिछले 18 दिनों से हॉस्पिटलाइज थे। उनकी हालत बुधवार से ही नाजुक बनी हुई थी और वह वेंटिलेटर सपोर्ट पर थे। इस दौरान उनकी मौत की अफवाह भी उड़ी, जिसका परिवार ने खंडन किया था।

शुक्रवार को उनकी हालत में कुछ सुधार भी हुआ था, लेकिन मल्टी ऑर्गन फेलियर की वजह से शनिवार दोपहर को उनका निधन हो गया। उनका पार्थिव शरीर पुणे के बाल गंधर्व रंगमंदिर में रखा गया था, जिसके बाद उनका अंतिम संस्कार वैकुंठ श्मशान भूमि में हुआ। परिवार के अलावा कुछ करीबी लोग भी मौजूद थे।

पुणे के वैकुंठ श्मशान भूमि में हुआ अंतिम संस्कार।
पुणे के वैकुंठ श्मशान भूमि में हुआ अंतिम संस्कार।
मल्टी ऑर्गन फेलियर की वजह से हुआ निधन।
मल्टी ऑर्गन फेलियर की वजह से हुआ निधन।

फिल्मी बैकग्राउंड से ताल्लुक रखते थे
विक्रम गोखले मराठी थिएटर, हिंदी सिनेमा और टेलीविजन में काफी एक्टिव थे। वो फिल्म एक्टर चंद्रकांत गोखले के बेटे थे। विक्रम गोखले की दादी कमलाबाई गोखले इंडियन सिनेमा की पहली फीमेल चाइल्ड आर्टिस्ट थीं।

1999 में रिलीज हुई फिल्म हम दिल दे चुके समन में विक्रम गोखले ने ऐश्वर्या राय के पिता की भूमिका निभाई थी।
1999 में रिलीज हुई फिल्म हम दिल दे चुके समन में विक्रम गोखले ने ऐश्वर्या राय के पिता की भूमिका निभाई थी।

ऐश्वर्या राय के पिता के रोल में नजर आए थे
विक्रम गोखले संजय लीला भंसाली की फिल्म 'हम दिल दे चुके सनम' में ऐश्वर्या के पिता के रोल में नजर आए थे। इसके अलावा वो भूल भुलैया', 'दिल से', 'अग्निपथ' दे दना दन', 'हिचकी', 'निकम्मा', 'और 'मिशन मंगल' जैसी फिल्मों का भी हिस्सा थे।

विक्रम गोखले भूल भुलैया, दिल से, अग्निपथ, दे दना दन, हिचकी, निकम्मा, और मिशन मंगल जैसी फिल्मों में भी नजर आए थे।
विक्रम गोखले भूल भुलैया, दिल से, अग्निपथ, दे दना दन, हिचकी, निकम्मा, और मिशन मंगल जैसी फिल्मों में भी नजर आए थे।

टेलीविजन शो उड़ान में भी काम किया था
विक्रम गोखले दर्जनों टीवी सीरियल्स में भी काम कर चुके हैं। दूरदर्शन पर 1989 से लेकर 1991 के बीच आने वाले फेमस शो 'उड़ान' का वो हिस्सा थे। इसके अलावा वो अकबर बीरबल जैसे शोज का भी हिस्सा रहे।

टीवी शो अकबर बीरबल में विक्रम गोखले अकबर के रोल में नजर आए थे।
टीवी शो अकबर बीरबल में विक्रम गोखले अकबर के रोल में नजर आए थे।

विक्रम गोखले ने अपने बॉलीवुड में अपने सिने करियर की शुरुआत 1971 में रिलीज हुई अमिताभ बच्चन की फिल्म परवाना से की थी। फिल्म सेट के अलावा रियल लाइफ में भी दोनों एक्टर अच्छी बाॅन्डिंग शेयर करते थे। जहां विक्रम गोखले के बुरे समय में अमिताभ उनका सहारा बने थे वहीं विक्रम ने भी ये इंटरव्यू में बताया था कि लोगों ने अमिताभ बच्चन की सफलता देखी लेकिन मैंने उनका स्ट्रगल देखा है।

तो आइए जानते हैं कि कैसी थी अमिताभ बच्चन और विक्रम गोखले की ऑफ स्क्रीन दोस्ती-

विक्रम गोखले को अमिताभ बच्चन ने दिलवाया था घर
करियर के शुरुआती दिनों में विक्रम गोखले को मुंबई में काफी संघर्ष करना पड़ा था। उनके पास रहने के लिए न कोई घर था न ही किसी का आसरा। उनकी इस समस्या की जानकारी अमिताभ बच्चन को हुई थी, तो उन्होंने तत्कालीन मुख्यमंत्री मनोहर जोशी को विक्रम गोखले के आवास के लिए चिट्ठी लिखी थी। उनकी इसी चिट्ठी के आधार पर विक्रम गोखले को मुंबई में सरकारी आवास मिला था। अमिताभ बच्चन का ये एहसान वो कभी नहीं भूले थे। विक्रम जब भी मीडिया से अपने संघर्ष के दिनों के बारे में बात करते, तो इस घटना का जिक्र जरूर करते।

विक्रम गोखले ने डेब्यू अमिताभ बच्चन की फिल्म परवाना से किया था।
विक्रम गोखले ने डेब्यू अमिताभ बच्चन की फिल्म परवाना से किया था।

दुनिया ने अमिताभ बच्चन की सफलता देखी, मैंने उनका संघर्ष देखा है- विक्रम गोखले
विक्रम गोखले ने दोस्त अमिताभ बच्चन के बारे में इंटरव्यू में एक बयान दिया था। उन्होंने कहा था कि अमिताभ बच्चन इंडिया सिनेमा के एक बेहतरीन एक्टर हैं। मेरे पास शब्दों की कमी हो जाती है, जब मैं उनकी तारीफ करता हूं। हम दोनों एक दूसरे को 55 साल से जानते हैं और मैं ये कह सकता हूं कि वो एक जेंटलमैन हैं। मेरा मानना है कि लोगों ने अमिताभ बच्चन की सफलता देखी है, लेकिन मैंने उनका स्ट्रगल देखा है। अगर लोग ये जानना चाहते हैं कि एक्टिंग क्या है, तो उन्हें अमिताभ बच्चन की फिल्में देखनी चाहिए।

खबरें और भी हैं...