अब कहां हैं मंदाकिनी?:26 साल से फिल्मों से दूर हैं 'राम तेरी गंगा मैली' की एक्ट्रेस, अब मुंबई में चलाती हैं हर्बल सेंटर और सिखाती हैं योगा

9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

1985 में हिंदी फिल्म सिनेमा में मंदाकिनी ने कदम रखा था, जो आज भी फिल्म 'राम तेरी गंगा मैली' से लोगों के बीच में पहचान बनाए हुए है। कहने को ये बात 37 साल पुरानी हो चुकी है, लेकिन इस अभिनेत्री का चेहरा आज भी दर्शक भूला नहीं पाए हैं।

1985 में शुरू किया था करियर

मंदाकिनी ने अपने फिल्मी करियर का आगाज 1985 में किया था। उन्होंने कहने को अपने फिल्मी सफर की शुरुआत बंगाली फिल्म 'अंतारेर भालोबाशा' से की थी, लेकिन इसी साल उन्होंने फिल्म 'मेरा साथी' के साथ हिंदी सिनेमा में भी कदम रख दिए। 1985 में उन्होंने दो फिल्में 'आर पार' और 'राम तेरी गंगा मैली' की।

राज कपूर के डायरेक्शन में बनी 'राम तेरी गंगा मैली' बॉक्स ऑफिस पर बड़ी हिट साबित हुई। इस फिल्म ने मंदाकिनी के करियर को नया मुकाम दे दिया। 'मेरा साथी' से शुरू हुआ मंदाकिनी का करियर 1996 में 'जोरदार' के साथ खत्म हो गया। फिल्मों से संन्यास लेने के पहले मंदाकिनी का नाम अंडरवर्ल्ड डॉन दाउद इब्राहिम के साथ भी जुड़ा।

मंदाकिनी ने 1990 में डॉ काग्युर टी रिनपोचे ठाकुर से शादी की।
मंदाकिनी ने 1990 में डॉ काग्युर टी रिनपोचे ठाकुर से शादी की।

1990 में की थी शादी

मंदाकिनी ने 1990 में डॉ काग्युर टी रिनपोचे ठाकुर से शादी कर ली जो कि बाद में बौद्ध भिक्षु बन गए। अब मंदाकिनी और उनके पति रिनपोचे मुंबई में एक तिब्बतन हर्बल सेंटर चलाते हैं। इसके अलावा मंदाकिनी योगा भी सिखाती हैं। इन दोनों के दो बच्चे हैं। बेटे का नाम रब्बील और बेटी का नाम राब्जे है।

करना चाहती हैं कमबैक

मंदाकिनी को फिल्मी दुनिया छोड़े 26 साल हो चुके हैं लेकिन अब वो वापसी करना चाहती हैं। पिछले साल ऐसी खबरें थीं कि वह कुछ वेबसीरीज मेकर्स के टच में हैं और अच्छी स्क्रिप्ट्स पर विचार कर रही हैं। मंदाकिनी अब 58 साल की चुकी हैं। वह सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव हैं और अक्सर अपनी फैमिली के साथ तस्वीरें शेयर करती रहती हैं।

खबरें और भी हैं...