• Hindi News
  • Entertainment
  • Amitabh Bachchan Remembers His Mother, Expresses Her Feelings By Singing The Song 'Meri Roti Ki Golai Maa'

मदर्स डे:अमिताभ बच्चन ने मां की याद में गाया गाना, 'मेरी रोटी की गोलाई मां' के जरिए बताई अपनी भावनाएं

मुंबई2 वर्ष पहले

महानायक अमिताभ बच्चन ने 'मदर्स डे' पर खास अंदाज में अपनी मां तेजी बच्चन को याद किया। रविवार की रात उन्होंने सोशल मीडिया पर एक वीडियो शेयर किया, जिसमें उन्होंने एक गीत 'मेरी रोटी की गोलाई मां' के माध्यम से मां से जुड़ी अपनी भावनाएं बताईं। इस वीडियो को बच्चन परिवार की पुरानी तस्वीरों को मिलाकर बनाया गया। जिनमें से अधिकतर में तेजी बच्चन नजर आ रही हैं।

इस गीत को खुद अमिताभ ने अपनी आवाज में गाया है। वहीं इसके लेखक पुनीत शर्मा और संगीतकार अनुज गर्ग हैं। इसके विजुअल्स अमिताभ बच्चन के निजी संग्रह और बिनानी सीमेंट के साल 2013 में बनाए गए विज्ञापन 'पैरेंटल लव' से लिए गए हैं। इसके ओरिजनल वर्जन का डायरेक्शन शूजित सरकार और उनकी टीम ने किया था, वही रीक्रिएट ईएफ बुशरा ने किया है।

अमिताभ बच्चन के गाये गीत की पंक्तियां...

'मेरी रोटी की गोलाई मां, मेरे सच की सब सच्चाई मां स्वेटर वाली बुनाई मां, छांव से ज्यादा ठंडी कांच पर लगी बिंदी, डर लगता है जब रोती है मां ना होने पर भी होती है मां, लोरी जैसी कोमल मैं बच्चा वो आंगन, मेरी आंखों में भर आई मां... मेरी रोटी की गोलाई मां, मेरी रोटी की गोलाई मां'

करीब 13 साल पहले हुआ निधन

अमिताभ बच्चन की मां का नाम तेजी बच्चन का असली नाम तेजवंत कौर था। उनका जन्म 12 अगस्त 1914 को तत्कालीन पंजाब के लयालपुर शहर में (अब पाकिस्तान में) हुआ था। वे सामाजिक कार्यकर्ता और मनोविज्ञान की प्रोफेसर थीं। शादी से पहले तक वे लाहौर के खूबचंद डिग्री कॉलेज में पढ़ाती थीं। 1941 में उनकी शादी हरिवंश राय बच्चन से हुई थी। उनके दो बेटे हैं, अमिताभ और अजिताभ। 21 दिसंबर 2007 को 93 वर्ष की आयु में उनका निधन हो गया था।

खबरें और भी हैं...