पहले बच्चे को खोने का दर्द / मिसकैरेज के दो साल बाद टीवी एक्ट्रेस अंकिता ने तोड़ी चुप्पी, बोलीं- 'मैं और पति रोज रात को खूब रोते थे'

X

दैनिक भास्कर

Jun 25, 2020, 05:54 PM IST

टेलीविजन एक्टर करण पटेल और उनकी पत्नी अंकिता भार्गव पिछले साल दिसंबर में एक बच्ची के पेरेंट्स बन चुके हैं। दोनों अपनी लाइफ में इस दौर को बेहद एन्जॉय कर रहे हैं लेकिन इससे पहले इन्होंने काफी बुरा दौर भी देखा है। 2018 में जब अंकिता पहली बार प्रेग्नेंट हुई थीं तो उनका मिसकैरेज हो गया था जिसके बाद दोनों गम में डूब गए।

अंकिता ने मिसकैरेज के तकरीबन दो साल बाद सोशल मीडिया पर अपना दर्द जाहिर किया है। अंकिता ने अपनी बेटी को गोद में लिए हुए एक फोटो शेयर की है जिसमें उसका चेहरा नजर नहीं आ रहा है। साथ ही उन्होंने मिसकैरेज के दर्द से उबरने की अपनी कहानी भी साझा की है। 

View this post on Instagram

🌸🌸🌸🌸🌸🌸🌸🌸🌸 Technically i wrote this a few days ago,But it took me time to muster up the courage to make this post! This is by far the most personal post that im ever going to write,With hopes that i can make atleast a little difference in someones life... At first i didnt want to talk about it to anyone at all... But then after having counselled more than TWO DOZEN women over dmz on instagram all over the country, I realised it is time I openly talk about ‘MY MISCARRIAGE’ The most important takeaway for me from this experience was.... DONT KEEP RELIVING THE PAST DONT KEEP WAITING FOR THE FUTURE JUST SIMPLY LIVE IN THE PRESENT I hope this helps... 🙏

A post shared by Ankita Karan Patel (@ankzbhargava) on Jun 23, 2020 at 11:50pm PDT

अंकिता को याद आया बुरा दौर: अंकिता ने लिखा, 'दो साल पहले आज ही के दिन मेरा मिसकैरेज हुआ था। मैं एक एड शूट के लिए थाइलैंड जाने वाली थी। बहुत खुश और स्वस्थ थी लेकिन फिर मेरा मिसकैरेज हो गया। मैं नहीं जानती मेरे साथ, मेरे शरीर के साथ या मेरे बच्चे के साथ क्या गलत हुआ लेकिन बस इतना समझ आया कि मुझे मेरे पहले बच्चे का चेहरा तक देखना नसीब नहीं हुआ! हमने उसके लिए बहुत प्रार्थना की थी।' 

अंकिता आगे लिखती हैं, 'पहले मुझे और करण को समझ नहीं आया कि हम कैसे इस दर्द से बाहर निकलें क्योंकि इसका कोई तरीका नहीं है। पहले हमारी अप्रोच एक-दूसरे के खिलाफ गई। मैं चाहती थी कि वो मेरा साथ दे और इस दर्द को हम साथ में सहें। उन्हें लगता था कि मेरा दुख उनके दर्द को देखकर और बढ़ जाएगा। तो जब भी हम साथ होते तो मुझे दिखाने के लिए वह नॉर्मल बिहेव करते लेकिन इस सबसे हम दोनों के अंदर और ज्यादा उदासी भर गई। फिर एक दिन मैंने करण से कह दिया कि मैं चाहती हूं कि हम दोनों इस दर्द को साथ मिलकर सहें और हमने ऐसा ही किया।' 

अंकिता ने आगे कहा, 'मेरे पति मेरे लिए सबसे बड़े सपोर्ट सिस्टम बनकर सामने आए। फिर हीलिंग का दौर शुरू हुआ। हम रोज रात को सोने से पहले खूब रोते थे। हमें किसी भी छोटी से छोटी बात पर रोना आ जाता था। चाहे वो किसी की गोद भराई का न्यौता हो या बच्चों का कोई एड लेकिन पति ने मुझे टूटने से बचा लिया।

अंकिता ने कहा कि उन्हें दुनिया उजड़ी हुई लगने लगी थी लेकिन फिर उन्हें इस बात से ताकत मिली कि उनके परिवार और फ्रेंड सर्किल में पांच और ऐसी महिलाएं थीं जिन्हें मिसकैरेज के बाद ऐसे ही अनुभव से गुजरना पड़ा। इससे उन्हें यह समझ आया कि वह अकेली नहीं हैं जो इस दुख से गुजर रही हूं और एक न एक दिन वह भी इससे उबर जाएंगी। '

अंकिता को किया था ट्रोल: अंकिता ने आगे बताया कि एक दौर ऐसा आया जब उन्हें सोशल मीडिया पर कुछ ग्रुप्स ने ट्रोल करना शुरू कर दिया। हमें ट्रोल्स ने कहा कि हम यह सब डिजर्व करते थे। हमारा कभी दूसरा बच्चा नहीं होगा, कुछ लोगों ने करण को मुझे छोड़ने की सलाह दे डाली और मुझे कहा कि मैं कभी मां नहीं बन पाऊंगी आदि। इससे मुझे बहुत बुरा लगा था। अंकिता ने आगे कहा कि जब वह दोबारा प्रेग्नेंट हुईं और बेटी का जन्म हुआ तो उनके पास भगवान को धन्यवाद कहने के अलावा कोई शब्द नहीं था। 

2015 में हुई थी शादी:अंकिता और करण ने 3 मई 2015 को मुंबई में शादी की थी। अंकिता ने 'संजीवनी' (2002), 'देखा एक ख्वाब' (2011-12) और 'रिपोर्टर्स' (2013) जैसे सीरियल्स में काम किया है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना