पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Entertainment
  • Tv
  • Lockdown Effect: Due To Financial Crices 'Bigg Boss' Fame Pritam Had To Leave Mumbai, Said I Worked As A Waiter, Cook, Delivery Boy In My Own Hotel

लॉकडाउन इफेक्ट:आर्थिक तंगी के चलते 'बिग बॉस' फेम प्रीतम को छोड़ना पड़ा था मुंबई, बोले- मैंने अपने ही होटल में वेटर, कुक, डिलीवरी बॉय का काम किया

23 दिन पहलेलेखक: किरण जैन
  • कॉपी लिंक

कोरोना वायरस की वजह से लगे लॉकडाउन की आर्थिक मार आम लोगों से लेकर मनोरंजन से जुड़े कलाकारों पर भी पड़ी है। 'बिग बॉस' फेम प्रीतम सिंह भी इस मार से नहीं बच पाए। हाल ही में दैनिक भास्कर से खास बातचीत के दौरान, प्रीतम ने बताया की इस लॉकडाउन की वजह से उनके कई प्रोजेक्ट्स टल गए हैं, जिसकी वजह से उन्हें डिप्रेशन और आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ा। इतना ही नहीं, उन्होंने यह भी बताया कि एक वक्त ऐसा आया था जब उन्हें मुंबई छोड़ना पड़ा था।

मेरा हाल बहुत खराब हो गया था: प्रीतम सिंह

प्रीतम बताते हैं, "2019 में मैंने अपनी रेडियो जॉकी की जॉब को छोड़ दिया था। उस वक्त मुझे टेलीविजन पर बहुत सारा काम मिल रहा था। साथ ही एंकरिंग के भी कई ऑफर्स मुझे मिल रहे थे, जाहिर है मुझे मेरा भविष्य बहुत अच्छा दिख रहा था और इसी वजह से मैंने जॉब छोड़ने का फैसला लिया था। लेकिन 2020 की शुरूआत में कोरोना की वजह से स्थिति बहुत खराब हो गई। यकीन मानिए, मेरा हाल बहुत खराब हो गया था। जो प्लानिंग मैंने की थी वो सब फेल हो गई और सब पेमेंट रुक गई। उस समय मैं बहुत बुरी तरह से डिप्रेशन का शिकार हो गया था। मैं एकलौता घर पर कमाने वाला व्यक्ति हूं। मैं उस मनोस्थिति में था की हर समय मुझे मेरे परिवार वालों के लिए डर सताता रहता था।"

प्रीतम मुंबई छोड़कर अपने परिवार वालों के साथ नागपुर चले गए थे

प्रीतम आगे बताते हैं, "सबसे अच्छी बात ये रही की मैं सेलिब्रिटी होने का बैगेज लेकर नहीं चला। मैं कुछ महीने बाद, मुंबई छोड़कर अपने परिवार वालों के साथ नागपुर चला गया। वहां मुझे मजबूरन अपना काम शुरू करना पड़ा। मैंने वहां एक छोटा होटल शुरू किया जहां का मैं कुक भी था और वेटर भी। मैं खुद ही बर्तन घिसता और तंदूर में चिकन भी बनाता। इतना ही नहीं, कई बार मैं खुद डिलीवरी करने भी जाता था। ये सब करने में मुझे बिलकुल शर्म नहीं आई। जब तक स्थिति थोड़ी सुधरने लगी तब फिर से लॉकडाउन घोषित हो गया। मुझे होटल को बंद करना पड़ा। तकरीबन एक साल नागपुर में बिताने के बाद, मैं अब फिर से मुंबई लौट आया हूं। इस बीच कुछ एक-दो शो किए लेकिन मैं अपनी आर्थिक स्थिति के लिए पूरी तरह से उस होटल पर ही निर्भर था। मैंने अपनी पूरी जमापूंजी उसमे लगा दी है। एक साल से ऊपर हो गया है, इंडस्ट्री को बंद हुए, काम नहीं है तो पैसे कहां से लाएं?

प्रीतम भगवान हनुमान जी के बहुत बड़े भक्त हैं

प्रीतम ने बातचीत के दौरान, बताया की इस बुरे वक्त ने उन्हें आध्यात्म की तरफ खींच लाया है। वे कहते हैं, "मैं भगवान हनुमान जी का बहुत बड़ा भक्त हूं। उनका नाम जपने से मैं काफी अच्छा महसूस करता हूं। अब मुझे किसी भी तरह का डिप्रेशन महसूस नहीं होता। मुझे इससे हर स्थिति में खुद को संभालने की हिम्मत मिलती है। अब मैं बहुत पॉजिटिव हो गया हूं और इस पॉजिटिविटी ने मेरी जिंदगी काफी बदल दी है।" प्रीतम, जिन्हें प्यार से 'प्रीतम प्यारे' के नाम से भी जाना जाता है। वे 'बिग बॉस 8' के फाइनलिस्ट में से एक हैं। 'बिग बॉस 8' में गौतम गुलाटी ने ट्रॉफी हासिल की थी। प्रीतम ने मेकर्स द्वारा ऑफर किए गए 25 लाख रुपए लेते हुए शो को छोड़ दिया था।

खबरें और भी हैं...