• Hindi News
  • Entertainment
  • Tv
  • Nupur Alankar Could Not Contact Her Brother in law Trapped In Afghanistan, Said It Has Been 9 To 10 Days Since We Last Spoke To Her

एक्ट्रेस का दर्द:नूपुर अलंकार अफगानिस्तान में फंसे बहनोई से नहीं कर पाईं संपर्क, बोलीं- हमें उनसे आखिरी बार बात किए 9 से 10 दिन हो गए हैं

5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

टीवी एक्ट्रेस नूपुर अलंकार और उनका परिवार उनके बहनोई कौशल अग्रवाल से संपर्क करने में असमर्थ हैं, जो उस समय अफगानिस्तान में थे जब तालिबान ने वहां पर कब्जा कर लिया था। जबकि काबुल से कई फ्लाइट्स के द्वारा सैकड़ों लोगों को वापस लाया गया है, लेकिन कौशल उनमें से नहीं लौटे। संकट के इस समय में नूपुर अपनी बहन जिज्ञासा के साथ ही रह रही हैं। जिज्ञासा भी खुद को सभी के सामने संभालने की पूरी कोशिश कर रही हैं। हालांकि, उन्होंने कहा कि वो हर रात मुश्किल से दो घंटे ही सो पाती हैं।

नूपुर और उनकी बहन की 9 से 10 दिन से नहीं हो पाई है कौशल से बात

नूपुर ने कहा, "मेरी बहन और मेरा उससे संपर्क टूट गया है। अब हमें उनसे आखिरी बार बात किए 9 से 10 दिन हो गए हैं।" नूपुर आगे कहती हैं कि आखिरी बार जब वो जिज्ञासा के पति से बात कर रही थीं, तो लाइन काट गई थी क्योंकि उन्होंने बताया था कि वो वहां पर अपने फोन को ज्यादा चार्ज नहीं कर पा रहे हैं। नूपुर और उनकी बहन को कौशल की लोकेशन नहीं पता है। इस बार में नूपुर कहती हैं, "उन्होंने हमसे कहा था कि वो उस समय जिस इंसान के साथ थे उनका नंबर भेज देंगे, लेकिन हमें उनसे इस तरह का कोई भी टेक्सट नहीं मिला।" 15 अगस्त को, तालिबान के काबुल पर कब्जा करने और राष्ट्रपति अशरफ गनी देश छोड़कर भाग जाने के कारण अफगानिस्तान सरकार गिर गई थी।

15 अगस्त को कौशल काबुल से भारत लौटने वाले थे

नूपुर ने कुछ दिनों पहले दैनिक भास्कर से बातचीत के दौरान बताया था कि कौशल ड्राई फ्रूट्स के मैन्युफैक्चरिंग के काम से जुड़े हुए है। इस बारे में नूपुर ने कहा, "लॉकडाउन के बीच कौशल को काबुल से अंजीर और खजूर के सिलसिले में काम मिला था। हम शुरूआत से ही उन्हें काबुल जाने के लिए मना कर रहे थे, क्योंकि वो जगह सेफ नहीं है, लेकिन कौशल नहीं माने। भारत में लॉकडाउन की वजह से उनके काम में थोड़ी रुकावट आ गई थी और इसलिए जब उन्हें काबुल से ऑफर आया, तो उन्होंने उसके लिए तुरंत हामी भर दी थी। 16 जुलाई को वे काबुल पहुंचे और वहां से वे कंधार चले गए। 15 अगस्त को वे भारत लौटने वाले थे, लेकिन इसी बीच तालिबान के लोगों ने पूरी जगह घेर ली। हम सब बस उम्मीद कर रहे हैं कि जल्द से जल्द किसी भी तरह हम कौशल से संपर्क कर पाएं।" बता दें कि, 50 साल के कौशल अग्रवाल मुंबई के कांदिवली इलाके में रहते हैं। उनकी पत्नी जिज्ञासा के अलावा उनके दो जुड़वा बच्चे भी हैं।