• Hindi News
  • Entertainment
  • Tv
  • Nupur Alankar's Brother in law Trapped In Afghanistan For Two Months, The Actress Said As Time Goes On Hope Of Kaushal's Return Getting Down

अफगानिस्तान में फंसे बहनोई:नूपुर अलंकार बोली- जैसे-जैसे वक्त बीत रहा है, वैसे-वैसे कौशल के लौटने की उम्मीद भी छूटती जा रही

4 महीने पहलेलेखक: किरण जैन
  • कॉपी लिंक

नूपुर अलंकार के बहनोई कौशल अग्रवाल पिछले दो महीने से अफगानिस्तान में फंसे हुए हैं। 16 जुलाई 2021 को वे अपने काम के सिलसिले में काबुल पहुंचे थे और वहां से कंधार चले गए। एक महीने बाद 15 अगस्त को वे भारत लौटने वाले थे लेकिन इसी बीच तालिबान के लोगों ने वहां कब्जा कर लिया। नूपुर की मानें तो जैसे-जैसे वक्त बीतता जा रहा है, वैसे-वैसे कौशल के लौटने की उम्मीद भी छूटती जा रही है।

समझ नहीं आ रहा है क्या करूं-नूपुर
दैनिक भास्कर से बातचीत के दौरान नूपुर ने कहा-"शब्दों में कैसे बयान करूं कि कौशल को लेकर कितनी चिंता हो रही है? समझ ही नहीं पा रही हूं कि ऐसा क्या करूं कि कौशल घर लौट आए। मेरी बहन जिज्ञासा की हालत बहुत ख़राब है, वहीं उसका 6 साल का बेटा भी बीमार है। पिछले दो दिन से उसे तेज बुखार है, बहुत वॉमिटिंग हो रही है, वह अपने पापा को बहुत मिस कर रहा है। जब हम उसे डॉक्टर के पास ले गए तब डॉक्टर ने भी कहा कि वह अपने पापा को लेकर सहमा हुआ है।
दूसरी तरफ जिज्ञासा ने भी अब रियेक्ट करना बंद कर दिया है। वो ज्यादा कुछ बोलती नहीं, खाना भी हम बाहर से ही आर्डर कर रहे है। मैं भी अब उसके साथ उसके घर रह रही हूं। क्या करूं जिससे एक बार फिर से इस परिवार को हंसता-खेलता देख पाऊं?"

हमारी आखिरी बार बात पिछले महीने हुई थी
वे आगे कहती हैं, "कौशल से हमारी आखिरी बार बात पिछले महीने की 19 तारीख को हुई थी। उन्होंने कहा था कि वे अपने किसी साथी का नंबर शेयर करेंगे ताकि हम यदि उनसे संपर्क ना कर सके तो उनके साथी के जरिये उनका हालचाल जान सकते हैं। एक महीना हो जाएगा ना कौशल की तरफ से कोई खबर, ना उनकी तरफ से किसी का नंबर मिला। सच कहूं तो अब नेगेटिव ख्याल आने लगे हैं। जैसे-जैसे वक्त बीतता जा रहा है, वैसे-वैसे कौशल के लौटने की उम्मीद भी छूटती जा रही है। हालांकि हम पूरी कोशिश कर रहे हैं अपने आपको पॉजिटिव रखने की। हमने इंडियन मिनिस्टर ऑफ़ एक्सटर्नल अफेयर से मदद मांगी है। उन्होंने हमें आश्वासन दिया है कि वे हमारी मदद करेंगे।"

कौशल ड्राई फ्रूट्स उद्योग से जुड़े हुए हैं। जुलाई महीने में वे अफगानिस्तान के काबुल शहर अंजीर और खजूर के काम के सिलसिले में गए थे। काबुल से वे कंधार चले गए थे। 50 साल के कौशल मुंबई के कांदिवली इलाके में रहते हैं। उनकी पत्नी जिज्ञासा के अलावा, उनके दो जुड़वा बच्चे भी हैं।