--Advertisement--

अभी शपथ भी नहीं ली है और BJP विधायक की दादागिरी शुरू

बिना किसी को सूचना दिए वे अपने प्लॉट से अतिक्रमण हटाने अपने आदमियो के साथ निकले थे।

Danik Bhaskar | Dec 23, 2017, 12:02 PM IST
काकड़िया ने खुद प्लॉट पर खड़े होकर अतिक्रमण दूर करवाया था। काकड़िया ने खुद प्लॉट पर खड़े होकर अतिक्रमण दूर करवाया था।

अहमदाबाद। लोगों को जब अधिकार मिल जाते हैं, तो वे उसका किस तरह से दुरुपयोग करते हैं, इसका एक मामला शुक्रवार को देखने को मिला। यहां ठक्करनगर से निर्वाचित भाजपा के विधायक ने अभी शपथ भी नहीं ली है, उसके पहले ही उन्होंने दादागिरी शुरू कर दी है। वे बिना किसी को सूचित किए अपनी जमीन पर अतिक्रमण हटाने के लिए पूरे संसाधन के साथ पहुंच गए। विधायक ने मचाया हंगामा…

राज्य के पूर्व मंत्री और ठक्करनगर से भाजपा के विधायक वल्लभ काकड़िया का सरसपुर में एक प्लॉट है। उस पर कुछ लोगों ने अतिक्रमण कर रखा है। उसे दूर करने के लिए वे शुक्रवार को अपने आदमियों और मशीनरी के साथ वहां पहुंच गए। इसके लिए उन्होंने न तो कार्पोरेशन की मदद ली और न ही पुलिस को इसकी सूचना दी। जब विधायक अतिक्रमण हटवा रहे थे, तब उनसे पूछा गया कि यह प्लॉट किसका है, तो उनका जवाब था मेरा है। इसके बाद जब उनसे फिर पूछा गया कि क्या इस प्लॉट की जानकारी आपने चुनाव आयोग को दी है, तो वे कहने लगे कि प्लॉट मेरे बेटे के नाम पर है। इस दौरान उन्होंने हंगामा भी मचाया।

मीडिया से पूछने लगे कि आप यहां कैसे

जब विधायक अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई कर रहे थे, तब कार्पोरेशन का एक अधिकारी भी वहां नहीं था। इस दौरान वहां भीड़ जमा हो गई। इसकी सूचना जब मीडिया को मिली, तब वह भी पहुंच गया। मीडिया को देखकर विधायक ने पूछा कि आप लोग कैसे? कुछ देर बाद उन्होंने अतिक्रमण की कार्रवाई को अधूरा छोड़कर वहां से चले गए।

अतिक्रमण हटाने गया था

सरसपुर मिल की पूरी जगह मैंने बेटे के नाम से खरीदी थी। इसमें से 20 प्रतिशत जमीन कटौती में चली गई। उसमें आवास योजना के मकान हैं। बाकी के प्लॉट में कई लोगों ने अतिक्रमण कर रखा है। इसलिए मैं अतिक्रमण हटाने गया था। मैंने शहर कोटडा पुलिस में आवेदन किया है।

वल्लभ काकड़िया, भाजपा विधायक

काकड़िया का वहां प्लाट और पेट्रोल पंप है

सरसपुर मिल के स्थान पर काकड़िया का प्लॉट है। उस पर कई लोगों ने अतिक्रमण कर रखा है। इस प्लॉट के बाहर प्रीत पेट्रोल पंप है, जो उन्हीं का है। उसके कर्मचारी ने आकर आवेदन दिया था। एसएम चौधरी, पीआई, शहरकोटडा।

वल्लभ काकड़िया की फाइल तस्वीर। वल्लभ काकड़िया की फाइल तस्वीर।
वल्लभ काकड़िया की फाइल तस्वीर। वल्लभ काकड़िया की फाइल तस्वीर।