--Advertisement--

जाको राखे साइयां, मार सके न कोय... रोंगटे खड़े कर देने वाला वीडियो

आपने ये कहावत कई बार सुनी होगी जाको राखे साइयां मार सके न कोय। इसी कहावत को साकार करता है ये दर्दनाक हादसा।

Danik Bhaskar | Feb 19, 2018, 04:15 PM IST

बनासकांठा,गुजरात. आपने ये कहावत कई बार सुनी होगी 'जाको राखे साइयां, मार सके न कोय'। इसी कहावत को साकार करता है ये दर्दनाक हादसा। अब हम आपको बताते है क्या है ये पूरा मामला जिसकी वजह से हमने यह कहावत कही। दरअसल गुजारत के बनासकांठा में एक भीषण हादसा हुआ जिसमें दुधमुंहा बच्चा एक्सींडेंट के तुंरत बाद खड़ा हो गया। उसे एक खरोच तक नहीं आई। मासूम के साथ उसके माता-पिता भी साथ थे जिनको गंभीर चोटें आईं हैं।आखिर कैसे हुआ ये दर्दनाक हादसा...

- पति-पत्नी और बच्चे के साथ बाइक से कहीं जा रहे थे।

- बाइक सवार ने बिना पीछे देखे बनासकांठा हाइवे को क्रॉस करने लगा।

- तेज स्पीड से पीछे से आई गाड़ी ने बाइक को इतनी तेज टक्कर मारी कि पलक झपकते एक बार कुछ समझ नहीं आया।

- बाइक हाइवे पर 20 फीट दूरी तक घिसटती चली गई। तीनों अलग-अलग दूर जा गिरे।

- दूर गिरा मासूम फुर्ती से मां के पास आकर उसे उठाने लगा। इतने में पति भी लड़खड़ाते हुए खड़ा हो गया।

- एक्सीडेंट के होते ही वहां मौजूद आसपास के लोग आ गए और तीनों को पास के हॉस्पिटल ले गए।

- पति-पत्नी को गंभीर चोटें आई है लेकिन मासूम को एक खरोंच तक नहीं आई।