Hindi News »Gujarat »Ahmedabad» Congress Rahul Gandhi Contested 36 Rallies To Cover 148 Gujarat Seats, कांग्रेस के राहुल गांधी ने 47 रैलियां कर 148 गुजरात सीट को कव�

गुजरात के 24 जिलों में राहुल की 57 रैलियां, 2012 में यहां मिली थीं सिर्फ 31% सीटें; क्या बढ़ेगा आंकड़ा

चुनाव प्रचार के दौरान राहुल ने नवसृजन यात्रा निकाली। इन चुनावों में उन्होंने कुल 57 रैलियों जरिए 24 जिलों को कवर किया।

dainikbhaskar.com | Last Modified - Dec 18, 2017, 08:14 AM IST

  • गुजरात के 24 जिलों में राहुल की 57 रैलियां, 2012 में यहां मिली थीं सिर्फ 31% सीटें; क्या बढ़ेगा आंकड़ा
    +2और स्लाइड देखें

    अहमदाबाद. गुजरात विधानसभा चुनाव के नतीजे आज आ जाएंगे। एग्जिट पोल अपने खिलाफ आने के बाद भी 22 साल से सत्ता से बाहर कांग्रेस जीत का दावा कर रही है। राहुल गांधी ने नवसृजन यात्रा और हार्दिक पटेल, जिग्नेश मेवानी और अल्पेश ठाकोर को कांग्रेस के सपोर्ट में करके BJP को टक्कर देने की पूरी कोशिश भी की है। राहुल इन चुनावों में 24 जिलों में घूमें। यहां 2012 में 148 में से सिर्फ 46 सीटें कांग्रेस को मिली थीं।


    क्या बढ़ेगी कांग्रेस की सीटें?
    - चुनाव प्रचार के दौरान राहुल ने नवसृजन यात्रा निकाली। इन चुनावों में उन्होंने कुल 57 रैलियों जरिए 24 जिलों को कवर किया। इन 24 जिलों की कुल 148 सीटों में से 2012 में सिर्फ 46 सीटें कांग्रेस के पास थी। जिन नौ जिलों में राहुल नहीं गए वहां की कुल 34 सीटों में से 2012 में पार्टी को 16 सीटें मिली थीं।

    जहां सबसे ज्यादा रैलियां की वहां सीटें बढ़ाने की चुनौती?
    - राहुल ने सबसे ज्यादा बनासकाठा में 6 रैलियां की। यहां 2012 में यहां की 9 में 5 सीटें कांग्रेस ने जीती थी। उन्होंने दाहोद और मेहसाणा में 5-5 सभाएं की। 2012 में दाहोद की 6 सीटों में 3 बीजेपी और 3 कांग्रेस के पास थीं। वहीं मेहसाणा की 7 में से 2 सीटें कांग्रेस के पास थीं।

    मंदिर जाने का कितना फायदा होगा?
    - गुजरात में 80-100 सीटें ऐसी हैं, जिन पर मंदिरों का असर रहता है। इसीलिए इस बार कांग्रेस का फोकस भी मंदिरों पर ज्यादा दिखा। राहुल गांधी 27 मंदिरों में गए। 8 बड़े मंदिरों वाली विधानसभाओं में से 2012 में 3 कांग्रेस के खाते में गई थी। इस बार राहुल ने जितना जोर लगाया है उससे कांग्रेस को सीटें बढ़ने की उम्मीद है।

    इन मंदिरों में गए राहुल गांधी
    - श्री रणछोड़जी मंदिर, मोगलधाम-बावला मंदिर, द्वारकाधीश, कागवड में खोडलधाम, नाडियाड के संतराम मंदिर, पावागढ़ महाकाली, नवसारी में ऊनाई मां के मंदिर, अक्षरधाम मंदिर, बहुचराजी के मंदिर, कबीर मंदिर, चोटिला देवी मंदिर, दासी जीवन मंदिर, राजकोट के जलाराम मंदिर, वलसाड के कृष्णा मंदिर, शंंकेश्वर जैन मंदिर, वीर मेघमाया, बादीनाथ मंदिर। इसके अलावा, वे कांग्रेस की नवसर्जन यात्रा के दौरान 5 और छोटे-बड़े मंदिरों में दर्शन के लिए पहुंचे।


    कांग्रेस के गढ़ रहे दक्षिण गुजरात में क्या होगा?
    - कभी कांग्रेस के गढ़ कहे जाने वाले दक्षिण गुजरात में बीजेपी ने 2012 में 35 में से 28 सीटों पर कब्जा किया गया था। वहीं, कांग्रेस यहां सिर्फ 6 सीटें जीत पाई थी। दक्षिण गुजरात में राहुल ने मोदी की तरह ही 6 रैलियां की हैं। मोदी ने जहां सबसे ज्यादा सूरत में 3 रैली की वहीं राहुल ने भरूच में तीन रैलियां की।

    बाकी रीजन में कैसा रहेगा कांग्रेस का प्रदर्शन
    - मध्य गुजरात की 61 सीटों में ​बीजेपी के पास 37 जबकि कांग्रेस के पास 22 सीटें थीं। सौराष्ट्र-कच्छ 54 सीटों में बीजेपी के पास 35 जबकि कांग्रेस के पास 16 सीटें थीं। उत्तर गुजरात की 32 सीटों में 15 बीजेपी जबकि 17 कांग्रेस के पास थीं।

    राहुल गांधी ने 21 दिन गुजरात में प्रचार किया
    गुजरात इलेक्शन के लिए राहुल गांधी ने ताबड़तोड़ सभाएं कीं। 21 दिन प्रचार के दौरान वे 15 रात गुजरात में थे। इस दौरान उन्होंने अलग-अलग 300 कार्यक्रमों में भाग लिया। इसमें सबसे अधिक 103 स्वागत कार्यक्रम थे। उन्होंने 12 चौपाल, 12 संवाद, 33 पब्लिक मीटिंग, 27 मंदिरों में दर्शन, 5 फोकस मीटिंग और 3 सोशल मिटिंग की थी। दोनों फेज में राहुल ने 44 नुक्कड मिटिंग की।

    5 रोड शो और 3 प्रेस मीट
    लंबे शेड्यूल में राहुल गांधी का गांव में जनसंपर्क कार्यक्रम कुछ कम देखने को मिला। गांव में जनसंपर्क की जगह उन्होंने रैली, मंदिर में दर्शन, रोड शो और पब्लिक मीटिंग की ज्यादा मदद ली। गौरतलब है कि राहुल गांधी ने दोनों फेज में सिर्फ 4 गांव में जनसंपर्क कार्यक्रम में भाग लिया। इस दौरान उन्होंने 3 प्रेस मीट भी किया और 5 बड़े रोड शो भी किए।

  • गुजरात के 24 जिलों में राहुल की 57 रैलियां, 2012 में यहां मिली थीं सिर्फ 31% सीटें; क्या बढ़ेगा आंकड़ा
    +2और स्लाइड देखें
  • गुजरात के 24 जिलों में राहुल की 57 रैलियां, 2012 में यहां मिली थीं सिर्फ 31% सीटें; क्या बढ़ेगा आंकड़ा
    +2और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Ahmedabad

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×