--Advertisement--

PM मोदी के गुजरात की बागडोर दो बिहारी दोस्तों के हाथ में

दोनों ही स्कूल में भी साथ-साथ थे, सिंह झा से सीनियर हैं।

Danik Bhaskar | Mar 05, 2018, 04:08 PM IST

अहमदाबाद। हाल में गुजरात में स्थायी डीजीपी के रूप में अाईपीएस शिवानंद झा की नियुक्ति की गई है। मूल बिहार के और 1983 बेच के आईपीएस शिवानंद झा की गुजरात के डीजीपी के रूप में नियुक्ति के साथ ही पीएम नरेंद्र मोदी के गृह राज्य की बागडोर दो बिहारी दोस्तों के हाथ में आ गई है। इसमें जगदीश नारायण सिंह मुख्य सचिव हैं, तो झा डीजीपी हैं। दोनों पटना की एक ही स्कूल में पढ़ते थे, हालांकि डॉ. सिंह, शिवानंद झा से सीनियर थे। दोनों ही गुजरात में लम्बे समय तक सर्वोच्च पद पर आसीन हैं। दोनों को गुजरात केडर ही मिला…

दोनों ही अधिकारियों में कई दिलचस्प संयोग हैं। पटना की स्कूल में साथ-साथ होने के अलावा दोनों को ही गुजरात केडर मिला। डॉ. सिंह इस समय मुख्य सचिव हैं। इसके पहले वे नर्मदा विभाग और गुजरात पेट्रो केमिकल कार्पोरेशन में महत्वपूर्ण पदों पर रह चुके हैं। डॉ. सिंह अगले साल सेवानिवृत्त होंगे। उन्हें हृदय की बीमारी है। उनके करीबी दोस्तों का कहना है कि वे शांत प्रवृत्ति के हैं। उधर डीजीपी शिवानंद झा अपने इस दोस्त को अच्छी तरह से जानते-पहचानते हैं। अब एक साल तक दोनों की गुजरात की बागडोर थामकर राज्य को सफलता की ऊचाइयों तक पहुंचाएंगे।