Hindi News »Gujarat »Ahmedabad» नोट बरसे छप्पर फाड़ के: World Of Mysteries And Adventures: Rainfall Of Money

ऐसे बरसे नोट, भरने के लिए बाल्टियां लानी पड़ीं, यह थी वजह

मामला देवभूमि द्वारका जिले के लांबा गांव का है। यहां भागवत कथा के दौरान श्रोताओं ने खूब नोट बरसाए।

dainikbhaskar.com | Last Modified - Apr 15, 2018, 10:42 AM IST

    देवभूमि द्वारका, गुजरात। कहावत है-'ऊपरवाला जब भी देता, देता छप्पर फाड़ के!' गुजरात में यह कहावत जीवंत होते दिखी। मामला देवभूमि द्वारका जिले के लांबा गांव का है। यहां भागवत कथा के दौरान श्रोताओं ने खूब नोट बरसाए।

    - दरअसल, गांव में भागवत कथा(लोक डायरा) के तहत भजन भी रखे गए थे। इसमें गुजरात के मशहूर सिंगर राजभा गढवी और संगीता लाबड़िया ने अपनी प्रस्तुति दी। भजनों पर मुग्ध श्रोताओं ने हवा में नोट उड़ाना शुरू कर दिए। यूं लग रहा था, मानों आसमान से नोट बरस रहे हों। देखते ही देखते मंच पर नोटों का ढेर लग गया।

    दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

    More From Ahmedabad

      Trending

      Live Hindi News

      0

      कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
      Allow पर क्लिक करें।

      ×