--Advertisement--

क्या खुद पर हमले का राजनीतिक लाभ उठा पाएंगे जिग्नेश?

जिग्नेश पर हुए हमले की खबर वकाई सच है तो इसका खामियाजा भाजपा को भुगतना पड़ेगा।

Danik Bhaskar | Dec 08, 2017, 01:50 PM IST

अहमदाबाद। गुजरात में दलित आंदोलन से निकले जिग्नेश मेवाणी सुर्खियों में हैं। गुजरात के बनासकांठा की वडगाम विधानसभा सीट से जिग्नेश चुनावी मैदान में हैं। कांग्रेस सहित कई पार्टियों का उन्हें समर्थन हासिल है। हाल ही में उनके काफिले की कार के शीशे तोड़े गए। इसके बाद जिग्नेश ने बीजेपी कार्यकर्ताओं पर आरोप लगाए। यहां तक कि उन्होंने पीएम नरेंद्र मोदी को टैग करते हुए ट्वीट तक कर दिया।

हमले से वे और मजबूत होंगे

सवाल यह है कि अपने ऊपर हो रहे सियासी हमले का क्या जिग्नेश लाभ ले पाएंगे? गुजरात में सामाजिक कार्यकर्ता का कहना है कि जिग्नेश मेवाणी पर किए गए हमले वो और मजबूत होंगे। गुजरात केंद्रीय विश्विद्यालय के प्रोफेसर जय प्रकाश प्रधान ने कहा कि जिग्नेश पर हुए हमले की खबर वकाई सच है तो इसका खामियाजा भाजपा को भुगतना पड़ेगा।