Hindi News »Gujarat »Ahmedabad» Modi Private Inquiry Into Ishrat Case: Vanzara

इशरत मामले में नरेंद्र मोदी को आराेपी बनाना चाहती थी आईपीएस की जांच टीम

इस मामले में तत्कालीन सीएम से गुप्त रूप से पूछताछ भी हुई थी, पर रिकॉर्ड गायब हैं-वंजारा

Dainikbhaskar.com | Last Modified - Mar 14, 2018, 12:33 PM IST

  • इशरत मामले में नरेंद्र मोदी को आराेपी बनाना चाहती थी आईपीएस की जांच टीम
    +3और स्लाइड देखें
    वंजारा ने दावा किया है कि जांच टीम ने नरेंद्र मोदी से गोपनीय तरीके से पूछताछ की थी।

    गांधीनगर। इशरत जहां एनकाउंटर मामले के आरोपी और पूर्व आईपीएस अधिकारी डी.जी. वंजारा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से गोपनीय रूप से पूछताछ हुई थी। यह दावा करते हुए वंजारा ने कहा कि तत्कालीन मुख्यमंत्री के रूप में उनसे पूछताछ हुई थी। पर इसे रिकॉर्ड में नहीं रखा गया है। इससे यह साफ हो जाता है कि यह पूरा मामला झूठा है। आईपीएस की जांच टीम मोदी को आरोपी बनाना चाहती थी...

    वंजारा ने बताया कि अाईपीएस सतीश वर्मा समेत जांच टीम हर हालत में मोदी तक पहुंचकर उन्हें आरोपी बनाना चाहती थी। इससे पूरी चार्जशीट तैयार की गई। दूसरी तरफ सीबीआई जज जे.के. पंड्या ने इन्हें मान्य सबूत के रूप में स्वीकार नहीं किया। वंजारा ने कोर्ट में यह भी दलील दी कि इस मामले में सहआरोपी डीजीपी पी.पी.पांडे को 3 सप्ताह पहले ही आरोपमुक्त कर दिया गया था।

  • इशरत मामले में नरेंद्र मोदी को आराेपी बनाना चाहती थी आईपीएस की जांच टीम
    +3और स्लाइड देखें
    पूछताछ के सारे रिकॉर्ड गायब कर दिए गए हैं।
  • इशरत मामले में नरेंद्र मोदी को आराेपी बनाना चाहती थी आईपीएस की जांच टीम
    +3और स्लाइड देखें
  • इशरत मामले में नरेंद्र मोदी को आराेपी बनाना चाहती थी आईपीएस की जांच टीम
    +3और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Ahmedabad

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×