अहमदाबाद

--Advertisement--

हर वो टॉकीज जलेगी, जहां पद्मावत चलेगी, क्षत्रियों का विरोध प्रदर्शन

प्रदर्शनकारियों के हाथ में रखे बैनर पर लिखा था नारा- ‘हाय रे भंसाली’

Danik Bhaskar

Jan 24, 2018, 12:03 PM IST
‘हाय रे भंसाली’ जैसे नारे के बैनर लेकर किया गया विरोध प्रदर्शन। ‘हाय रे भंसाली’ जैसे नारे के बैनर लेकर किया गया विरोध प्रदर्शन।

अहमदाबाद। संजय लीला भंसाली की फिल्म ‘पद्मावत’ के रिलीज को लेकर विवाद दिनों-दिन बढ़ते ही जा रहा है। शहर में कल इंकमटैक्स सर्कल में क्षत्रियों द्वारा फिल्म के खिलाफ नारेबाजी की। बेनर्स के साथ रैली भी निकाली। प्रदर्शनकारियों के हाथ में जो बैनर था, उस पर लिखा था ‘हाय रे भंसाली’, एक अन्य बैनर में लिखा ‘हर वो टॉकीज जलेगी, जहां पद्मावत चलेगी’, पुलिस ने इन प्रदर्शनकारियों पर काबू पाने की काेशिश की। पूरे गुजरात में प्रदर्शन…

सुप्रीमकोर्ट ने इस फिल्म को रिलीज करने की अनुमति दे दी है। इसके पहले 18 जनवरी को फिल्म रिलीज न करने के लिए विरोध प्रदर्शन किए गए थ। प्रदर्शनकारियों ने जब बस पर पथराव किया, तब पुलिस ने भीड़ के खिलाफ अपराध दर्ज किया था। इसके मद्देनजर अहमदाबाद के थिएटर्स मालिकों ने पुलिस अधिकारियों के साथ मीटिंग की थी।

क्या है विवाद?

राजस्थान मे करणी सेना, भाजपा नेता और हिंदूवादी संगठनों द्वारा इस फिल्म में इतिहास के साथ छेड़छाड़ करने का आरोप लगाया है। राजपूत करणी सेना का मानना है कि इस फिल्म में रानी पद्मावती और खिलजी के बेीच शूट किए गए सींस से उनकी भावनाओं को चोट पहुंची है। फिल्म में रानी पद्मावती को धूमर नृत्य करते हुए बताया गया है। इस पर राजपूत समाज के नेेताओं का कहना है कि रानी धूमर नृत्य नहीं करती थी। दूसरी ओर फिल्म के डायरेक्टर संजयलीला भंसाली का कहना है कि फिल्म में खिलजी और पद्मिनी के बीच कोई ड्रीम सीन नहीं बताया गया है।

क्षत्रियों ने फिल्म के खिलाफ किया विरोध प्रदर्शन। क्षत्रियों ने फिल्म के खिलाफ किया विरोध प्रदर्शन।
25 जनवरी को फिल्म रिलीज हो रही है। 25 जनवरी को फिल्म रिलीज हो रही है।
फिल्म मेकर पर इतिहास से छेड़छाड़ करने का आरोप। फिल्म मेकर पर इतिहास से छेड़छाड़ करने का आरोप।
Click to listen..