Hindi News »Gujarat »Ahmedabad» Six-Year-Old Boy Saw The Hanging Of His Mother Hanging

मां को फांसी पर लटकते देख 6 साल के बच्चे ने मचाया शोर, ऐसे बचाई जान

“जाको राखे सांइया, मार सके न कोय’’ कहावत काे चरितार्थ करने वाली घटना वाडज में सामने आई है।

Bhaskar News | Last Modified - Dec 18, 2017, 04:23 AM IST

मां को फांसी पर लटकते देख 6 साल के बच्चे ने मचाया शोर, ऐसे बचाई जान

अहमदाबाद.“जाको राखे सांइया, मार सके न कोय’’ कहावत काे चरितार्थ करने वाली घटना वाडज में सामने आई है। शराबी पति की रोज-रोज की मारपीट से तंग पत्नी ने दूसरे कमरे में पति के बेल्ट से गले में फांसी लगाकर आत्महत्या करने की कोशिश की। छह साल का बेटा मम्मी के पीछे-पीछे कमरे में गया और उसे फांसी लगाते देख जोर-जोर से चिल्लाने लगा। छोटे भाई के चिल्लाने की आवाज सुनकर 12 साल का बड़ा भाई तुरंत कमरे में आया और मम्मी के हाथ से बेल्ट खींचकर उसकी जान बचाई।

- जानकारी के अनुसार वाडज अखबार नगर के पास शिवम अपार्टमेंट में हेतलबेन (33) पति धीरजभाई बलदेवभाई रावत और दो बेटों ऋषभ (12), अक्षत(6) के साथ रहती हैं। धीरजभाई रिक्शा चलाते हैं पर शराब की बुरी लत के कारण पत्नी के साथ रोज-रोज मारपीट करते थे।

- हेतलबेन दो बच्चों और पति के साथ तीन साल से सास-ससुर से अलग रहती हैं। 12 दिसंबर को साढ़े आठ बजे रात धीरजभाई शराब पीकर घर और पत्नी से झगड़ा करते हुए मारने लगा। पति की रोज-रोज की मारपीट से तंग होकर हेतलबेन धीरजभाई का बेल्ट लेकर दूसरे कमरे में गई और गले में फांसी लगा ली।

- छह साल का बेटा भी हेतल के साथ ही कमरे में गया था। मम्मी को फांसी लगाते देख वह जोर-जोर से चिल्लाने लगा। अक्षत के चिल्लाते ही ऋषभ भी आ गया और मम्मी के हाथ से बेल्ट खींचकर उसकी जान बचाई। हेतलबेन को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया। अस्पताल से छुट्‌टी मिलने के बाद हेलत ने पुलिस में मामला दर्ज कराया है।

शराब के नशे में धुत धीरज ने रिमोट से बेटे को मारा था
- मंगलवार को रात में धीरज शराब के नशे में धुत होकर घर आया था। ऋषभ टीवी देख रहा था किसी बात पर धीरज गुस्से में आकर उसे रिमोट से मारा था। इसी बात को लेकर पति-पत्नी में झगड़ा हुआ था।

ननद और पति से तंग होकर हेतल मायके चली गई थी
- हेतल की ननद रेखाबेन अपने पति से तलाक लेकर मायके में ही रहती थी। रेखा अक्सर हेतल के खिलाफ धीरज के कान भरती रहती थी। पति-पत्नी के बीच किसी न किसी बात को लेकर हमेशा झगड़ा होता था।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Ahmedabad News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: maan ko faansi par ltkte dekh 6 saal ke bchche ne mchaayaa shor, aise bchaaee jaan
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Ahmedabad

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×