Hindi News »Gujarat News »Ahmedabad News» Anandiben Patel And Amit Shah Cold War During Candidates Selection

प्रत्याशी चयन- आनंदीबेन-शाह के बीच का कोल्डवाॅर सतह पर

dainikbhaskar.com | Last Modified - Nov 17, 2017, 03:02 PM IST

प्रत्याशियों के चयन में आखिरी पलों में गुटबंदी सामने आई, अब मोदी करेंगे फैसला।
  • प्रत्याशी चयन- आनंदीबेन-शाह के बीच का कोल्डवाॅर सतह पर
    +2और स्लाइड देखें

    अहमदाबाद। गुजरात विधानसभा चुनाव में टिकटों के आवंटन के मामले में भाजपा की आंतरिक कलह सामने आ गई है। इससे प्रत्याशियों के चयन का काम पूरी तरह से रूक गया है। अब गुजरात के 182 प्रत्याशियों का चयन का काम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर छोड़ दिया गया है। सतह पर आई गुटबंदी…

    पिछले तीन दिनों से भाजपा नेता उम्मीदवारों को लेकर कई बैठकें और एनालिसिस कर रहे हैं। किंतु आनंदी बेन और अमित शाह के बीच अंतर्कलह सामने आ जाने के कारण प्रत्याशियों के चयन का मामला खटाई में पड़ गया है। अब यह तय किया गया है कि यह काम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ही करेंगे। अमित शाह और आनंदीबेन के बीच मतभेद का मुख्य कारण यह है कि आनंदी बेन ने 52 सीटों पर अपने प्रत्याशियों के नाम बताए। ये नाम उन्होंने सीधे प्रधानंमत्री को भेज दिए।

    7 सीटों पर विवाद गरमाया

    भाजपा की केंद्रीय संसदीय बोर्ड की बैठक में भी आनंदीबेन के समर्थक 52 प्रत्याशियों को टिकट देने पर चर्चा हुई थी। इसमें से 45 नामों पर सहमति बन गई, किंतु 7 सीटों पर जाकर मामला उलझ गया। पार्लियामेंटरी बोर्ड में आनंदीबेन को बुलाया गया, फिर भी वे दिल्ली नहीं गईं। उनकी अनुपस्थिति में दिल्ली में कई नामों पर विवाद शुरू हो गया। इस संबंध में गुरुवार की शाम को अमित शाह अचानक ही अहमदाबाद पहुंचे। यहां लगातार 4 घंटे तक कमलम में बैठक मामले को सुलझाने की कोशिश की।

    2012 से चल रहा है शाह-बेन में कोल्डवॉर

    गुजरात विधानसभा चुनाव के प्रारंभ से ही भाजपा में आनंदीबेन और अमित शाह के बीच कोल्डवार चल रहा है। इस चुनाव में आनंदीबेन का वर्चस्व बढ़ेंगा और बेन जिसे चाहे उसे टिकट दे सकती हैं। यह भावना भाजपा कार्यकर्ताओं में देखी गई थी। दूसरी तरफ अमित शाह के गुजरात दौरों और गुजरात भाजपा की सभी बैठकों में अमित शाह की उपस्थिति से यह चर्चा थी कि अमित शाह ही टिकट आवंटन में प्रमुख भूमिका निभाएंगे। इन दोनों के बीच 2012 से कोल्डवार चल रहा है। पिछले साल आनंदीबेन के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफे के बाद यह समझा जा रहा था कि अब यह गुटबंदी खत्म हो जाएगी। पर इस समय टिकट के आवंटन को लेकर दोनों के बीच अंतर्कलह एक बार फिर सामने आ गई है।

    मामला बिगड़ने से अब मोदी ही करेंगे फैसला

    कार्यकर्ता अब दुविधा में हैं कि इस चुनाव में आनंदी बेन का वर्चस्व होगा या अमित शाह का। इन दोनों के बीच कोल्डवार की जानकारी अब प्रधानमंत्री तक पहुंच गई है। चुनाव टिकट की आकांक्षा रखने वाले इन दोनों नेताओं को साथ रखकर अब प्रधानमंत्री पर अपना ध्यान केंद्रित कर दिया है। अब भाजपा की 182 सीटों के लिए किसे प्रत्याशी बनाया जाए, यह पीएम ही तय करेंगे।

    आगेकी स्लाइड्स में देखें PHOTOS

  • प्रत्याशी चयन- आनंदीबेन-शाह के बीच का कोल्डवाॅर सतह पर
    +2और स्लाइड देखें
  • प्रत्याशी चयन- आनंदीबेन-शाह के बीच का कोल्डवाॅर सतह पर
    +2और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Ahmedabad News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Anandiben Patel And Amit Shah Cold War During Candidates Selection
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

      रिजल्ट शेयर करें:

      More From Ahmedabad

        Trending

        Live Hindi News

        0
        ×