Hindi News »Gujarat »Ahmedabad» Congress Headquarters Changed To Police Camp For Tickets

गुजरात चुनाव : टिकटों के लिए माथापच्ची, पुलिस छावनी में बदला कांग्रेस मुख्यालय

गुजरात में नौ और 14 दिसंबर को दो चरण में हो रहे चुनाव के दूसरे चरण के लिए सोमवार को नामांकन का अंतिम दिन है।

Bhaskar News | Last Modified - Nov 27, 2017, 03:56 AM IST

  • गुजरात चुनाव : टिकटों के लिए माथापच्ची, पुलिस छावनी में बदला कांग्रेस मुख्यालय
    बापूनगर सीट पर हिंमतसिंह पटेल के नाम की खबर मिलते ही युवक कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने प्रदेश कार्यालय पर बवाल करते हुए मुंडन कराया।

    अहमदाबाद.कुछ ही दिन पहले पाटीदार आंदोलन आरक्षण समिति (पास) नेता हार्दिक पटेल के करीबी सहयोगी दिनेश बांभणिया और उनके समर्थकों के विरोध के चलते यहां एक तरह से पुलिस छावनी में तब्दील हो गए कांग्रेस के प्रदेश मुख्यालय पर रविवार को टिकटों को लेकर मचे घमासान के चलते एक बार फिर कुछ ऐसा ही नजारा दिखा।


    गुजरात में नौ और 14 दिसंबर को दो चरण में हो रहे चुनाव के दूसरे चरण के लिए सोमवार को नामांकन का अंतिम दिन है और पार्टी ने बाजाप्ता सूची जारी करने की बजाय उम्मीदवारों को फोन पर जानकारी दी है तथा कथित तौर पर किसी गुप्त स्थान से मैंडेट (आधिकारिक आदेश पत्र) भी वितरित किया जा रहा है। इस बीच शहर तथा राज्य की कई सीटों पर उम्मीदवारों के नाम को लेकर जारी विरोध की गूंज यहां पालडी स्थित पार्टी मुख्यालय राजीव भवन तक पहुंच गई। इसके चलते इसके मुख्य द्वार और सामने पुलिस तैनात कर दी गई है। मजे की बात यह है कि विरोध प्रदर्शन के बीच मुख्यालय पर एक भी पार्टी पदाधिकारी मौजूद नहीं है।

    एक दिन पहले का हाल : नरोडा में नाटक, बापूनगर में बवाल, कार्यकर्ताओं ने कराया मुंडन

    कांग्रेस के दूसरे चरण के चुनाव के लिए उम्मीदवारों की सूची जारी करने से पहले शनिवार को कार्यकर्ता प्रदेश कार्यालय पर पहुंच गए। बापूनगर सीट पर हिंमतसिंह पटेल के नाम की खबर मिलते ही युवक कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने प्रदेश कार्यालय पर बवाल करते हुए मुंडन कराया। उम्मीदवारों की सूची जारी होने से पहले ही शनिवार को अहमदाबाद के बापूनगर और नरोडा सीट पर संभवित उम्मीदवार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया गया।

    इस दौरान यूथ कांग्रेस के तीन कार्यकर्ताओं साजन परमार, विजय मकवाणा और विक्रम सिंह राजपूत ने प्रदेश कार्यालय पर मुंडन कराकर विरोध किया। युवा कार्यकर्ताओं का कहना है कि एक ओर राहुल गांधी युवकों को मौका देने की बात करते हैं तो दूसरी ओर चुनाव हारने वाले उम्मीदवार को रिपीट कर रहे हैं, इससे पार्टी को भारी नुकसान होगा। युवा कार्यकर्ता दो घंटे तक प्रदेश कार्यालय पर बैठकर नारेबाजी करते रहे। वहीं, कांग्रेस प्रवक्ता मनु सिंघवी जैसे ही प्रस वार्ता पूरी करके बाहर निकले कार्यकर्ताओं ने उन्हें घेर लिया। सिंघवी ने मुद्दे को हाईकमान तक पहुंचाने का वादा किया।

    भाजपा सांसद लीलाधर वाघेला ने बेटे के टिकट को लेकर पार्टी को दी गई चेतावनी ली वापस

    सत्तारूढ़ भाजपा को राहत देते हुए इसके वयोवृद्ध सांसद लीलाधर वाघेला ने अपने बेटे को टिकट देने को लेकर पार्टी को दी गई इस्तीफे की चेतावनी रविवार को वापस ले ली। 82 वर्षीय वाघेला, जिन्होंने 2014 में विधायक रहते हुए पाटण लोकसभा सीट से सांसद चुने जाने के बाद डीसा विधानसभा सीट खाली कर दी, ने हाल में अपने बेटे दिलीप वाघेला के लिए इस सीट से टिकट की मांग करते हुए कहा था कि अगर ऐसा नहीं किया गया तो वह पार्टी से इस्तीफा दे देंगे और चुनाव मैदान में उतर जाएंगे। वाघेला ने भाजपा के मन की बात चाय के साथ कार्यक्रम में शिरकत करते के बाद पत्रकारों से कहा कि उन्होंने आक्रोश में ऐसा कह दिया था। उनके लिए टिकट के बारे में पार्टी का हर निर्णय मान्य होगा।

    कांग्रेस से आए विधायक ने टिकट नहीं मिलने पर कहा-भाजपा/नितिन पटेल ने किया धोखा

    कांग्रेस छोड़ कर भाजपा में शामिल हुए वीजापुर के विधायक प्रहलाद पटेल ने टिकट नहीं मिलने पर भाजपा और उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल पर धोखा देने का आरोप लगाया है। शंकरसिंह वाघेला के समर्थक समझे जाने वाले प्रहलाद पटेल ने गत 27 जुलाई को विधायक पद से त्यागपत्र दिया था और भाजपा में शामिल हो गए थे। वह ऐसा करने वाले 12 कांग्रेस विधायकों में से एक थे। उन्होंने खुलेआम कहा था कि वह भाजपा के प्रत्याशी होंगे। पार्टी ने उन्हें इस बार टिकट नहीं दिया। पटेल ने आरोप लगाया कि भाजपा और नितिन पटेल ने उन्हें टिकट का आश्वासन दिया था पर अब उनके साथ धोखा कर दिया गया है। ऐसा चुनाव के लिए पैसा जुटा पाने में उनकी असमर्थता के चलते किया गया है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Ahmedabad

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×