--Advertisement--

बेमुला ने सुसाइड नहीं की थी, इंडियन गवर्मेंट ने उसकी हत्या की थी ; गुजरात में बोले राहुल

गुजरात में विधानसभा चुनाव प्रचार के लिए पहुंचे कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने अब रोहित बेमुला का मुद्दा उठाया है।

Danik Bhaskar | Nov 25, 2017, 03:19 AM IST
राहुल ने कहा कि गुजरात में 22 साल में दलितों के लिए बीजेपी ने कोई काम नहीं किया है। राहुल ने कहा कि गुजरात में 22 साल में दलितों के लिए बीजेपी ने कोई काम नहीं किया है।

अहमदाबाद/पोरबंदर. गुजरात में विधानसभा चुनाव प्रचार के लिए पहुंचे कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने अब रोहित बेमुला का मुद्दा उठाया है। अहमदाबाद में एक कार्यक्रम के मंच से राहुल ने कहा कि रोहित बेमुला ने सुसाइड नहीं की थी, बल्कि इंडिया की गवर्मेंट ने उसकी हत्या की थी। सवालिया लहजे में उन्होंने कहा कि कैसे हिम्मत की रोहित वेमुला ने कि शिक्षा के लिए कॉलेज चला गया। चिट्ठी आती है मिनिस्टर के यहां से और उसको कुचल देते हैं। मोदी या बीजेपी सरकार ने गुजरात में 22 सालों में दलितों के लिए एक भी काम किया हो तो कोई बता दे।


बापू को पुष्पांजलि देकर पोरबंदर से शुरू किया प्रचार

इससे पहले शुक्रवार को राहुल ने विधानसभा चुनाव के पहले चरण के चुनाव प्रचार की शुरुआत पोरबंदर से की। उन्होंने कीर्ति मंदिर पहुंच कर राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को पुष्पांजलि अर्पित की। तत्पश्चात पुराने बंदरगाह एरिया में मछुआरों को संबोधित किया। राफेल डील-जय शाह मुद्दे पर केंद्र सरकार को घेरते हुए राहुल ने कहा कि मोदीजी गुजरात चुनाव से पहले संसद नहीं चलने देंगे। वजह, राफेल डील और जय शाह के मुद्दे पर उन्हें घिरने का डर है। कांग्रेस नेता ने नोटबंदी-जीएसटी को लेकर आरोप दोहराते हुए कहा कि नोटबंदी से कालाधन पकड़ने की बात तो दूर, देश के सभी चोरों का कालाधन सफेद हो गया। गुजरात में विकास सिर्फ शूट-बूट वाले इंडस्ट्रियलिस्ट का ही नजर आता है। आम जनता तो परेशान है।

जादू की झप्पी : ‘तुम्हारी तकलीफों का जवाब मैं शब्दों से नहीं दे सकता’

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी शुक्रवार शाम अहमदाबाद में टीचरों से रूबरू हुए। डॉ. रंजना अवस्थी नाम की टीचर अपने साथ हुए अन्याय की बात रखी। राहुल ने कहा कि कुछ सवाल ऐसी व्यथा दे जाते हैं कि उनका जवाब शब्दों से नहीं दिया जा सकता। सांत्वना देने के लिए राहुल ने लेडी टीचर को जादू की झप्पी दी। डॉ. रंजना ने कहा कि राहुल की सांत्वना से उनका दु:ख आधा दूर हो गया है। बता दें कि डॉ. रंजना एमडी पटेल राष्ट्रभाषा स्कूल में बतौर पार्टटाइम लेक्चरर 22 साल से काम कर रही हैं। उनका कहना है कि पूर्ण योग्यता के बावजूद भाजपा सरकार ने मेरे साथ अन्याय किया है।

कहां, क्या बोले राहुल

पोरबंदर : केंद्र ने मछुआरों की 300 करोड़ की डीजल सब्सिडी बंद की। कांग्रेस आपके लिए फिशरीज मंत्रालय बनाएगी।
ठाकोरभाई हॉल : सत्ता में आए तो मेडिकल इंफ्रास्ट्रक्चर के लिए अधिक फंड उपलब्ध कराएंगे। इसके अलावा कांग्रेस से पब्लिक क्या अपेक्षा रखती है, इसके सुझाव मांगे।
साणंद : मैं ऊना व हैदराबाद में दलितों के साथ था। वेमुला के साथ केंद्र ने अन्याय किया।
ओढव : 22 साल से गुजरात में शिक्षकों को अप्रैल फूल बना रही है सरकार। अयोग्य-शिक्षण का होलसेल निजीकरण हुआ है।

सांत्वना देने के लिए राहुल ने शिकायत लेकर आई टीचर को जादू की झप्पी दी। सांत्वना देने के लिए राहुल ने शिकायत लेकर आई टीचर को जादू की झप्पी दी।