--Advertisement--

मात्र 3 रुपए में आप घर की फल-सब्जियां 40 दिनों तक ताजा रख सकते हैं

प्लाज्मा रिसर्च द्वारा तैयार किए गए ‘वंडर वाटर’ से संभव है यह चमत्कार।

Dainik Bhaskar

Jun 20, 2018, 04:47 PM IST
प्लाज्मा रिसर्च द्वारा तैयार किया ‘वंडर वाटर’। प्लाज्मा रिसर्च द्वारा तैयार किया ‘वंडर वाटर’।
  • यह ई कोली फूग और अन्य माइक्रोबाईज का नाश करता है।
  • यह चमत्कारी पानी देश की रक्षा करने वाले जवानों, किसानों, व्यापारियों और गृहणियों के लिए लाभदायी होगा।

अहमदाबाद। सब्जी या फल को जब पेड़ या पाैधे से तोड़ा जाता है, तो वे एकदम ताजा होते हैं। ये फल-सब्जियां यदि इसी तरह से पूरे 40 दिनों तक ऐसे ही एकदम ताजा रहें, तो आप क्या कहेंगे? आप तो इसे चमत्कार ही मानेंगे, पर सच है, यह चमत्कार हो सकता है ‘वंडर वाटर’ से। जी हां, यदि आप उन फल-सब्जियों को इस ‘वंडर वाटर’ से धोएंगे, तो वे पूरे 40 दिनों तक एकदम ताजा रहेंगे। इस ‘वंडर वाटर’ की कीमत है केवल दो-तीन रुपए। प्लाज्मा रिसर्च ने तैयार किया ‘वंडर वाटर’...

गांधीनगर स्थित प्लाज्मा रिसर्च (IPR) ने इस चमत्कारी पानी यानी ‘वंडर वाटर’ को तैयार किया है। यह ई कोली फूग और अन्य माइक्रोबाईज का नाश करता है। चमत्कारी पानी में एक बार धोने के बाद फल-सब्जियां जैसे आलू, टमाटार या बेलों से तोड़े गई सब्जियां पूरे 40 दिनों तक एकदम तरोताजा रहेंगी। प्लाज्मा एक्टिवेट वॉटर (PAW) सिस्टम को फेसिलिटेशन सेंटर फॉर इंडस्ट्रियल प्लाज्मा टेक्नालॉजी (FCIPT) के वैज्ञानिकों ने तैयार किया है। इसकी कीमत 2-3 रुपए प्रति लीटर है।

सोल और बैक्टिरिया पर काम चल रहा है

वैज्ञानिकों के अनुसार कुछ महीने पहले सामान्य पानी को एक बार नॉन-थर्मल प्लाज्मा के साथ मिलाया गया। जिससे प्लाज्मा एक्टिवेट वॉटर के रूप में परिवर्तित हुआ है। उसके संभावित उपयोगों के लिए परीक्षण चल रहे हैं। बहरहाल बैक्टीरिया और साल पर उसका परीक्षण चल रहा है। यह जानकारी एपीडी के हेड डॉ. एस.के. नेमा ने दी।

किसानों और गृहणियों को होगा फायदा

यह चमत्कारी पानी देश की रक्षा करने वाले जवानों, किसानों, व्यापारियों और गृहणियों के लिए लाभदायी होगा। इस पानी को सब्जियों और फलों को धाेने से उसकी नेचुरल लाइफ बहुत बढ़ जाती है। इसके अलावा इन सब्जियों को कोल्ड स्टोरेज में भी रखने की आवश्यकता नहीं होती। इसे 40 दिनों तक सामान्य टेम्परेचर पर भी रखा जा सकता है।

प्रोजेक्ट पर काम जारी

डॉ. नेमा ने बताया कि वंडर वॉटर के रिसर्च के दौरान उसमें काफी मात्रा में एंटी माइक्रोबायल प्रापर्टीज डाली गई। गुजरात एन्वायरमेंट मैनेजमेंट इंस्टीट्यूट(GEMI) में किए गए परीक्षण में रिपोर्ट पाॅजीटिव आई है। यह वंडर वॉटर सब्जियों में शामिल escherichia coli(E.coli) बैक्टिरिया का सफाया कर देता है। हमने आणंद कृषि यूनिवर्सिटी के साथ मिलकर अब सोल और बैक्टीरिया पर काम कर रहे हैं। आने वाले दिनों में पूरे प्रोजेक्ट पर काम शुरू हो जाएगा। इस काम में भी लगातार रिसर्च चल रहा है।

40 दिनों तक रहेंगे एकदम तरोताजा। 40 दिनों तक रहेंगे एकदम तरोताजा।
एक लीटर वंडर वॉटर की कीमत केवल 3 रुपए। एक लीटर वंडर वॉटर की कीमत केवल 3 रुपए।
इसमें अभी और भी रिसर्च चल रहे हैं। इसमें अभी और भी रिसर्च चल रहे हैं।
X
प्लाज्मा रिसर्च द्वारा तैयार किया ‘वंडर वाटर’।प्लाज्मा रिसर्च द्वारा तैयार किया ‘वंडर वाटर’।
40 दिनों तक रहेंगे एकदम तरोताजा।40 दिनों तक रहेंगे एकदम तरोताजा।
एक लीटर वंडर वॉटर की कीमत केवल 3 रुपए।एक लीटर वंडर वॉटर की कीमत केवल 3 रुपए।
इसमें अभी और भी रिसर्च चल रहे हैं।इसमें अभी और भी रिसर्च चल रहे हैं।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..