Hindi News »Gujarat »Ahmedabad» Togadia Breaks Fast On Third Day

तीसरे दिन तोगड़िया की बिगड़ी तबीयत, खत्म किया अनशन

तोगड़िया ने कहा- अब हिन्दुओं के हित के लिए अब करेंगे भारत भ्रमण।

Dainikbhaskar.com | Last Modified - Apr 20, 2018, 02:20 PM IST

  • तीसरे दिन तोगड़िया की बिगड़ी तबीयत, खत्म किया अनशन
    +2और स्लाइड देखें

    अहमदाबाद। राम मंदिर के निर्माण को लेकर मंगलवार को अनशन पर बैठे विश्व हिंदू परिषद (वीएचपी) के पूर्व अध्यक्ष प्रवीण तोगड़िया ने तीसरे दिन गुरुवार को अपना अनिश्चितकालीन अनशन तोड़ दिया है। उनका कहना है कि अनशन उन्होंने साधु-संतों की सलाह पर तोड़ा है। तोगड़िया ने कहा कि वह अब हिंदुओं के हित के लिए भारत भ्रमण करेंगे। दो दिन में 3 किलो वजन हो गया कम...

    इस दौरान वह राम मंदिर, गोतस्करी, समान नागरिक संहिता, कश्मीरी हिंदुओं और बांग्लादेशी प्रवासियों के पुनर्वास का मुद्दा उठाएंगे। तोगड़िया ने गत 14 अप्रैल को विहिप के पहले सांगठनिक चुनाव में अपने खेमे की करारी पराजय के बाद ही केंद्र की मोदी सरकार पर अयोध्या में राम मंदिर निर्माण समेत हिन्दुओं के अन्य मुद्दों की उपेक्षा का आरोप लगाते हुए 17 अप्रैल से अहमदाबाद के पालडी में वाणिकर भवन परिसर में साधु संतों के साथ उपवास पर बैठे थे। मधुमेह के रोगी प्रवीण तोगड़िया के रक्त शर्करा का स्तर और रक्तचाप बढ़ गया था। गुरुवार को साधु संतों के हाथों से फलों का रस पीकर अपना अनशन समाप्त कर दिया। डॉक्टर तोगड़िया ने कहा कि स्वास्थ्य बिगड़ने के कारण वह अपना उपवास खत्म कर रहे हैं। उन्होंने हिंदुओं के कल्याण के लिए कार्य करने का संकल्प लेने को भी कहा। विहिप के पूर्व नेता का वजन दो दिन में तीन किलो कम हो गया है। उपवास स्थल पर मौजूद चिकित्सकों को डर था कि उपवास से उनकी किडनी प्रभावित हो सकती है और उन्हें अस्पताल में भर्ती करने की जरूरत पड़ सकती है।

    मोदी पर लगाए वादाखिलाफी के आरोप

    तोगड़िया ने अनशन की शुरुआत के मौके पर अपने संबोधन में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर कड़ा प्रहार किया था और उन पर हिन्दुओं से वादाखिलाफी का आरोप लगाया था। अनशन को रोकने के लिए राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के गुजरात के प्रांत प्रचार चिंतन उपाध्याय समेत तीन शीर्ष नेताओं के आग्रह को तोगड़िया ने ठुकरा दिया था। इसके बाद भाजपा के प्रदेश कोषाध्यक्ष सुरेन्द्र पटेल ने भी उन्हें समझाने का प्रयास किया था। उनके अनशन को शिवसेना ने भी समर्थन दिया था।

    भाजपा कार्यकर्ताओं पर हो रहा है दमन : तोगड़िया

    दमन पर बात करते हुए कहा कि वर्तमान समय में हिन्दुओं पर दमन हो रहा है। साथ ही साथ व्यापारियों और युवकों का भी दमन किया जा रहा है। सबसे ज्यादा दमन भाजपा कार्यकर्ताओं पर हो रहा है पर वे आवाज नहीं उठा सकते हैं। तोगड़िया ने भाजपा कार्यकर्ताओं से दमन के खिलाफ आंदोलन में शामिल होने का आह्वान किया।

    भाजपा को मदद करने वाला वर्ग सबसे ज्यादा है परेशान

    गोधरा कांड, गुजरात दंगों, नोटबंदी, जीएसटी आदि मुद्दों पर तोगड़िया ने कहा कि जो वर्ग भाजपा को मदद करता था वही सबसे अधिक परेशान है। उपवास में शामिल हुए संत महात्माओं ने भी केंद्र की भाजपा सरकार को आड़े हाथों लिया। तोगड़िया ने कहा कि उन्हें जिन मांगों के कारण विहिप से उन्हें बाहर किया गया है वे उनकी निजी मांगें नहीं हैं। भाजपा, आरएसएस व विहिप वर्षों से वही मांग करते आ रहे हैं। आज जब भाजपा खुद सत्ता में आ गई तो कांग्रेस के नक्शेकदम पर चल रही है।

    शिवसेना ने की तोगड़िया के समर्थन की घोषणा

    इससे पहले तोगड़िया को उनके उपवास पर समर्थन देने के लिए शिवसेना के 20 सदस्यों का शिष्टमंडल अहमदाबाद पहुंचा था। बुधवार को ही तोगड़िया के समर्थकों ने दावा किया था कि शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने तोगड़िया को समर्थन देने की घोषणा की है।

  • तीसरे दिन तोगड़िया की बिगड़ी तबीयत, खत्म किया अनशन
    +2और स्लाइड देखें
  • तीसरे दिन तोगड़िया की बिगड़ी तबीयत, खत्म किया अनशन
    +2और स्लाइड देखें
Topics:
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
India Result 2018: Check BSEB 10th Result, BSEB 12th Result, RBSE 10th Result, RBSE 12th Result, UK Board 10th Result, UK Board 12th Result, JAC 10th Result, JAC 12th Result, CBSE 10th Result, CBSE 12th Result, Maharashtra Board SSC Result and Maharashtra Board HSC Result Online

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Ahmedabad News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Togadia Breaks Fast On Third Day
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Ahmedabad

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×