शर्मनाक / “पीरियड्स” की जांच के लिए हॉस्टल की छात्राओं के कपड़े उतरवाए

प्रतीकात्मक तस्वीर प्रतीकात्मक तस्वीर
X
प्रतीकात्मक तस्वीरप्रतीकात्मक तस्वीर

  • भुज के सहजानंद गर्ल्स इंस्टीट्यूट के हॉस्टल की घटना
  • विरोध करने पर संचालकों ने कहा- हॉस्टल और कॉलेज छोड़ दो

दैनिक भास्कर

Feb 14, 2020, 06:50 PM IST

भुज. भुज में एक शर्मनाक मामला सामने आया है। मिर्जापर रोड पर स्थित स्वामी नारायण मंदिर संचालित सहजानंद गर्ल्स इंस्टीट्यूट के संकुल में प्रिंसिपल, प्रशासन, शिक्षिका और एक महिलाकर्मी ने 60 छात्राओं के कपड़े उतरवाकर उनके पीरियड्स की जांच की। 


पीरियड्स के दौरान अलग बैठना होता है
स्वामी नारायण संप्रदाय के नियमानुसार मासिक चक्र वाली छात्राओं को अलग से खाने-पीने और अन्य छात्राओं से अलग बैठना होता है। ऐसे में प्रशासन को संदेह है कि कुछ छात्राएं इस बात का छुपा लेती हैं, इसी कारण उनकी जांच की गई। इस जांच के बाद इंस्टीट्यूट के संचालकों ने छात्राओं को चुप रहने की धमकी देते हुए कहा कि यदि किसी ने इसकी शिकायत की तो उसे हॉस्टल से निकाल दिया जाएगा। कई छात्राओं ने बताया कि हॉस्टल में रहने वाली 60 छात्राओं को कॉलेज के सभागार में बुलाया गया था। प्रिंसिपल रीता बेन रणींगा, एडमिनिस्ट्रेटर अनिता बेन, शिक्षिका रमीला बेन और नयना बेन ने छात्राओं की प्रिंसिपल चैंबर में स्थित वॉशरूम में कपड़े उतरवाकर उनके मासिक चक्र की जांच की गई।


माफी पत्र लिखवा लिया
नाम न छापने की शर्त पर एक छात्रा ने कहा कि पैड फेंकने को लेकर छात्राओं से माफी पत्र लिखवा लिया था। जबकि संचालकों ने दावा किया है कि छात्राओं ने स्वयं ही माफी पत्र लिखने के लिए तैयार हो गई थी। संस्थान के प्रवीण भाई पिंडोरिया ने बताया कि सैनेटरी पैड देने के लिए 1 लाख रुपए में मशीन खरीदी गई है। अन्य संस्थाओं के सहयोग से भी नि:शुल्क सैनेटरी पैड उपलब्ध करवाए जाते हैं।


सीसीटीवी में दिखाई दे रही हैं छात्राएं
प्रिंसिपल चैंबर में सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं। मंगलवार की सुबह 11 से 12 बजे के बीच हॉल में सभी छात्राओं को बुलाया गया। इसके बाद एक-एक करके छात्राओं को आरोपियों की तरह चैंबर में बुलाया गया। स्कूल प्रशासन की यह हरकत सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई है।


छुट्‌टी पर चली गईं प्रिंसिपल
सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार मंगलवार की इस घटना के बाद छात्राओं के बीच काफी नाराजगी है। इसके बाद विवाद बढ़ने पर प्रिंसिपल रीता बेन छुट्टी पर चली गई। इतना ही नहीं उन्होंने फोन रिसीव करना भी बंद कर दिया।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना