मुहिम / सूरत शहर में प्रेमी संग रोज भाग रहीं 2 किशोरियां

10 दिसम्बर से शुरू होगी पुलिस की मुहिम 10 दिसम्बर से शुरू होगी पुलिस की मुहिम
X
10 दिसम्बर से शुरू होगी पुलिस की मुहिम10 दिसम्बर से शुरू होगी पुलिस की मुहिम

  • भविष्य खराब न करो, शादी की सही उम्र का तो इंतजार करो-पुलिस
  • 10 दिसंबर से पुलिस छात्राओं को समझाने का काम शुरू करेगी
  • स्कूल संगठन ने कहा- इसमें हमारा पूरा सहयोग मिलेगा

Dainik Bhaskar

Dec 02, 2019, 02:33 PM IST

सूरत. शहर में रोज 2 नाबालिग छात्राएं घर छोड़कर प्रेमी के साथ भाग जा रही हैं। इनकी उम्र औसतन 13 से 16 वर्ष की होती है। छात्राओं के भागने के हर महीने 50 से ज्यादा मामले दर्ज किए जा रहे हैं। इसे रोकने के लिए पुलिस 10 दिसंबर से मुहिम शुरू करेगी।
 

छात्राओं कोे समझाएगी पुलिस
इस मुहिम के तहत डीसीपी विधि चाैधरी अपने सहकर्मियों के साथ स्कूलों में जाकर छात्राओं को समझाएंगी। उनसे कहेंगी कि यह कानून के खिलाफ है, भविष्य खराब मत करो, घर वालों का खयाल करो और शादी की सही उम्र तक इंतजार करो। कच्ची उम्र में शादी करने के दुष्परिणामों के बारे में भी बताया जाएगा। पुलिस छात्राओं को बताएगी कि भारतीय कानून के मुताबिक शादी की सही उम्र 18 वर्ष है। इस कानून के उल्लंघन से उन्हें और उनके परिवार को क्या सजा हो सकती है। पुलिस की इस मुहिम में स्कूलों ने भी साथ देने का वादा किया है।
 

4 लाख बच्चियों को दी थी गुड टच बैड टच की जानकारी
इससे पहले डीसीपी विधि चौधरी ने छोटी बच्चियों से हो रही दुष्कर्म की घटनाओं को रोकने के लिए गुड टच बैड टच अभियान चलाया था। इसमें 4 लाख से ज्यादा बच्चियों को जानकारी देकर उन्हें अपराधियों से बचने और खुद की सुरक्षा के तरीके बताए गए थे। स्कूल संगठन के प्रवक्ता दीपक राजगुरु का कहना है कि पुलिस के इस अभियान में हम उनके साथ हैं। जो भी अभियान छात्र-छात्राओं और समाज हित में होगा हम उसमें पूरा सहयोग करेंगे। इसके लिए सभी स्कूलों को कहा जाएगा।
 

सही उम्र में शादी नहीं करने से प्रेमी और लड़की का भविष्य खराब होता है
हम इस अभियान की शुरुआत 10 दिसंबर से करेंगे। इसमें 2 लाख से ज्यादा बच्चियों को जानकारी दी जाएगी। स्कूलों से इस बारे में बात कर ली गई है। स्कूल संगठन ने साथ काम करने की सहमति दी है। बच्चे नासमझी से कच्ची उम्र में शादी करने के लिए घर से भाग जाते हैं। उसके बाद पुलिस में अपरहण का मामला दर्ज करवाया जाता है। लड़के पर कानून के मुताबिक कार्रवाई होती है। लड़की का पूरा भविष्य खराब हो जाता है। कई मामलों में उसे नारी गृह में रहने की नौबत आ जाती है। -विधि चौधरी, डीसीपी

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना