खुलासा / बच्चों का अपहरण कर उनसे भीख मंगवाने वाले रेकेट का पर्दाफाश!



आरोपी बेताब उर्फ शिवम आनंद सलाट की फाइल तस्वीर आरोपी बेताब उर्फ शिवम आनंद सलाट की फाइल तस्वीर
X
आरोपी बेताब उर्फ शिवम आनंद सलाट की फाइल तस्वीरआरोपी बेताब उर्फ शिवम आनंद सलाट की फाइल तस्वीर

  • 4 बच्चियों के अपहरण का खुलासा
  • महिला समेत चार की धरपकड़

Dainik Bhaskar

Sep 09, 2019, 04:59 PM IST

अहमदाबाद. राज्य में बच्चों का अपहरण कर उनसे भीख मंगवाने या चोरी करवाने वाले रेकेट का पर्दाफाश हुआ है। इस संबंध में महिला क्राइम ब्रांच ने एक महिला समेत चार आरोपियों की धरपकड़ की है। उनके चंगुल से 10 बच्चों को भी छुड़वाया। इन बच्चों के डीएनए टेस्ट करवाए गए।


दो बच्चियों का अपहरण सूरत से
आरोपियों के पास से जो बच्चे मिले हैं, उनसे से दो बच्चियों का सूरत से अपहरण कर उन्हें अहमदाबाद लाया गया था। एक बच्ची पुणे से अपहृत कर लाई गई थी। एक बच्ची को कमला नाम की महिला आरोपी को देना बताया गया है। पुलिस ने इस गेंग की सूत्रधार आनंदी सलाट के बेटे बेताब उर्फ शिवम को अरेस्ट किया है।


खिलौने बेचने के बहाने करते अपहरण
आरोपी शिवम ने बताया कि मां आनंदी सलाट, उनका भाई आनंद, इनेश, राजेश और संपत मद्रासी के साथ अहमदाबाद, सूरत, राजकोट, आणंद और वडोदरा जैसे शहरों में आयोजित मेलों में वे खिलौने बेचने के बहाने जाते। सूरत जैसे रेल्वे स्टेशनों में भीख मांगने वाले गरीब परिवार के बच्चों को टार्गेट कर अपहरण कर लेते। इन्हें अहमदाबाद लाकर उन्हें वटवा में उनकी मां और भाई के मकान में रखते थे। पुलिस ने जब इस मकान में दबिश दी, तो आनंदी ने उन बच्चों को अपने परिवार का बताया। तब पुलिस ने उन बच्चों का डीएनए टेस्ट करवाया।


हाथ-पैर में पट्टी बांधरक भीख मंगवाते
इस डीएनए टेस्ट में पोमी, चाॅकलेट और अन्य दो बच्चियों के डीएनए आरोपी महिला से मैच नहीं हो पाए। तब पता चला कि पोमी और चॉकलेट को 5 साल पहले सूरत रेल्वे स्टेशन से अपहृत कर लाया गया था। जहां एक बच्ची को पुणे से अपहृत किया गया था। इन बच्चों के हाथ-पैरों पर पट्टी बांधकर उनसे भीख मंगवाई जाती। उनसे चोरी भी करवाई जाती। जो इसका विरोध करता, उसकी खूब पिटाई होती।
 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना