कलंकित होते रिश्ते / भांजी से दुष्कर्म करने वाले मामा को 7 साल की कैद

प्रतीकात्मक तस्वीर प्रतीकात्मक तस्वीर
X
प्रतीकात्मक तस्वीरप्रतीकात्मक तस्वीर

  • भट्ठे में काम करने वाली युवती को खेत में ले गया था मालिक
  • ईंट का भट्ठा चलाता है आरोपी

दैनिक भास्कर

Nov 08, 2019, 12:54 PM IST

वलसाड. वलसाड के उमरगांव तालुका स्थित मांडा गांव में 15 साल की भांजी से दुष्कर्म करने वाले चचेरे मामा को वलसाड सेशंस कोर्ट ने अंतिम सुनवाई के दौरान 7 साल कैद की सजा सुनाई है। ईंट का भट्ठा चलाने वाले चचेरे मामा किशोरी को अनाज पीसने के लिए ले गया था, जहां से वापस लौटते समय उसकी नीयत बिगड़ी और उसने किशोरी को नजदीक के खेत में ले जाकर उससे दुष्कर्म किया। डीजीपी अनिल त्रिपाठी की दलीलों को मान्य रखते हुए एडीशनल सेशंस जज एमआर शाह ने गुरुवार को इस केस में आरोपी मामा को 7 साल कैद की सजा का आदेश जारी किया है।


नीयत हुई खराब
जानकारी के अनुसार उमरगांव तालुका के सरीगाम स्थित रामा फलिया में रहने वाले किशन गजू भेंकर जो मांडा गांव में ईंट का भट्ठा चलाने का काम करता था। जिसमें 15 साल की किशोरेी मजदूरी काम करने आती थी। ईंट का भट्ठा चलाने वाला किशन इस युवती की मां के भाई का साला लगता था। सरीगाम में रहने वाली युवती की मां भी अन्य जगह पर मजदूरी करती थी। गरीब एवं श्रमिक परिवार की युवती 22 मार्च 2017 के दिन मांडा गांव में ईंट के भट्ठे पर काम करने के लिए घर से निकली थी। इस दौरान दोपहर के समय ईंट का भट्ठा चलाने वाले किशन उसे अनाज पीसने के लिए अपने साथ ले गया। जहां से वापस लौटते समय उसकी नीयत खराब हो गई।


युवती की शिकायत के बाद आरोपी अरेस्ट
इस दौरान किशन उसे जबरदस्ती नजदीक के खेत में ले गया जहां पर उसने दुष्कर्म किया। इसके बाद किशोरी वापस ईंट के भट्ठे पर आने के बाद शाम को घर लौटी और अपने परिवारजनों को घटना की जानकारी दी। किशोरी के साथ हुई दर्दनाक हादसे की जानकारी मिलते ही किशोरी की मां ने भीलाड पुलिस थाने में किशन के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई। इस मामले को दर्ज करने के बाद भीलाड पुलिस ने तुरंत आरोपी को गिरफ्तार कर आगे की कार्रवाई की। वलसाड सेशंस कोर्ट में इस मामले में सुनवाई चली। गुरुवार को अंतिम सुनवाई के दौरान डीजीपी अनिल त्रिपाठी की दलीलों को मान्य रखते हुए एडीशनल सेशंस जज एमआर शाह ने आरोपी किशन को 7 साल कैद की सजा के साथ 1 हजार रुपए जुर्माने की सजा सुनाई है। जुर्माने की रकम नहीं भरी जाती है तो 6 महीने की सजा का भी आदेश दिया गया है।
 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना