--Advertisement--

इनका काम देख पुरुष भी रह गए स्तब्ध

Dainik Bhaskar

Mar 08, 2018, 01:42 PM IST

पति बीमार, वीणाबेन दूध के साथ खेती भी संभालती हैं।

Women Day Special

हिम्मतनगर | साबरकांठा के जेतपुर गांव की वीणाबेन रोज तबेले में गायों को नहनाले के बाद मशीन से दूख निकालती हैं। इसके बाद दो कैन में भरकर बाइक से दूध मंडली में खुद ही पहुंचाने जाती हैं। इसके बाद घर का कामकाज संभालती हैं। वीणाबेन की 18 एकड़ जमीन है। पति राजेन्द्र कुमार को आठ साल से कमर दर्द की परेशानी है। खेती का काम भी संभालती हैं।

Women Day Special

रोजाना 50 ट्रेन का परिचालन करती हैं, एक बार राजधानी रोकी तो मिला अवार्ड

 

दाहोद | वैशालीबेन देश की पहली महिला अधीक्षक हैं जो रोजाना 50 ट्रेनों का परिचालन करती हैं। वैशालीबेन ने एक बार राजधानी एक्सप्रेस को चालक द्वारा ग्रीन सिग्नल न दिखाने पर रोक दिया था। राजधानी रोकने पर वैशालीबेन को अवाॅर्ड देकर सम्मानित किया गया था। दाहोद स्टेशन पर 50 ट्रेनें गुजरती हैं। ट्रेन की हर गतिविधि जैसे सिग्नल देने, ट्रेन के रूकने या रवाना होने आदि की जिम्मेदारी वैशालीबेन पर है। शादी के बाद, ससुराल वालों के साथ वृद्ध मां और बच्चों की ज़िम्मेदारी वैशाली पर थी जिसे बखूबी निभा रही हैं। 

X
Women Day Special
Women Day Special
Astrology

Recommended

Click to listen..