पार्किंग पॉलिसी मंजूर / वाहन खरीदने से पहले मनपा को बताना होगा घर में पार्क करने की जगह है या नहीं, स्ट्रीट पार्किंग का लगेगा शुल्क



Before buying a vehicle place for parking in house must be told about
X
Before buying a vehicle place for parking in house must be told about

  • शनिवार को एक विशेष बैठक में सीएम विजय रूपाणी ने दी हरी झंडी

Dainik Bhaskar

Dec 02, 2018, 08:51 AM IST

सूरत.  मनपा की नई पार्किंग पॉलिसी को राज्य सरकार ने शनिवार को मंजूरी दे दी। एक विशेष बैठक मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने मनपा के प्रस्ताव को पास कर दिया। मनपा के अनुसार इससे करीब 10 लाख नौकरियां पैदा होंगी।

 

मास ट्रांसपोर्टेशन के 64 किमी के रूट पर रोज करीब 2 लाख लोग यात्रा करते हैं, जबकि करीब 7.50 लाख लोग निजी वाहनों का इस्तेमाल करते हैं। इनके लिए पार्किंग पॉलिसी जरूरी थी। इस पॉलिसी के लागू होने के बाद वाहन खरीदने से पहले मनपा को बताना होगा कि आपके घर में पार्किंग के लिए जगह है कि नहीं। स्ट्रीट पर पार्क करने का शुल्क लगेगा।

 

निर्माण के वक्त पास की मनपा जमीन पर शुल्क दे करें पार्क

शहर के रिहाइशी और औद्योगिक निर्माणों के लिए सालाना और छमाही शुल्क जमा करके पास की मनपा जमीन पर पार्किंग की जा सकेगी। ऐसी जगह पर दिव्यांगों के लिए पार्किंग का कोई चार्ज नहीं लिया जाएगा। यहां से होने वाली आय को पार्किंग सुधारने में ही खर्च किया जाएगा। नई पॉलिसी के तहत शहरभर में नो पार्किंग जोन भी बनाए जाएंगे।

 

महत्वपूर्ण क्षेत्रों को प्रीमियम घोषित करेंगे
नई पॉर्किंग पॉलिसी को राष्ट्रीय शहरी वाहन व्यवहार नीति (एनयूटीपी) 2006 के तहत लागू किया जाएगा। इसके तहत शहर के महत्वपूर्ण इलाकों को प्रीमियम घोषित किया जाएगा। ऐसे इलाकों में स्ट्रीट पर पार्किंग करने पर शुल्क वसूला जाएगा। इस तरह की पॉर्किंग में दो पहिया, तीन पहिया और चार पहिया वाहनों के लिए अलग-अलग पॉर्किंग दर तय की जाएगी।

 

स्कूल की खाली जगह पर भी होगी पार्किंग
पार्किंग का शुल्क का भुगतान क्रेडिट कार्ड, मोबाइल के जरिए और मनी ट्रांसफर से किया जा सकेगा। इसके लिए एक विशेष ट्रैफिक सेल बनाया जाएगा। सरकारी जमीन, स्कूल, दफ्तर जैसे प्रतिष्ठानों में खाली पड़ी जगहों को भी वर्किंग ऑवर के बाद पॉर्किंग के लिए शेयरिंग में इस्तेमाल किया जाएगा। सामान ढोने वाले वाहन, साइकिल और अन्य वाहनों के लिए नियम बनाए जाएंगे। स्मार्ट सिटी के अंतर्गत पार्किंग को मोबाइल से जोड़ा जाएगा, ताकि आसानी से इसे खोजा जा सके।

 

 

नई पार्किंग पॉलिसी की खास बातें

  • महानगर पालिका अवैध पार्क गाड़ी को हटा सकेगी।
  • हर जोन में रिहायशी क्षेत्र के पास पे एंड पार्क की व्यवस्था की जाएगी।
  • शहर को इनर और आउटर सर्कल में विभाजित किया जाएगा, जिसके आधार पर चालान कटेंगे। 
  • शहर के जिन क्षेत्रों में ज्यादा भीड़भाड़ होगी वहां पार्किंग शुल्क कम होगा। 
  • वाहन खरीदने से पहले मनपा को बताना पड़ेगा कि आपके घर में पार्किंग के लिए जगह है या नहीं।
  • भेस्तान और वेसू जैसे शहर के बाहरी इलाकों में कम जुर्माना लिया जाएगा।
  • मार्शल, सुपरवाइजर और अवैध पार्किंग हटाने वालों की नियुक्ति की जाएगी।
  • वाहन पार्किंग के लिए एनओसी लेना अनिवार्य।
  • कुछ रिहाइशी इलाकों में ही लोग घर के बाहर स्ट्रीट पर गाड़ी पार्क कर सकेंगे, जबकि अन्य लोगों को अपने नजदीकी पे एंड पार्क में गाड़ी खड़ी करनी होगी।
  • ट्रैफिक प्वाइंट का जिम्मा मनपाकर्मी संभालेंगे।
COMMENT