अहमदाबाद / हाईकोर्ट का फर्जी जज बनकर नि:संतान दम्पति को घर से निकाला



गुजरात हाईकोर्ट गुजरात हाईकोर्ट
X
गुजरात हाईकोर्टगुजरात हाईकोर्ट

  • 9 साल पहले भी इसी अपराध में सजा हुई थी
  • दम्पति को घर का पजेशन देने के आदेश

Dainik Bhaskar

Jul 13, 2019, 04:13 PM IST

अहमदाबाद. हाईकोर्ट का फर्जी जज बनकर लोगों की सम्पत्ति को हड़पने वाले के खिलाफ हाईकोर्ट में पिटीशन दाखिल कराई गई है। घाटलोडिया के नि:संतान दम्पति और घुटने का ऑपरेशन कराने वाले को घर से बाहर निकाल दिया गया था। आश्चर्य की बात यह है कि पुलिस भी उसे हाईकोर्ट का जज ही मान रही थी, तभी उसने जज का सहयोग किया।


घर वापस दिलाने का आदेश
फर्जी जज बने शख्स ने पुलिस प्रोटेक्शन के साथ 15 व्यक्तियों को मूल फ्लैटधारक के घर भेजकर फ्लैट सील करवा दिया था। इससे दम्पति बेघर हो गए। जब इसकी शिकायत की गई, तो कोर्ट भी चौंक गई। कोर्ट ने पुलिस और कलेक्टर को आदेश दिया कि दम्पति को उनके घर का पजेशन दिलवाए।


पुलिस भी आरोपी को जज मान बैठी
घाटलोडिया के रामेश्वर अपार्टमेंट में रहने वाले सुरेश शाह ने हाईकोर्ट में आवेदन दिया कि ध्रुव को-ऑपरेटिव क्रेडिट सोसायटी के चेयरमेन बलदेव पटेल खुद को हाईकोर्ट का जज बताता है। उसने पुलिस की मदद से हमारा फ्लैट सील करवा दिया है। पुलिस भी आरोपी का सचमुच का जज मान बैठी थी। इसलिए उसकी मदद की। हाईकोर्ट ने पुलिस को निर्देश दिया कि सुरेश शाह को तत्काल उनका फ्लैट वापस दिलाया जाए।

COMMENT