राहुल गांधी की सभा / न्याय के लिए मध्यम वर्ग पर बोझ नहीं डालेंगे

Dainik Bhaskar

Apr 16, 2019, 12:49 PM IST



जनसभा को संबोधित करते राहुल गांधी जनसभा को संबोधित करते राहुल गांधी
X
जनसभा को संबोधित करते राहुल गांधीजनसभा को संबोधित करते राहुल गांधी
  • comment

  • फसल बीमा से उद्योगपतियों को फायदा
  • 15 लाख का वादा झूठा था, लेकिन आइडिया अच्छा था 

महुवा (भावनगर). कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने सोमवार काे कहा कि केंद्र में उनकी सरकार बनने पर देश के पांच करोड़ सबसे गरीब परिवारों को सालाना 72 हजार रुपए देने की न्याय योजना को तुरंत लागू किया जाएगा, पर इसके लिए आयकर अथवा मध्यम वर्ग के ऊपर किसी तरह का बोझ नहीं बढ़ाया जाएगा। 


राहुल का दावा
राहुल ने यह भी दावा किया कि इसके लिए विदेश भाग जाने वाले नीरव मोदी, मेहुल चौकसी, विजय माल्या जैसे 'चोरों' की जेब से पैसा निकाला जाएगा। उन्होंने गुजरात के भावनगर जिले के महुवा में एक चुनावी सभा में कहा कि पांच साल पहले देश की जनता ने यह सोचकर कि नरेन्द्र मोदी कुछ करेंगे, उन पर भरोसा दिखाया था। उन्होंने तीन बड़े वायदे- दो करोड़ युवाओं को हर साल रोजगार देने, सबके खाते में 15 लाख रुपए डालने और किसानों को फसल की बेहतर कीमत दिलाने के बारे में किए थे। अब इनकी चर्चा पर भी लोग हंसने लगे हैं। 


फसल बीमा से उद्योगपतियों को फायदा
उन्हाेंने कहा कि जब भी हम गरीबों के लिए कुछ करने की बात करते हैं तो पीएम मोदी पूछते हैं कि पैसा कहां से आएगा। मोदी सरकार ने 10 से 15 बड़े उद्योगपतियों का साढे़ तीन लाख करोड़ का कर्ज माफ कर दिया पर किसानों का ऋण माफ नहीं किया। कांग्रेस ने अपने शासित राज्यों में ऐसा कर दिखाया है। उन्होंने आरोप लगाया कि फसल बीमा योजना से भी अनिल अंबानी और अन्य बड़े उद्योगपतियों को फायदा हुआ है। उनकी सरकार बनने पर किसानों के लिए अलग बजट बनाया जाएगा तथा यह सुनिश्चित किया जाएगा कि किसानों को कर्ज अदायगी न करने के कारण जेल न जाना पड़े।कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि वह मोदी की तरह झूठे वायदे नहीं करेंगे। उन्होंने कहा, 'मै झूठ नहीं बोलूंगा कि 15 लाख रुपए खाते में डालूंगा। अगर उतना डाला तो अर्थव्यवस्था नष्ट हो जाएगी पर उतना जरूर डालूंगा, जिससे ऐसा नहीं हो। मैं दो करोड़ रोजगार की बात नहीं करूंगा पर 22 लाख सरकारी नौकरियां हैं वह हम देंगे। 


15 लाख का वादा झूठा था, लेकिन आइडिया अच्छा था 
राहुल ने कहा कि भले ही 15 लाख रुपए वाला वादा झूठा था पर यह आइडिया अच्छा था। कांग्रेस के अर्थशास्त्रियों और थिंक टैंक से पूछा था कि कितना पैसा देश की अर्थव्यवस्था को नुकसान पहुंचाए बिना सबसे गरीब परिवारों को दिया जा सकता है, तो उन्होंने यह रकम 72000 बताई। 


कर्ज के चलते किसानों को जेल नहीं जाना पड़ेगा
राहुल गांधी ने कहा कि एक तरफ अनिल अंबानी, नीरव मोदी, मेहुल चौकसी और विजय माल्या जैसे अरबपति बैंकों का बड़ा कर्ज नहीं अदा करने के बावजूद जेल में नहीं है तो दूसरी तरफ छोटी रकमों के लिए किसानों को जेल में डाला जा रहा है। यह गलत है। या तो दोनों को जेल होनी चाहिए या किसी को नहीं। कांग्रेस सरकार बनने पर किसानों को कर्ज के चलते जेल नहीं जाना पड़ेगा। उन्होंने आरोप लगाया कि खुद को चौकीदार कहने वाले मोदी असल में अंबानी और अडानी जैसे उद्योगपतियों के चौकीदार हैं, जिन्हें वह सारे संसाधन दे रहे हैं। वह दो तरह का भारत बनाना चाहते हैं। एक 15 से 20 सबसे अमीरों के लिए आसानी से उपलब्ध सभी सुविधाओं वाला और दूसरा जिसमें आम आदमी के लिए बच्चों की पढ़ाई और इलाज भी बेहद महंगे हों। मोदी ने खुद पहल कर राफेल विमान सौदा अनिल अंबानी को दिलाया। 

COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन

किस पार्टी को मिलेंगी कितनी सीटें? अंदाज़ा लगाएँ और इनाम जीतें

  • पार्टी
  • 2019
  • 2014
336
60
147
  • Total
  • 0/543
  • 543
कॉन्टेस्ट में पार्टिसिपेट करने के लिए अपनी डिटेल्स भरें

पार्टिसिपेट करने के लिए धन्यवाद

Total count should be

543
विज्ञापन