गुजरात / आईसीयू में भड़की आग, खुद की परवाह किए बिना नर्स ने 7 नवजात को सुरक्षित बचाया

Fire in ICU of hospital: nurse rescues 7 newborns safely
X
Fire in ICU of hospital: nurse rescues 7 newborns safely

  • एक बच्चे की मां ने कहा- नर्स सोजल उनके लिए भगवान, ताउम्र नहीं भूल सकती एहसान
  • बचाव कार्य के दौरान दरवाजा लॉक होने से नर्स भी फंस गईं थी, फायर ब्रिगेड ने बचाया

दैनिक भास्कर

Aug 28, 2019, 01:51 AM IST

राजपीपला (गुजरात). गुजरात में नर्मदा जिले के राजपीपला सरकारी अस्पताल में मंगलवार को शिशु विभाग के आईसीयू में आग लग गई। इस दौरान यहां 7 नवजात बच्चों का इलाज चल रहा था। आग की परवाह किए बिना ड्यूटी पर तैनात नर्स सेजल वसावा ने सभी बच्चों को एक-एक कर सुरक्षित बाहर निकाल लिया।

 

जब वह आईसीयू में ये देखने गईं कि कोई छूट तो नहीं रहा है, तभी धुएं और आग के चलते बने दबाव की वजह से दरवाजा लॉक हो गया। ऐसे में फायर ब्रिगेड कर्मियों ने खिड़की तोड़ कर सेजल को बचाया।  सेजल ने कहा ‘ईक्यूपीटर के प्लग में अचानक शॉर्ट सर्किट हुआ तो मैंने सभी इलेक्ट्रिक स्विच बंद कर प्लग निकाल दिए लेकिन आग बढ़ने लगी। मेरी आंखों के सामने मशीनों पर रखे 7 नवजात थे। इसलिए मैंने तुरंत एक-एक कर इन नवजात बच्चों को सुरक्षित उनकी मां को सौंप दिया।


एक नवजात की मां शारदादेवी ने कहा कि सेजल ने जिस तत्परता से मेरे बच्चे को बचाया, वह मैं ताउम्र नहीं भूल सकती। मेरे लिए वह भगवान साबित हुई।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना