धर्म / रथयात्रा के लिए असम से 4 हाथियों को ट्रेन से अहमदाबाद लाया जाएगा



प्रतीकात्मक तस्वीर प्रतीकात्मक तस्वीर
X
प्रतीकात्मक तस्वीरप्रतीकात्मक तस्वीर

  • 70 घंटे की यात्रा के बाद पहुंचेंगे
  • शहर की गर्मी हाथियों के लिए असह्य

Dainik Bhaskar

Jun 21, 2019, 04:56 PM IST

अहमदाबाद. 4 जुलाई को रथयात्रा है। इस दिन के लिए असम से चार हाथियों को अहमदाबाद लाया जाएगा। पहले ये हाथी ट्रेन से जगन्नाथ मंदिर पहुंचेंगे। असम से कांग्रेस के सांसद गौरव गोगोई ने इसका विरोध किया है। उनका कहना है कि अहमदाबाद की गर्मी असम के हाथियों के लिए असह्य होगी।


पार्सल वेन का उपयोग होगा
असम के तिनसुखिया से हाथियों को अहमदाबाद लाने के लिए पार्सल वेन का उपयोग होगा। वेन में हाथियों की खुराक और पानी के लिए पूरी व्यवस्था की जाएगी। इसके अलावा एक वेडनरी डॉक्टर काे भी साथ रखा जाएगा। इस संबंध में फारेस्ट विभाग के विशेषज्ञों से जब राय ली गई, तब उनका कहना था कि असम के हाथियों को अहमदाबाद लाया जाना उचित नहीं होगा। क्योंकि अहमदाबाद की गर्मी असम के हाथियों के लिए ठीक नहीं है। इसी बात को लेकर असम के कांग्रेस सांसद ने भी हाथियों को अहमदाबाद लाने का विरोध किया है।
 

पर्यावरण मंत्री को लिखा पत्र
सांसद गौरव गोगोई ने पर्यावरण मंत्रालय को पत्र लिखकर अपील की है कि गुजरात की रथयात्रा में असम के हाथियों का इस्तेमाल न किया जाए। शहर की गर्मी हाथियों को विचलित कर सकती है। हाथियों को यदि अहमदाबाद लाया जाता है, तो उन्हें स्किन इंफेक्शन और डिहाईड्रेशन की शिकायत हो सकती है।
 

6 महीने रहेंगे हाथी
असम के फारेस्ट विभाग ने दो नर और दो मादा हाथी को गुजरात भेजने की औपचारिक कार्यवाही पूरी कर ली है। फारेस्ट कंजरवेटटर रंजन कुमार दास ने इन चारों हाथियों को ट्रेन से भेजने की कवायद शुरू कर दी है। हाथियों को अहमदाबाद पहुंचने में 4 दिन लगेंगे। उसके बाद सभी 6 महीने तक गुजरात में ही रहेंगे।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना