द्वारका / समुद्र से 5.76 मीटर लम्बी 2000 किलो वजनी मृत व्हेल मिली



व्हेेल मछली का मृत शरीर व्हेेल मछली का मृत शरीर
X
व्हेेल मछली का मृत शरीरव्हेेल मछली का मृत शरीर

  • छोटा-सा झींगा बना मौत का कारण
  • मछुआरे व्हेल-शार्क को मानते हैं बेटी

Dainik Bhaskar

Apr 17, 2019, 03:09 PM IST

द्वारका. यहां समुद्र में अनेक समुद्री जीव पाए जाते हैं। व्हेल, शार्क मछलियां भी यहां काफी मात्रा में मिलती हैं। मंगलवार की सुबह मरीन कमांडो और एसआरडी की टीम जब रूटीन पेट्रोलिंग में थी, तब उन्हें बेट द्वारका की खाड़ी से 5.76 मीटर लंबी और 2000 किलो वजनी व्हेल मछली का मृत शरीर मिला।


पानी की सतह पर मिली व्हेल
द्वारका के समुद्र में कई बार ऐसा भी होता है कि मछलियां मछुआरों के हाथ लग जाती है। समुद्री जीवों को बचाने के लिए मरीन कमांडो और एसआरडी की टीम लगातार पेट्रोलिंग करती रहती है। मंगलवार को पेट्राेलिंग के दौरान टीम को सतह पर व्हेेल मछली की डेडबॉडी मिली। तुरंत फारेस्ट अधिकारियों को इसकी सूचना दी गई। फारेस्ट अधिकारियों की टीम ने मृत व्हेल की डेडबाॅडी को ओखा कोस्टगार्ड की कुमकुम जेटी के पास क्रेन की मदद से बाहर निकाला। उसके बाद उसे पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। उल्लेखनीय है कि वन्य प्राणी संरक्षण अधिनियम 1972 से व्हेल एक रक्षित अनुसूची की प्राणी है।


मछुआरे व्हेल-शार्क को मानते हैं बेटी
समुद्र में यदि मछुआरों के जाल में व्हेल फंस जाती है, तो वे जाल को काटकर उसे मुक्त कर देते हैं। वे ऐसा क्यों करते हैं, इसके पीछे कथा वाचक मोरारी बापू की एक प्रेरणास्पद वाणी है। वेरावल में हर साल व्हेल-शार्क डे का आयोजन किया जाता है। सन् 2000 में आयोजित कार्यक्रम में मोरारी बापू पधारे थे। अपने उद्बोधन में उन्होंने व्हेल-शार्क को प्यारी बेटी बताया था। उन्होंने कहा था कि ये बेटियां गर्भधारण के बाद अपने मायके आती हैं। यहां अपनी संतानों को जन्म देती हैँ। इसलिए इन्हें मारना नहीं चाहिए। भला बेटियों को कोई मारता है, विशेषकर उन परिस्थितियों में, जब वह गर्भधारण कर मायके आई हुई हों। तब से मछुआरों ने संकल्प लिया कि वे अब कभी भी व्हेल या शार्क का शिकार नहीं करेंगे।


सांस लेते समय झींगा निगलने से हुई मौत
व्हेल मछली का पीएम कराने पर पता चला कि सांस लेने के दौरान झींगा निगल जाने से व्हेल की मौत हुई है। व्हेल की सांस नली में झींगा पाया गया। जिससे सांस चलनी रूक गई और व्हेल की मौत हो गई। के आर चूड़ासमा, रेंज फारेस्ट अधिकारी 
 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना