मतभेद / भाजपा में अंतर्कलह: आनंदी बेन-अमित शाह के गुट आमने-सामने



कौशिक जैन और धूमिल पटेल की फाइल तस्वीर कौशिक जैन और धूमिल पटेल की फाइल तस्वीर
X
कौशिक जैन और धूमिल पटेल की फाइल तस्वीरकौशिक जैन और धूमिल पटेल की फाइल तस्वीर

  • गुजरात यूनिवर्सिटी सिंडीकेट के चुनाव
  • धूमिल पटेल और कौशिक जैन के बीच होगी जंग

Dainik Bhaskar

Jun 19, 2019, 03:09 PM IST

अहमदाबाद. गुजरात यूनिवर्सिटी की अतिविवादस्पद सिंडिकेट के चुनाव में 13 में से 10 सीटों पर निर्विरोध चुनाव हुए। उसके बाद शेष 3 सीटों के लिए रस्साकसी होगी, यह तय है। इसमें भाजपा के दो नेताओं के बीच जंग होगी। विशेषकर मध्यप्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल के पीए धूमिल पटेल और अमित शाह के करीबी कौशिक जैन के बीच सीधा मुकाबला है।


भाजपा में आंतरिक मतभेद
गुजरात यूनिवर्सिटी के सिंडिकेट के चुनाव में जनरल सेक्रेटरी तीन सीट के लिए पंकज शुक्ला, इंद्रविजय सिंह गोहिल, सतीश पटेल, कौशिक जैन और हसमुख चौधरी मैदान में हैं। इस सीट के लिए सबसे बड़ी जंग कौशिक जैन और धूमिल पटेल के बीच होगी। क्योंकि ये दोनों ही भाजपा में अच्छे पद पर हैं। कौशिक जैन भूतपूर्व कार्पोरेटर के अलावा भाजपा के संगठन मंत्री रह चुके हैं। यही नहीं, लोकसभा चुनाव में वे अमित शाह के सारथी भी बने थे। दूसरी और कौशिक जैन अमित शाह के काफी करीबी हैं।


आनंदी बेन के पीए है धूमिल पटेल
मध्यप्रदेश की राज्यपाल आनंदी बेन पटेल के पीए धूमिल पटेल भी इस चुनाव में हैं। इसके अलावा इस चुनाव में कांग्रेस के नेता इंद्रजीत सिंह गोहिल, भाजपा के आईटी सेल के कन्वीनर पंकज शुक्ला तथा पूर्व सिंडिकेट मेम्बर सतीश पटेल भी लड़ रहे हैं। ऐसे में यह चुनाव भाजपा के आंतरिक मतभेदों को उभारने वाला बताया जा रहा है।
 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना