• Hindi News
  • Local
  • Gujarat
  • He kept calling himself a minor, had brought a certificate from Chhattisgarh, the stakes were upside down

मासूम से दरिंदगी / खुद को नाबालिग बताता रहा, छत्तीसगढ़ से मंगवाया था सर्टिफिकेट, दांव उल्टा पड़ा

पुलिस ने आरोपी प्रदीप को गिरफ्तार किया पुलिस ने आरोपी प्रदीप को गिरफ्तार किया
X
पुलिस ने आरोपी प्रदीप को गिरफ्तार कियापुलिस ने आरोपी प्रदीप को गिरफ्तार किया

  • 100 से अधिक संदिग्धों से हुई थी पूछताछ
  • पड़ोसी युवक ने ही की थी मासूम से दरिंदगी

दैनिक भास्कर

Feb 12, 2020, 11:08 AM IST

वापी. वापी टाउन के एक इलाके में कक्षा 4 में पढ़ाई करने वाली 9 साल की बच्ची से घर में घुसकर दुष्कर्म करने के बाद हत्या करने के बाद बदमाश ने उसे पंखे से लटकाकर फरार हो गया था। इस केस में पुलिस ने इस इलाके में रहने वाले लगभग 100 से अधिक संदिग्धों से पूछताछ की थी। इसमें आरोपी बच्ची के घर के पड़ोस में ही रहने वाला निकला है। मूल छत्तीसगढ़ का 19 वर्षीय आरोपी वापी में पिछले 3 सालों से अपने दोस्तों के साथ रहता था। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर सख्त से सख्त सजा हो इसलिए कार्रवाई शुरू कर दी है।
 

टीवी की आवाज बढ़ाकर किया दुष्कर्म
टाउन इलाके में रहने वाली तथा चौथी कक्षा में पढ़ाई करने वाली सोनू (बदला हुआ नाम) शुक्रवार की दोपहर 2 बजे स्कूल से घर लौटी थी। उस समय उसके माता-पिता और भाई नौकरी पर गए थे। इस दौरान एक शख्स घर में घुस गया और टीवी का आवाज बढ़ाकर आरोपी ने सोनू के साथ दुष्कर्म किया और उसकी गला दबाकर हत्या कर दी। इसके बाद आरोपी ने सोनू के शव को पंखे से लटका दिया और फरार हो गया। घटना के बाद पड़ोसी महिलाओं की सूचना पर टाउन पुलिस के पीआई एसजे बारिया, एलसीबी पीआई डीटी गामित और एसओजी पीएसआई एनटी पुराणी, डीवाईएसपी अपनी-अपनी अलग-अलग टीमों के साथ स्थल पर पहुंचे। 
 

100 लोगों से पूछताछ
जांच के दौरान पुलिस ने इसी इलाके के 100 से अधिक संदिग्ध लोगों से पूछताछ की जिसमें एक संदिग्ध प्रदीप राजेश्वर शाह (19) जो कुछ भी काम नहीं करता था। स्थल पर उसकी हाजिरी होने के बाद आशंका होने पर उससे कड़ी पूछताछ की गई और प्रदीप ने अपना गुनाह कबूल कर लिया। सोमवार को आरोपी प्रदीप को गिरफ्तार करने के बाद पुलिस आगे की जांच कर रही है।
 

आरोपी ने गांव से मंगाया प्रमाणपत्र
आरोपी प्रदीप से पूछताछ करने पर उसने अपनी उम्र 18 वर्ष से कम बताई थी, जबकि पुलिस की एक टीम इसके लिए जब छत्तीसगढ़ पहुंची और उसके स्कूल से प्रमाण पत्र लाई तो उसमें उसकी उम्र 19 साल स्पष्ट हुई है।
 

मानवता भूल गए लोग
वापी की टांकी फलिया में महज 9 साल की मासून बच्ची से हैवानियत बदमाश ने दुष्कर्म कर उसका गला दबाकर हत्या कर दी। इतना ही नहीं अपना जुर्म छुपाने के लिए तथा इसे आत्महत्या का मामला बनाने के लिए वह बच्ची के शव को पंखे से लटकाकर फरार हो गया। इस घटना में पीड़िता के परिवारजनों की वेदना तो हम अनुभव नहीं कर सकते लेकिन इस दु:ख की घड़ी में पीड़ा को कम करने के बजाए कुछ लोगों ने बच्ची के फोटो सोशल मीडिया में वायरल कर मानवता भुला दी है। समाज के ठेकेदार बनकर कई लोगों ने बच्ची का शव और उसकी फाइल तस्वीर को बाकायदा सोशल मीडिया में वायरल कर दी। जिसकी सभ्य समाज की ओर से भर्त्सना की जा रही है।
 

रैलीे स्थगित कर दी
वापी में बच्ची के साथ दुष्कर्म कर हत्या के बाद परिवारजनों सहित इसी इलाके के लोगों ने आरोपी की गिरफ्तारी के लिए कड़ी कार्रवाई की मांग को लेकर सोमवार को वापी में एक रैली का आयोजन किया था। इसलिए सोमवार को दोपहर तक इस इलाके में सैंकड़ों लोग एकजुट भी हो गए थे, लोगों की रैली निकले इससे पहले सोमवार को ही पुलिस द्वारा आरोपी के पकड़े जाने की खबर मिलते ही रैली को स्थगित कर दिया गया।
 

फॉरेंसिक के सभी सबूत जुटाए
9 साल की बच्ची के साथ दुष्कर्म के बाद हत्या करने वाले आरोपी को कड़ी से कड़ी सजा मिले इसके लिए पुलिस ने कार्रवाई शुरू कर दी है। इसके लिए सभी फॉरेंसिक सबूत इकट्ठा हो चुके है। - सुनील जोशी, एसपी, वलसाड

पहले हमाली काम करता था
आरोपी प्रदीप मूल मनेंद्रगढ़ जिला कोरिया (छत्तीसगढ़) का निवासी है और वे बचपन से ही अपना गांव छोड़कर मुंबई के दादर में हमाली काम करता था। 3 साल पहले ही दादर से वापी आकर आरोपी अपने दोस्तों के साथ रहकर छिटपूट काम करता था।
 

घटना के दिन उसी इलाके में था आरोपी
घटना के दिन बच्ची के घर के आसपास कौन-कौन रहने आया है और कौन काम पर गया है तथा कौन काम पर नहीं गया इसकी पुलिस ने जांच की। आरोपी बच्ची के मोहल्ले में ही चक्कर मार रहा था।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना