अपराध / मोबाइल स्नैचर्स का सरगना क्राइम ब्रांच के शिकंजे में

सरगना के पास से चोरी के 131 मोबाइल समेत 11.37 लाख रु. मिले सरगना के पास से चोरी के 131 मोबाइल समेत 11.37 लाख रु. मिले
X
सरगना के पास से चोरी के 131 मोबाइल समेत 11.37 लाख रु. मिलेसरगना के पास से चोरी के 131 मोबाइल समेत 11.37 लाख रु. मिले

  • मशीन से गिनता था रुपए
  • लाखों के मोबाइल बरामद

Dainik Bhaskar

Dec 02, 2019, 04:52 PM IST

सूरत. क्राइम ब्रांच को स्नेचिंग पर लगाम लगाने में बड़ी सफलता मिली है। पुलिस की टीम आरोपियों को पकड़ने के बाद अब आगे की जांच कर रही है और आरोपियों की टीम में रहे अन्य स्नैचर्स की तलाश भी की जा रही है। हाल में क्राइम ब्रांच और उधना पुलिस की टीम ने मिलकर 7 आरोपियों को अलग-अलग इलाकों से गिरफ्तार कर लिया है। जिनके पास से लाखों रुपए के मोबाइल भी पुलिस ने बरामद किए हैं। 


16 स्नेचिंग के मोबाइल भी बरामद
साथ ही 5 थानों में दर्ज 16 स्नेचिंग के मोबाइल भी बरामद किए हैं। सूत्रों के मुताबिक इस मामले के मुख्य सूत्रधार से पुलिस ने पूछताछ की, जिसके बाद बड़ा खुलासा हुआ है। पुलिस ने लगातार एक के बाद स्नेचरों की गिरफ्तारी जारी रखी। जिसके बाद पकड़े गए आरोपियों से जुनैद के बारे में सूचना मिली थी। जिसके बाद पुलिस ने जुनैद को पकड़ा था। साथ ही जुनैद के एक और साथी की सूचना पुलिस को मिली है, लेकिन अभी वो पकड़ा नहीं गया है।

चोरी के 131 मोबाइल मिले तो पुलिस भी चौंक गई
पुलिस ने मुख्य आरोपी जुनैद के घर पर जब छापेमारी की तो उसके घर से 131 अलग-अलग कम्पनी के मोबाइल, एक आई पैड मिलाकर कुल 11.37 लाख के मोबाइल बरामद हुए। इतना ही नहीं, आरोपी के घर से पुलिस ने 13.90 लाख रुपए कैश में बरामद किए। साथ ही आरोपी पैसे गिनने की मशीन भी रखता था। उसे भी पुलिस ने कब्जे में ले लिया है। आगे मोबाइल किस किसको दिए गए हैं, इसकी भी जांच की जा रही है। अलग-अलग छापेमारी की जा रही है।


पहले आईएमईआई नंबर बदल देता, फिर बेचने को देता था
आरोपी जुनैद अलग-अलग स्नेचरों के पास से स्नेचिंग किए हुए मोबाइल खरीदने का काम करता था। जुनैद टेक्निकल मास्टर है, इसलिए मोबाइल का आईएमईआई नंबर तथा जरूरी पार्ट्स बदल देता था। इसके बाद उसे अलग-अलग लोगों के माध्यम से बेचने के लिए देता था। जानकारी के मुताबिक जुनैद की बड़ी टीम है, जो इस काम को करती है और अलग-अलग राज्यों में भी मोबाइल भेजे जाते थे।


सात को पकड़ा, अन्य बदमाशों की तलाश जारी
क्राइम ब्रांच और उधना पुलिस की टीम ने जानकारी के आधार पर अठवा के भागा तलाव इलाके का रहने वाले और जनता मार्केट में दुकान चलाने वाले आरोपी जुनैद उर्फ खारक असलम के घर पर छापेमारी की। फिर बाद एक के एक बाद एक अन्य 6 पकड़ा गए। जिसमें अजहरुद्दीन उर्फ अजर (भेस्तान आवास), सादिक उर्फ जम्बूरा (भेस्तान आवास), कलीम उर्फ कल्लू सलीम शेख (भेस्तान आवास), हसीम खान उर्फ बाबा (भेस्तान आवास) और इरफान उर्फ इप्पू मंसूरी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।
 

ऑटो में और चलती बाइक से छीनते थे
पकड़े गए स्नेचर मुख्य रूप से जुनैद के लिए ही काम करते थे और मोबाइल स्नेचिंग करने के बाद जुनैद कैश में तुरंत पैसे दे देता था। पकड़े गए आरोपी ऑटो में पैसेंजर बैठाकर मोबाइल चुराकर उसे नीचे उतार देते थे। साथ ही रास्ते चलते बाइक सवार का मोबाइल खींच लेते थे और फिर जुनैद को बेच देते थे।
 

मुंबई से जुड़े हैं तार
पुलिस की पूछताछ में पता चला है कि कई ऐसे आरोपी हैं जो जुनैद के लिए मुम्बई में भी काम करते हैं और मोबाइल यहां से मुंबई भेजते थे। वहां से अलग-अलग राज्यों में भी मोबाइल बेचने का काम चल रहा है, इसलिए अब जांच उस दिशा में की जा रही है।
 

]
 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना