चक्रवात / 'महा' 6 नवंबर को गुजरात पहुंचेगा, तूफान और भारी बारिश की चेतावनी

Maha cyclone in Arabian sea likely landfall to gujarat in 6 November night or 7 November morning
Maha cyclone in Arabian sea likely landfall to gujarat in 6 November night or 7 November morning
Maha cyclone in Arabian sea likely landfall to gujarat in 6 November night or 7 November morning
X
Maha cyclone in Arabian sea likely landfall to gujarat in 6 November night or 7 November morning
Maha cyclone in Arabian sea likely landfall to gujarat in 6 November night or 7 November morning
Maha cyclone in Arabian sea likely landfall to gujarat in 6 November night or 7 November morning

  • सौराष्ट्र और दक्षिण गुजरात को प्रभावित करेगा
  • मछुआरों को समु्द्र में न जाने की चेतावनी

दैनिक भास्कर

Nov 04, 2019, 11:46 AM IST

अहमदाबाद. चक्रवात 'महा' 6 और 7 नवंबर की की दरम्यानी रात गुजरात के तट से टकरा सकता है। मौसम विज्ञान विभाग ने रविवार को बताया कि चक्रवात 'महा' के अगले दो दिनों में गुजरात के तटों से टकराने के बाद, अगले 24 घंटों तक तेज बारिश की आशंका है। 
 

मछुआरों को चेतावनी
लैंडफॉल से 6 घंटे पहले यह चक्रवात, गंभीर तूफान में बदल सकता है। इस दौरान हवा की रफ्तार 100 किमी. प्रति घंटे तक रह सकती है। मछुआरों को गुरुवार तक समुद्र में नहीं उतरने की चेतावनी दी गई है। मौसम विज्ञान विभाग के क्षेत्रीय निदेशक जयंती सरकार ने कहा, 'चक्रवात 'महा' अभी दीव से 580 किमी और वेरावल से 550 किमी दक्षिण-पश्चिम में केंद्रित है। बुधवार रात या गुरुवार सुबह तक यह गंभीर तूफान में बदल सकता है। यह द्वारका और दीव के बीच गुजरात के तट से टकरा सकता है।'
 

तटीय इलाकों मे खड़ी सैकड़ों नावें
अरब सागर में बने 'महा चक्रवात' का असर सूरत में होने की आशंका से मछुआरों ने अपना काम बंद कर दिया है। तूफान के कारण हाईअलर्ट समुद्र और किनारे के गांवों में अलर्ट घोषित किया गया है। रक्षाबंधन के बाद मछुआरे समुद्र में मछली पकड़ने के लिए निकलते हैं। इन्हीं दिनों में मछली का व्यापार जोर-शोर से चलता है। 
 

मछुआरों का काम-धंधा ठप्प
प्रशासन ने इस समय मछुआरों को समुद्र में बोट ले जाने से रोक रखा है। इससे दक्षिण गुजरात के उभराट, वासी, बोरसी, दांती, बोरसी माछीवाड, नवसारी के सामापोर, दांडी, मटवाड, ओंजन माछीवाड और कृष्णपुर गांव के मछुआरों उनका काम-धंधा ठप पड़ गया है। मछुआरों ने अपनी नाव समुद्र किनारे पर खड़ी कर दी है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना