सूरत / नशे में धुत युवक ने चढ़ा दी ऑडी कार एक युवक की ऑन स्पॉट डेथ



पुलिस की गिरफ्त में आरोपी पुलिस की गिरफ्त में आरोपी
X
पुलिस की गिरफ्त में आरोपीपुलिस की गिरफ्त में आरोपी

  • गंभीर रूप से घायल अस्पताल में
  • ऑटो को 20 फीट तक घसीटा

Dainik Bhaskar

Sep 02, 2019, 12:09 PM IST

सूरत. शराब के नशे में धुत्त होकर तेज रफ्तार में ऑडी कार चला रहे एक युवक ने डुमस रोड पर मगदल्ला डॉक तीन रास्ते के पास शनिवार रात करीब 11 बजे सड़क पर खड़े युवक और एक ऑटो पर कार चढ़ा दी। युवक की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि ऑटो ड्राइवर गंभीर घायल हो गया, जिसे अस्पताल में भर्ती कराया गया। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। 


न्यायिक हिरासत में भेजा
कोर्ट ने उसे न्यायिक हिरासत में भेज दिया। ऑटो में बैठी आरोपी की मंगेतर और एक अन्य युवक हादसे के बाद भाग गए। कार चालक 24 वर्षीय सागर प्रवीण शिंगला गोपीनाथ नगर के बी -12 में रहता है और मोटा वराछा में मोबाइल की दुकान है। 31 अगस्त को सागर अपनी मंगेतर तथा एक दोस्त के साथ डुमस चौपाटी घूमने गया था। कार में ही उसने नशा किया था। कार में शराब से भरा गिलास भी मिला। सड़क किनारे मूल राजस्थान के बाड़मेर और मुंबई में रहने वाले जीतेन्द्र माली बाइक पार्क कर मोबाइल पर बात कर रहे थे। आरोपी सागर ने बाइक को टक्कर मार दी। जीतेन्द्र के सिर पर कार चढ़ाकर भागने के प्रयास में सामने खड़े ऑटो को टक्कर मार दी, जो पास की ईको कार से टकरा गई। ऑटो चालक सुनील आहिर भी घायल हो गया। ऑडी कार बुरी तरह से टूट जाने से चलने की हालत में नहीं थी। सागर को लोगों ने पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया। ऑटो चालक सुनील को 108 पर फोन कर अस्पताल ले जाया गया। 


बहन से मिलने मुंबई से आया था जितेंद्र
मृतक जितेंद्र माली मुम्बई से बहन और जीजा से मिलने सूरत आया था। मगदल्ला बंदरगाह पर उसके जीजा की एक किराने की दुकान है। जितेंद्र माली ने अपनी बाइक मगदल्ला बंदरगाह के पास सड़क के किनारे खड़ी की और उस पर बैठकर मोबाइल पर बात कर रहा था जब घटना हो गई। जांच अधिकारी पीएसआई आरके देसाई ने बताया कि हमने कार के ड्राइवर को गिरफ्तार कर लिया है। 


... तो मैं भी मारा जाता 
मगदल्ला बंदरगाह के पास मेरा ऑटो बंद हो गया था। सुनील अपना ऑटो खड़ा कर मेरी मदद के लिए आया। सुनील ने मुझे नारियल का तेल लाने दुकान भेजा। मैं लौटा तो उसने दोबारा भेज दिया। तभी ऑडी चालक ने मेरा रिक्शा उड़ा दिया और 20 फीट तक घसीटकर ईको कार को टक्कर मार दी। अगर मैं वहां होता तो मैं भी मारा जाता। भगवान ने मुझे बचाया है। मेरी मदद कर रहा दोस्त सुनील अभी अस्पताल में जीवन और मृत्यु के बीच लड़ रहा है। कार में शराब का गिलास था, कार में एक अन्य व्यक्ति और और युवती भी थी। प्रत्यक्षदर्शी अनिल अलतरी

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना